व्याख्याता परीक्षा की तिथि बढ़ाने की मांग कर रहे अभ्यर्थियों ने मंत्री डोटासरा पर लगाए कई आरोप

व्याख्याता परीक्षा की तिथि बढ़ाने की मांग कर रहे अभ्यर्थियों ने मंत्री डोटासरा पर लगाए कई आरोप

व्याख्याता परीक्षा की तिथि बढ़ाने की मांग कर रहे अभ्यर्थियों ने मंत्री डोटासरा पर लगाए कई आरोप

जयपुर: प्रथम श्रेणी स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा की तिथि को आगे बढ़ाने की मांग को लेकर उपजा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. आंदोलन कर रहे अभ्यर्थियों ने आज सांसद किरोड़ीलाल मीना के आवास पर प्रेसवार्ता की. प्रेसवार्ता में अभ्यर्थियों ने शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा पर कई आरोप लगाए. 

दरअसल अभ्यर्थियों का कहना था कि 23 दिसम्बर को शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने अपने आवास पर बुलाकर उनका अनशन तोड़ने की जबरन की कोशिश की. अभ्यर्थी असलम चौबदार ने डोटासरा पर धमकाने का आरोप लगाते हुए सवाल किया कि आखिर शिक्षा मंत्री का ऐसा क्या स्वार्थ है कि वे घोषित तिथि पर ही परीक्षा कराने पर तुले हुए हैं. 

बता दें कि कल राज्य सरकार ने साफ कर दिया कि व्याख्याता परीक्षा की तारीख नहीं बढ़ेगी. सीएमओ में मुख्यमंत्री गहलोत, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा व किरोड़ीलाल मीणा की मीटिंग के बाद यह फैसला हुआ कि 2 वर्षों से अध्ययनरत लाखों अभ्यर्थियों के हितों के मद्देनजर पांच हजार पदों की व्याख्याता भर्ती परीक्षा का आयोजन नियत तिथि पर ही किया जाए. 

और पढ़ें