CRPF ने किया बदले का ऐलान, कहा - हमले को ना भूलेंगे, ना माफ करेंगे

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/15 02:52

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में अवंतिपोरा के पास कल सीआरपीएफ के काफिले पर हुए फिदायिन हमले में देश के 40 वीर जवानों ने अपने प्राणों की आहुति दी है। इस हमले को लेकर अब पूरे देश में आक्रोश दिखाई दे रहा है, वहीं शहीदों के परिवारों में मातम पसरा हुआ है। इस हमले ने किसी से उसका बेटा छीना है, तो किसी बच्चे से उसका पिता, कहीं किसी बहिन ने अपना भाई खोया है, तो कहीं किसी सुहागिन की मांग की सिंदूर उजड़ गया है। ऐसे में अब पूरा देश यही कह रहा है कि, 'बस, अब बहुत हो गया। अब न आंसू चाहिए, न निंदा और न ही कोई संवेदना। शहीदों को इस हमले का जवाब चाहिए, वो भी करारा।'

पुलवामा हमले को लेकर आक्रोश का जो आलम पूरे देश में दिखाई दे रहा है, वही गुस्सा अब सेना के जवानों में भी नजर आ रहा है। इस हमले में शहीद होने वाले देश के अमर जवानों की शहादत को सैल्यूट करते हुए केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने इस हमले का करारा जवाब देने और बदला लेने की बात कही है। माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर सीआरपीएफ ने अपने ऑफिशियल हैंडल पर लिखा है कि, 'ना हम भूलेंगे और ना ही माफ करेंगे। पुलवामा हमले के शहीदों को हम सलाम करते हैं और अपने शहीद भाइयों के परिवारों के साथ खड़े हैं। इस जघन्य हमले का बदला लिया जाएगा।'

गौरतलब है कि इस हमले को लेकर आज सुबह ही केन्द्रीय मंत्रिमंडल में सुरक्षा मामलों की समिति (सीसीएस) की बैठक आयोजित की गई। करीब 1 घंटे तक चली बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा रक्षा मंत्री, गृह मंत्री, विदेश मंत्री और वित्त मंत्री, एनएसए, सेना प्रमुख मौजूद रहे। बैठक के बाद केबिनेट मंत्री अरुण जेटली ने बताया कि सरकार ने बैठक में कई ऐसे फैसले किए गए हैं, जिनकी जानकारी सार्वजनिक मंच पर नहीं दी जा सकती। हालांकि उन्‍होंने बताया कि पाकिस्तान को अलग-थलग करने के लिए विदेश मंत्रालय सभी कदम उठाएगा। कड़े कदम उठाते हुए पाकिस्तान को मोस्ट फेवर्ड नेशनल का दर्जा खत्म किया जाता है।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस आतंकी हमले को लेकर पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान को कड़ा संदेश देते हुए कहा कि आतंकी संगठन और उनके सरपरस्त बहुत बड़ी गलती कर गए हैं और इसके गुनाहगारों को उनके किये की सजा जरूर मिलेगी। उन्होंने कहा कि, 'मैं देश को भरोसा दिलाता हूं कि हमले के पीछे जो ताकतें हैं, इस हमले के जो भी गुनहगार हैं, उन्हें उनके किए की सज़ा अवश्य मिलेगी। पूरे विश्व में अलग-थलग पड़ चुका हमारा पड़ोसी देश अगर यह समझता है कि जिस तरह के कृत्य वह कर रहा है, जिस तरह की साजिशें कर रहा है, उससे भारत में अस्थिरता पैदा करने में सफल हो जाएगा, तो वह बहुत बड़ी भूल कर रहा है।'

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in