CM योगी ने गोरखपुर को दी बड़ी सौगात, फर्टिलाइजर कारखाना परिसर में रखी सैनिक स्‍कूल की आधारशिला 

CM योगी ने गोरखपुर को दी बड़ी सौगात, फर्टिलाइजर कारखाना परिसर में रखी सैनिक स्‍कूल की आधारशिला 

CM योगी ने गोरखपुर को दी बड़ी सौगात, फर्टिलाइजर कारखाना परिसर में रखी सैनिक स्‍कूल की आधारशिला 

लखनऊ: मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने शुक्रवार को गोरखपुर (Gorakhpur) को एक बड़ी सौगात दी. CM योगी ने फर्टिलाइजर कारखाना परिसर में विधि-विधान से पूजा अर्चना कर सैनिक स्‍कूल (Sainik School Gorakhpur) की आधारशिला रखी. इस दौरान डिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा और गोरखपुर के कई जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे. गोरखपुर में सैनिक स्कूल खुलना पूर्वांचल के लोगों के लिए एक सपना जैसा था, जिसमें मुख्यमंत्री योगी ने हकीकत के रंग भर दिए. 

50 एकड़ में बनेगा नया सैनिक स्कूल: 
गोरखपुर में बनने वाला सैनिक स्कूल 50 एकड़ में बनेगा, जिसमें 150 करोड़ की लागत आएगी. यह प्रदेश का पांचवां सैनिक स्कूल होगा. युवाओं को शिक्षा, देश की रक्षा के उद्देश्य से शुरू हो रहे इस स्कूल में कक्षा 6 से 12 तक छात्र-छात्राओं को आवासीय व्यवस्था के तहत शिक्षा प्रदान की जाएगी. छात्र-छात्राओं के लिए अलग-अलग कैंपस होगा.

सेना के जाबांजों के नाम से होगा कैंपस:
सैनिक स्कूल का प्रशासनिक भवन प्राचीन भारतीय संस्कृति व परंपरा का दर्शन कराने वाला होगा. मुख्यमंत्री योगी की मंशा है कि सैनिक स्कूल के परिसर का माहौल ऐसा हो जो छात्र-छात्राओं में राष्ट्रभक्ति का जज्बा भरता रहे. सीएम के निर्देशों के अनुरूप यहां बनने वाले हॉस्टल राष्ट्र नायकों के नाम समर्पित होंगे. साथ ही कैम्पस के अलग अलग स्थानों का नामकरण सेना के जाबांजों के नाम पर किया जाएगा.

पूरा कैंपस CCTV से होगा लैस:
कैम्पस में बागवानी, जैविक खेती व गोशाला की भी व्यवस्था होगी. सैनिक स्कूल के निर्माण में पर्यावरण संरक्षण का भी पूरा ध्यान रखा जाएगा. यहां सभी भवनों में सोलर सिस्टम और रेन वाटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था की जाएगी. क्लास रूम, हॉस्टल के अलावा मल्टीपरपज हॉल, प्रेक्षागृह भी बनाया जाएगा. सुरक्षा और अनुशासन पर नजर रखने के लिए पूरा कैम्पस सीसीटीवी कैमरों से कवर रहेगा. 

खेल-कूद को भी दिया जाएगा महत्व:
सैनिक स्कूल के कैंपस में छात्रों की खेल प्रतिभा को भी निखारा जाएगा. यहां के स्टूडेंट्स को फुटबाल, वॉलीबाल, बास्केटबाल, घुड़सवारी, शूटिंग रेज, जिम्नास्टिक, तैराकी, टेनिस, दौड़ आदि खेलों के लिए प्रशिक्षण मिलेगा. इनसे संबंधित ट्रैक व कोर्ट भी होंगे. इन सबके अलावा कैंपस में 50 गायों की गौशाला भी होगी.

क्या है सैनिक स्कूल?
वर्तमान में देशभरर में कुल 33 सैनिक स्कूल संचालित हो रहे हैं. इनका संचालन रक्षा मंत्रालय (Defence Ministry) के अधीन सैनिक स्कूल्स सोसायटी (Sainik Schools Society) द्वारा किया जाता है. वहीं, यूपी में फिलहाल झांसी, मैनपुरी और अमेठी जिले में सैनिक स्कूल चलाए जा रहे हैं. इसके अलावा एक सैनिक स्कूल बागपत में प्रस्तावित है. इसके अलावा राजधानी लखनऊ में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा एक सैनिक स्कूल संचालित किया जा रहा है. 

और पढ़ें