निजी समाचार चैनल के संवाददाता पर मुकदमा: पत्रकारों ने किया विरोध

निजी समाचार चैनल के संवाददाता पर मुकदमा: पत्रकारों ने किया विरोध

निजी समाचार चैनल के संवाददाता पर मुकदमा: पत्रकारों ने किया विरोध

बहराइच (उत्तर प्रदेश): बहराइच शहर में एक निजी समाचार चैनल के स्थानीय संवाददाता के खिलाफ कथित फर्जी मुकदमा दर्ज कराए जाने का आरोप लगाते हुए बड़ी संख्या में पत्रकारों ने सड़कों पर उतर कर प्रदर्शन किया और कोतवाल के निलंबन की मांग की. 

अनिश्चितकालीन धरने पर बैठने की बात पर अड़े पत्रकार:
पत्रकारों के प्रतिनिधियों ने जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक से मुलाकात की और ज्ञापन देकर प्रशासन को अल्टीमेटम दिया कि 24 घंटे के अंदर अगर नगर कोतवाल मधुप नाथ मिश्र के निलंबन और विवेचक को बदलने की कार्रवाई नहीं हुई तो पत्रकार अनिश्चित कालीन धरने पर बैठ जाएंगे. श्रमजीवी पत्रकार यूनियन की बहराइच इकाई के अध्यक्ष वीरेंद्र श्रीवास्तव ने बुधवार को बताया कि नगर कोतवाल मधुप नाथ मिश्र की दरगाह थाने में पूर्व में तैनाती के दौरान एक निजी चैनल के पत्रकार सलीम सिद्दीकी ने एक मामले में कोतवाल की वरिष्ठ अधिकारियों से शिकायत की थी. इस कारण कोतवाल उनसे व्यक्तिगत रंजिश रखते थे. कोतवाली नगर में तैनाती के दौरान मौका पाते ही मिश्र ने इसी माह वक्फ की जमीन पर कब्जे के एक मामले में फर्जी रूप से सलीम का नाम दर्ज करा दिया. 

यूनियन अध्यक्ष ने बताया कि इसके विरोध में पांच दिन पहले यूनियन का एक प्रतिनिधिमंडल जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक से मिला था लेकिन कार्रवाई नहीं होने पर विभिन्न पत्रकार संगठनों से जुड़े प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व पोर्टल मीडिया के सैकडों पत्रकारों ने मंगलवार को सड़कों पर उतर कर कोतवाल के निलंबन की मांग की. जिलाधिकारी दिनेश चन्द्र ने बताया कि पत्रकार के खिलाफ दर्ज मामले की जमीन संबंधी जांच मुख्य राजस्व अधिकारी को दी गयी है. उन्होंने बताया कि पुलिस अधीक्षक ने सलीम पर दर्ज अपराधिक मुकदमे की जांच कोतवाली नगर से हटाकर अपराध शाखा को दे दी है. पत्रकार संगठन के प्रतिवेदन की जांच उप पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारी कर रहे हैं.सोर्स-भाषा
 

और पढ़ें