गाड़िया लोहार की बेटी हथोड़े से पहुंची हॉकी तक, किया नाम रोशन

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/01/30 08:38

अलवर। जिले में गाड़िया लोहार परिवार की बच्ची राजस्थान महिला हॉकी टीम की कप्तान बन कर नाम रोशन कर रही है । अंजली नाम की इस बालिका ने एक शिक्षक के कहने से हथोड़े थामने वाले हाथों में हॉकी थमी ओर राष्ट्रीय स्तर पर नाम कमा रही है।

अलवर शहर से लगता हुआ इलाका है खुदनपुरी जहां कभी यूआईटी ने कुछ गाड़िया लोहार परिवारों को छोटे भूखण्ड अलॉट किए थे। वहीं बाकी परिवारों के साथ त्रिपाल में यह बालिका रहती है । राजकीय स्कूल में पढ़ाई के दौरान शारीरिक शिक्षक बिजेंद्र सिंह ने बालिका को हॉकी खेलने के लिए प्रेरित किया। हालांकि पहले तो बालिका ने मना कर दिया और कहा कि उनके परिवार में ऐसी रीत नहीं है लेकिन बाद में परिवार जन मान गए और फिर अंजलि ने जो खेलना शुरू किया तो दूसरे बच्चों के लिए नजीर बन गई ।

पिछले दिनों हरियाणा के हिसार में आयोजित हुई राष्ट्रीय जूनियर महिला हॉकी प्रतियोगिता में अंजली ने राजस्थान की टीम का प्रतिनिधित्व किया और टीम ने कई अच्छी टीमों को हराकर छठे स्थान प्राप्त किया। लेकिन इससे पहले राजस्थान के बारां में आयोजित हुई राज्य महिला हॉकी प्रतियोगिता में अंजली की टीम ने तीसरा स्थान प्राप्त कर ब्रॉन्ज मेडल लिया। अंजली गोलकीपर है उसको तराशने वाले गुरु कहते हैं कि वह मजबूत और निडर है इसलिए गोलकीपिंग करने के लिए मैंने उसे तैयार किया। वह इंटरनेशनल खिलाड़ी बनना चाहती है जिसके लिए हम कोशिश कर रहे हैं। अंजलि के परिवार की आर्थिक हालत अच्छी नहीं है लेकिन बावजूद उसके उसकी मेहनत रंग ला रही है। शिक्षक उसके किट के लिए व्यवस्था करते हैं । खेल के साथ साथ पिछड़े समाज से आने वाली अंजली लूहार नाम रोशन कर रही है।

आर्थिक तंगी, समाज के पिछड़ेपन, घर में सुविधाओं का न होना समेत कितने ही बहाने ऐसे होते हैं जो आगे बढ़ने से रोकते हैं। लेकिन अंजलि लूहार के सपने समस्याओं से बड़े हैं इसलिए सफलता उसके कदम चूम रही है। अब अंजलि को देखकर गाड़िया लुहार परिवारों के दूसरे बच्चे भी स्कूल जाने के साथ साथ खेलों में भी रूचि दिखाने लगे हैं।
अश्विनी यादव फर्स्ट इंडिया न्यूज

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in