VIDEO: रोडवेज में मितव्ययता बरतने के लिए सीएमडी नवीन जैन ने जारी किया सर्कुलर

जयपुर: कोरोना और लॉक डाउन के कारण राजस्थान रोडवेज की हालत इन दिनों बहुत खराब है. बसों का संचालन शुरू होने के बाद भी रोडवेज की वित्तीय स्तिथि नहीं सुधर पा रही है. मुश्किल समय को देखते हुए अब रोडवेज सीएमडी नवीन जैन ने रोडवेज में मितव्ययता बरतने के लिए एक सर्कुलर जारी किया है. 

VIDEO: हाउसिंग बोर्ड ने धमाकेदार परफॉर्मेंस से अपना ही विश्व रिकॉर्ड तोड़ा, 12 दिन में ही 1213 आवासों की नीलामी   

रोडवेज में आर्थिक संकट गहरा गया: 
कोरोना और लॉक डाउन के कारण राजस्थान रोडवेज का संचालन 3 महीने से अधिक समय तक बंद रहने से रोडवेज में आर्थिक संकट गहरा गया है. हालात ऐसे है कर्मचारियों को वेतन भत्ते देने में भी रोडवेज को जोर आ रहा है. रिटायर्ड हो चुके कार्मिकों का भुगतान भी समय पर करना संभव नहीं हो पा रहा है. इसे देखते हुए रोडवेज सीएमडी ने तमाम ख़र्चों पर पाबंदी लगाने का सर्कुलर जारी किया है. रोडवेज सीएमडी ने सर्कुलर में निर्देश दिए हैं कि रोडवेज में अनावश्यक खर्चों पर हर हाल में पाबंदी लगाई जाए. 

देखिए क्या रहेंगी रोडवेज में पाबंदियां: 

1. भोजन सत्कार, अल्पहारों, मनोरंजन और सेमीनार के आयोजन पर पूर्णरूप से बंद रहेगा, साधारण रूप से ही कार्य होंगे. 

2. रोडवेज के अधिकारी—स्टाफ कार पर नकेल कसते हुए रोडवेज बसों में सफर करने के निर्देश जारी किए. कार्य क्षेत्र के बाहर यात्रा करने पर जहां तक संभव हो बस से ही यात्रा करे. 

3. रोडवेज कार्यालय व आवास पर निर्धारित मापदंडों से अधिक टेलिफोन—एसटीडी का उपयोग नहीं करने के निर्देश. 

4. रोडवेज के कार्यालयों में अधिकारी व कर्मचारी बिजली खर्च पर भी अंकुश करे. कार्यालय, इकाई पर निर्धारित समय से पूर्व, लंच के समय और कार्यालय समय पश्चात अनावश्यक बिजली का उपयोग नहीं हो. कार्यालय खाली रहने पर बिजली उपकरणों के स्वीच बंद रखे. 

5. निगम का वाहन डीजल औसत में बस एवं मार्ग की दैनिक रूप से मोनेटरिंग कि जाए. रोडवेज चालकों को प्रोत्साहन और अनुशासनात्मक कार्रवाई निश्चत करे. 

6. सडक दुर्घटनाओं में दोषी पाए जाने पर चालकों के विरूद्ध तुरंत कार्रवाई कर एक महीने इनका निस्तारण किया जाए. 

7. रोडवेज वाहनों के रख रखाव की जांच के बाद ही वाहन की ग्रुप प्रभारी लॉगशीट पर हस्ताक्षर के बाद ही वाहन मार्ग पर भेजी जाए. इसके बाद भी वाहन संचालन पर ब्रेक डाउन होते है तो ग्रुप प्रभारी की जिम्मेदारी होगी. 

8. कार्यशाला से वाहन समय अवधि पर निकलना ताकि रूटों पर पडने वाले स्टैंडों पर यात्रियों को समय पर बसें मिल सके ताकि यात्रीभार 100 प्रतिशत किया जाए. 

9. कम आय देने वाले मार्गो की समीक्षा कर कैसे आय बढाई जा सके. 

10. अधिक किलोमीटर संचालन के अंतर्गत समान्तर संचालन को रोका जाए. 

11. सरप्लस स्टाफ की सूचना मुख्यालय पर दी जाए ताकि अन्य जगहों पर तैनाती की जाए. 

12. कर्मचारी के बकाया भुगतान के रिकॉर्ड की जांच कर ही जारी किया जाए. 

13. एमएसीटी केसो पर विधि विभाग अलग से दिशा निर्देश जारी कर लोक अदालतों का आयोजन कर खर्चो को कम किया जाए. 

14. कोरोना काल में वाहनों का संचालन कम होने से रोडवेज के विभिन्न डिपो कार्यशालाओं के बाहरी कार्यो को बंद करे. विभागाध्यक्ष की अनुमति पर कार्य करे. 

बंगला खाली करने के नोटिस के बाद लखनऊ शिफ्ट होंगी प्रियंका गांधी, हो चुकी व्यवस्था !  

पहले से घाटे में चल रही रोडवेज की परेशानियों को कोरोना ने और बढ़ा दिया है. कोरोना की गाइडलाइंसन के कारण सीमित सवारियां ही लेने के निर्देश भी रोडवेज पर भारी पड़ रहे हैं. बसों के संचालन के बाद भी रोडवेज की आर्थिक स्तिथि ठीक होती नहीं दिख रही है. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए शिवेंद्र परमार की रिपोर्ट

और पढ़ें