Live News »

मृतक व्यक्ति को पट्ठा दिए जाने से जुड़ा गंभीर मामला, नगरपालिका चेयरमैन और  तत्कालिक ईओ के खिलाफ मामला दर्ज 

मृतक व्यक्ति को पट्ठा दिए जाने से जुड़ा गंभीर मामला, नगरपालिका चेयरमैन और  तत्कालिक ईओ के खिलाफ मामला दर्ज 

सूरजगढ़ (झुंझुनूं): झुंझुनू जिले के सूरजगढ़ नगरपालिका चेयरमैन सुरेंद्र चेतीवाल एक बार फिर विवादों में घिरते नजर आए है. उन पर मृतक व्यक्ति को पट्टा जारी करने का नया विवाद सामने आया है. इसको लेकर नगरपालिका के वाइस चेयरमेन राजकुमार गोदारा ने चेयरमेन सुरेंद्र चेतीवाल के खिलाफ सूरजगढ़ थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है.आपको बता दे कि वाइस चेयरमैन राजकुमार गोदारा ने चेयरमैन सुरेंद्र चेतीवाल और  तत्कालिक ईओ राघव सिंह मीणा के खिलाफ मामला दर्ज कराते हुए बताया की चेयरमैन और ईओ ने गौरीशंकर सोनी नाम के व्यक्ति को पट्टा जारी किया.

भरतपुर सेवर सेंट्रल जेल पर फिर लगा सवालिया निशान, गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के बैरक से मिले 2 मोबाइल, एक ब्लूटूथ और 2 सिम

चार साल बाद 2016 में दे दिया मृतक गौरीशंकर को पट्टा:
राजकुमार गोदारा ने बताया कि लोटिया निवासी गौरीशंकर सोनी का एक प्लॉट सूरजगढ़ नगरपालिका क्षेत्र में है. जिसका पट्टा लेने के लिए उन्होंने 2010 में आवेदन किया था. लेकिन उस आवेदन का 2016 तक कुछ नहीं हुआ. इसके बाद चेयरमैन सुरेंद्र चेतीवाल और तत्कालीन ईओ राघव मीणा ने यह पट्टा जारी कर दिया. अब इसमें चौंकाने वाली बात यह है कि जिस व्यक्ति गौरीशंकर सोनी ने 2010 में आवेदन किया था. उनकी 2012 में मृत्यु हो गई. उसके चार साल बाद चेयरमेन और ईओ ने नियम कायदों को ताक पर रखते हुए 2016 में मृत व्यक्ति को पट्टा जारी कर दिया.

एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू:
आपको बता दे की सूरजगढ़ नगरपालिका में जब राघव मीणा ईओ थे. तब चेयरमैन सुरेंद्र चेतीवाल ने कई फर्जी पट्टे जारी किए है. एक पूर्व के पट्टे से जुड़े मामले में ना केवल चेयरमैन और ईओ, बल्कि अन्य लोगों के खिलाफ एसीबी में अपराध प्रमाणित हो चुका है. थाना अधिकारी सुरेंद्र मलिक ने बताया कि चेयरमैन सुरेंद्र चेतीवाल, तत्कालीन ईओ राघव सिंह मीणा के विरुद्ध नगरपालिका उपाध्यक्ष राजकुमार गोदारा ने रिपोर्ट दी हैै. एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है. 

सादुलपुर SHO विष्णुदत्त आत्महत्या प्रकरण, CBI जांच की मांग पर अड़े उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ और सांसद राहुल कस्वां

और पढ़ें

Most Related Stories

झुंझुनूं में चौथी बार टिड्डी दल का हमला, फसलों को हुआ नुकसान, किसान परेशान 

झुंझुनूं में चौथी बार टिड्डी दल का हमला, फसलों को हुआ नुकसान, किसान परेशान 

सुल्ताना: झुंझुनूं में इस समय टिड्डियां किसानों के लिए सबसे बड़ी मुसीबत बनी हुई है. कोरोना की पहले से मार झेल रहे किसानों की फसलों पर इस समय आसमान में उड़ते आतंकि लगातार कहर बरपा रहे है. जिसकी वजह से किसानों की की नींद उड़ी हुई है. जिले में बीते सात दिन में टिड्डियों ने तीसरी बार हमला बोला है.

पीएम मोदी का राष्ट्र के नाम संबो​धन, कहा-80 करोड़ लोगों को नवंबर तक मिलेगा मुफ्त अनाज

फसलों और बगीचों को पहुंचाया नुकसान:
मंगलवार दोपहर को करीब एक किलोमीटर लंबे टिड्डी दल ने सोलाना, क्यामसर, किशोरपुरा, श्री अमरपुरा,किठाना,घरडाना,मानोता, चिड़ासन ,लोयल और आसपास के गांवों में खेतों में खड़ी फसल पर हमला बोला. टिड्डियों ने खेतों में खड़ी बाजरे,मूंगफली,कपास ,चारे की फसल और बगीचों में नुकसान पहुंचाया हैं.

फसलों को बचाने के लिए किसानों का प्रयत्न जारी:
टिड्डियों से फसलों को बचाने के लिए किसान खेतों में पीपा,परात, थाली और पटाखे बजाकर ध्वनि करते हुए फसलों को बचाने की जद्दोजहद करते नजर आए. जिले में लगातार टिड्डी दल के हमले से किसान चिंतित है. एक सप्ताह में तीन बार टिड्डी दल के हमले की सूचना के बावजूद कृषि विभाग द्वारा टिड्डियों के नियंत्रण के लिए प्रभावी कदम नहीं उठाए गए जिसके कारण किसानों को अपने स्तर पर ही फसलों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं.

अखबार और आर्टिकल पढकर नहीं करें जिला जज अपने फैसले, राजस्थान हाईकोर्ट की सवाई माधोपुर पोक्सो कोर्ट जज के खिलाफ सख्त टिप्पणी

सुल्ताना में एक खेत में अधेड़ ने की आत्महत्या, थानाधिकारी के नाम छोड़ा सुसाइड नोट

सुल्ताना में एक खेत में अधेड़ ने की आत्महत्या, थानाधिकारी के नाम छोड़ा सुसाइड नोट

सुल्ताना: झुंझुनूं के सुल्ताना कस्बे में किठाना रोड पर एक खेत में अधेड़ के शव की सूचना के बाद सनसनी फैल गई. पास के खेत में काम करने वाले लोगों ने सुल्ताना चौकी को इसकी सूचना दी जिसके बाद सुल्ताना चौकी से एएसआई ओमप्रकाश भांबू मौके पर पहुंचे. पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट और एक बोतल मिली. जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया.

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 5 मौत, 175 नए पॉजिटिव केस, बीकानेर में सर्वाधिक 44 नए पॉजिटिव मरीज मिले 

शव का कराया पोस्टमार्टम:
सुसाइड नोट के आधार पर अधेड़ की पहचान सुल्ताना निवासी उम्मेद सिंह राजपूत के रूप में हुई. सुल्ताना पुलिस ने परिजनों को इसकी सूचना दी. पुलिस की सूचना के बाद परिजन मौके पर पहुंचे. पुलिस ने परिजनों को सुसाइड नोट की जानकारी दी. मामले की गंभीरता को देखते हुए चिड़ावा थानाधिकारी लक्ष्मीनारायण सैनी घटनास्थल पहुंचे और जानकारी ली. परिजनों ने बताया कि उम्मेद सिंह एक कम्पनी में गार्ड का काम करता है और मार्च माह में अपने पुत्र की शादी में सुल्ताना आया था. पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया है.

सुसाइड नोट खोलेगा राज:
मृतक ने थानाधिकारी के नाम एक सुसाइड नोट छोड़ा है. मृतक हिंडाल्को कंपनी में गार्ड का काम करता था. पुलिस को एक अन्य सुसाइड नोट में किस दवा का सेवन किया गया है उसकी जानकारी मिली है.

मन की बात में बोले पीएम मोदी, लद्दाख में भारत की भूमि पर आंख उठाकर देखने वालों को मिला करारा जवाब

दो पक्षों में आपसी रंजिश को लेकर मारपीट, हमलावरों ने फॉर्च्यूनर गाड़ी को पत्थरों से किया चकनाचुर

दो पक्षों में आपसी रंजिश को लेकर मारपीट, हमलावरों ने फॉर्च्यूनर गाड़ी को पत्थरों से किया चकनाचुर

बिसाऊ(झुंझुनूं): जिले के बिरमी गांव में मारपीट की घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस को पत्थरबाजी का सामना करना पड़ा. घटना में सात लोगों सहित एक सिपाई के भी चोट आई. थानाधिकारी रिया चोधरी ने बताया कि गांव बिरमी में दो जनों के बिच किसी बात को लेकर विवाद था देर शाम को पारपीट के लिये बाहर से लोगों को भी बुलाया गया. टेलीफोन से सूचना मिली कि बिरमी गांव में आपसी दो पक्षों में झगड़ा हो रहा है और बाहर से भी 15 से 20 लोग बुला रखे हैं और गांव में रह रहे एक बिहारी के साथ मारपीट कर रहे हैं. सूचना पर जाप्ते के साथ मौके पर पहुंची वहां देखा तो गांव के चोक में 50 से 60 लोग इकट्ठे हो रहे थे उनसे बात की तो उन्होंने बताया की बाहर से लोग 15 से 20 आए हैं और मारपीट कर रहे हैं और बिहारी के हाथ पाव तोड़ दिए हैं और खेतों की तरफ चले गए हैं.

दिल्ली-NCR में एक बार फिर हिली धरती, पिछले दो महीनों में कई बार आया भूकंप  

थाने के सिपाई के चोट आई और गाड़ियों को पत्थर मारकर तोड़ दिया: 
वहां देखा तो तीन चार गाड़ियों में 15 से 20 लोग इकट्ठे हो रहे थे उनसे जानकारी ली और 151 में गिरफ्तार कर थाने लाते समय वापसी आने पर गांव में बनी चरणों की ढाणी के चोक में लोगों ने पिकअप गाड़ी लगाकर रास्ता बंद कर रखा था. थाने की गाड़ी के बीच में दूसरी गाड़ी में बैठे लोगों पर पत्थर फेंकने चालू कर दिए. जिस पर थाने के सिपाई के चोट आई और गाड़ियों को पत्थर मारकर तोड़ दिया जैसे तैसे बीच-बचाव कर वहां से निकले तो आगे एक स्कॉर्पियो गाड़ी टूटी हुई मिली. जिसमें 4-5 लोग घायल अवस्था में मिले. उनको वहां से बिसाऊ के जटिया हॉस्पिटल ने प्राथमिक उपचार करवाया जो 2 लोगों के ज्यादा चोट लगने पर उन्हें झुंझुनू रेफर कर दिया. अभी तक दोनों पक्षों ने किसी भी प्रकार की रिपोर्ट दर्ज नहीं करवाई है. लेकिन इसी बीच थाने के सिपाहियों पर मारपीट करने पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है जिसकी हम जांच कर रहे हैं. इसमे कुछ लोग नामजद है कुछ बिना नामजद भी है अनुसंधान कर रहे हैं.

22 जून तक बंद रहेगी माउंट आबू की होटल इंडस्ट्रीज, गुजरात में बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते लिया फैसला 

पर्यावरण संरक्षण के लिए कर ली पौधों से दोस्ती, 9 सालों में लगाए पैंतालीस हजार पौधे

पर्यावरण संरक्षण के लिए कर ली पौधों से दोस्ती,  9 सालों में लगाए पैंतालीस हजार पौधे

सुल्ताना: आज विश्व पर्यावरण दिवस है. ये हर साल दुनिया भर में 5 जून को मनाया जाता है. इस मौके पर एक शख्स के बारे में आपको बताते है, जिन्होंने पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधों से दोस्ती कर ली. ये शख्स राजस्थान के झुंझुनूं जिले के सुल्ताना के सोलाना गांव का रहने वाला है. इनका पर्यावरण संरक्षण के प्रति ऐसा समर्पण की सालाना लाखों रुपये खर्च कर झुंझुनूं जिले के सार्वजनिक जगहों पर छायादार पौधें लगा रहे हैं. आपको बता दे कि सोलाना के होशियार सिंह पिछले 9 साल से ग्लोबल वार्मिंग को ध्यान में रखते हुए पर्यावरण संरक्षण का काम कर रहे हैं. उन्होंने अपने खेत की चार बीघा जमीन पर्यावरण संरक्षण को समर्पित कर रखी हैं. इस जगह से हर साल हजारों पौधे तैयार कर उनको सार्वजनिक जगहों पर लगाया जाता है.

दूर दूर फैले रेतीले धोरे हो जाये हरे भरे: 
होशियार सिंह चाहते है कि दूर दूर फैले रेतीले धोरे हरे भरे हो जाए. जब भी श्मशान भूमि में अंतिम संस्कार में जाते तो वहाँ बैठने के लिए छायादार जगह नही होने से विचार आया क्यों न इन जगहों पर छायादार पौधे लगाए जाए. फिर ग्लोबल वार्मिंग के बारे में पढ़ा तो जहन में इस समस्या से निपटने का एक मात्र उपाय हरियाली ही सूझा. फिर क्या था. इन्होंने अपने खेत की चार बीघा जमीन में पौधे तैयार कर गांव गांव ढाणियों के सार्वजनिक जगहों पर स्वयं के साधनों से पहुंचाने और लगाने लगे.

गर्भवती हथिनी हत्या केस: पुलिस ने एक आरोपी को ​किया गिरफ्तार, दो की तलाश जारी

हर साल पौधे लगाने में लाखों रुपए खर्च:
दूर दराज लगाए गए इन पौधों पर जब किट या रोग लग जाता है तो उसकी सार संभाल भी करने भी स्वयं जाते है. उनके इसी पर्यावरण संरक्षण प्रेम की वजह से हर साल पौधे लगाने में लाखों रुपए खर्च हो जाते है. इस बार उनके यहां बरगद,पीपल, नीम, पापड़ी, बकाण जैसे छायादार पौधे निशुल्क वितरण के लिए तैयार हो रहे हैं.

पौधे से किया बेटी का कन्यादान:
सोलाना के होशियारसिंह ने अपनी पुत्री दीपिका की शादी में भी अनूठी पहल की. बेटी की शादी में कन्यादान में पौधा दिया था. इसके साथ साथ गांव में होने वाले मांगलिक कार्यों में भी पौधारोपण करवा कर ये इसे गांव की परम्परा बनना चाहते हैं.

निजी ट्रेवल्स की बस और टैंकर की भिड़ंत में 12 घायल, गुडगांव से अहमदाबाद जा रही थी बस

जिलेभर में 9 सालों में लगाए पैंतालीस हजार पौधे:
जिलेभर के गांवों में युवाओं की मदद 9 सालों से स्कूल, उप स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक भवन, मुक्तिधाम, कब्रिस्तान,खेल मैदान के साथ साथ आम रास्तों और खेतों की मेड़ो में  करीब पैंतालीस हजार से अधिक पौधे लगावा चुके हैं. किसान बताते हैं कि उत्तर दिशा की मेड़ों में पौधे लगने से उनकी फसल सर्दी और पाले से बची रहती है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए सुल्ताना से कृष्ण सिंह शेखावत की रिपोर्ट

सुल्ताना के युवाओं की अनूठी पहल, रक्तदान कर मनाया ईद का पर्व

सुल्ताना के युवाओं की अनूठी पहल, रक्तदान कर मनाया ईद का पर्व

सुल्ताना: कोरोना काल में अस्पतालों को रक्त की कमी से जूझना ना पड़े, इसके लिए सुल्ताना के युवाओं ने इस बार अनूठे अंदाज में रक्तदान कर ईद मनाई. आपको बता दें कि देशभर में लॉकडाउन है, ऐसे में लोग रक्तदान कम कर रहे है. इसलिए सुल्तान के युवाओं ने ईद के मौके पर रक्तदान किया, ताकि किसी जरूरतमंद को रक्त काम आ सके. उन्होंने न केवल पूरे माह रोजे किए, बल्कि घर में ईद की नमाज अदा करने के बाद जरूरतमंदों के लिए रक्तदान शिविर में रक्त देने भी पहुंचे गए.

अब गाजियाबाद ने भी सील की दिल्ली बॉर्डर, सिर्फ इमरजेंसी सेवा और पास वालों को एंट्री

कोरोना काल में रक्तदान कर मनाई ईद:
सामाजिक क्षेत्र में  काम कर रहे संगठन युवा जागरूकता समिति के माध्यम से सोमवार को 87 युवाओं ने कोरोना काल में रक्तदान कर ईद मनाई. एक माह के रोजे और कुरआन ए पाक की तिलावत करने के बाद गरीबों को खैरात और जकात देना दायित्वों में शामिल है. ऐसे में   कस्बे के युवाओं ने अपने युवा जागरूकता समिति के तत्वाधान में बीडीके अस्पताल की टीम द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर में पहुंचकर रक्तदान किया. 

नमाज पढने के बाद सीधे पहुंचे रक्तदान शिविर:
ईद की नमाज अता करने के बाद लोग अपने घर पहुंचकर परिवार और रिश्तेदारों के साथ त्योहार मनाते हैं, लेकिन इन युवाओं को कोरोना काल में लॉक डाउन के चलते अस्पतालों में रक्त की कमी ना हो, इसके लिए सीधे घर से नवाज अदा करने के बाद सीधे रक्तदान शिविर पहुंचे. जहां 87 युवाओं ने युवा जागरूकता समिति के माध्यम से बारी बारी से रक्तदान किया.

सीकर में कोरोना विस्फोट, 30 नए केस आये सामने, जिला प्रशासन ने लोगों से की अपील, जरूरी हो तब ही घरों से निकले बाहर

चाय में नशीला पेय पिलाकर युवती से सामूहिक दुष्कर्म, बल्कैमेल कर मां के साथ भी करते थे अश्लील बातें

चाय में नशीला पेय पिलाकर युवती से सामूहिक दुष्कर्म, बल्कैमेल कर मां के साथ भी करते थे अश्लील बातें

मंडावा(झुंझुनूं): कोरोना महामारी के इस दौर में एक और पूरा देश लड़ाई लड़ रहा है. वहीं मंडावा में एक शर्मशार करने की घटना उजागर हुई है. पुलिस एसएचओ मुकेश कुमार के अनुसार कस्बे के वार्ड 3 निवासी एक युवती ने तीन जनो के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला मंडावा थाने में दर्ज करवाया है. 

यूपी: प्रयागराज में प्रवासी मजूदरों को ले जा रही बस पलटने से 35 मजदूर घायल, तीन की हालत गंभीर 

12 माह पूर्व ही सोशल मिडिया पर दोस्ती हुई थी:
पुलिस के अनुसार युवती का रामगढ़ क्षेत्र के पालास निवासी राकेश के साथ 12 माह पूर्व ही सोशल मिडिया पर दोस्ती हुई थी. आरोपी राकेश कुमार ने युवती को 2 मार्च 2020 को फोन कर घर से बाहर बुलाया और गाड़ी में डालकर फतेहपुर ले गया. जहां उसने कुछ कागजों पर हस्ताक्षर करवाये और नशीला पेय पिलाकर दुष्कर्म किया. 

नशीला पेय पिलाकर गाड़ी में ही बेहोशी हालत में किया गैंगरेप:
वहां से उस गाड़ी में बैठे दो अन्य युवक एक आरोपी का सगा छोटा भाई व दूसरा ममेरा भाई भी साथ थे. युवती को जयपुर और फिर दिल्ली ले गये वहां भी उन्होने रास्ते में एक होटल में रूककर चाय में नशीला पेय पिलाकर गाड़ी में ही बेहोशी की हालत में तीनों ने बारी बारी से दुष्कर्म किया और उस घटना की वीडियो भी बना ली. होश आने पर उन्होंन वो वीडियो मेरे को दिखाकर बराबर दबाब बनाने के साथ साथ ब्लैकमेल करते रहे. आरोपी ने वीडियो वायरल करने की धमकी देते हुए जिला पुलिस अधिक्षक के समक्ष पेश होकर अपनी मर्जी से जाने का भी दबाब बनाया. 

विदेश से लौट रहे प्रवासियों के साथ ये कैसा मजाक ? अब देश में ही होटल में होना होगा क्वारंटीन, 14 दिन का खर्च भी खुद ही देना होगा

युवती की मां के साथ भी फोन पर अश्लील बातें कर दी धमकी:
वीडियो वायरल करने की धमकी के बाद उन्होंने युवती की मां के साथ भी फोन पर अश्लील बाते कर उन्हे भी उसकी बेटी के वीडियो वायरल करने की धमकी देकर दबाब बनाते हुए 12 माह से ब्लैकमेल कर रहा है. इस दौरान पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करवाया है. उसके बाद मंडावा थाने में मामला दर्ज कर डिप्टी नीलकमल मीणा ने इसकी जांच शुरू कर दी है. पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए जुट गई है. 

राजस्थान में महसूस किए गए भूकंप के हल्के झटके, झुंझुनूं रहा केंद्र

राजस्थान में महसूस किए गए भूकंप के हल्के झटके, झुंझुनूं रहा केंद्र

जयपुर: राजस्थान में आज सुबह 9 बजकर 21 मिनट पर भूकम्प के हल्के झटके महसूस किये गये जिनकी रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 3.2 आंकी गई. भूकंप का केन्द्र जमीन से 10 किमी नीचे झुंझुनूं जिले में रहा है. 

Cyclone Amphan: 195 किमी की रफ्तार से टकराएगा ‘अम्फान’ तूफान, तेज रफ्तार से तबाही की आशंका 

भूकंप के झटके महसूस होते ही लोग सहम गए: 
भूकंप के झटके महसूस होते ही लोग सहम गए. सुबह लोग उठकर अपने कार्यों में व्यस्त थे और इस दौरान अचानक धरती हिलने से वे तुरंत खुले में आ गए. भूकम्प के कारण अभी तक जानमाल के नुकसान की कोई सूचना नहीं है. 

कोरोना वैक्सीन का इंतजार जल्द होगा खत्म, ह्यूमन ट्रायल के मिले बेहतर नतीजे 

देह शोषण मामले में फरार आरोपी पार्षद ने किया पुलिस के सामने सरेंडर

देह शोषण मामले में फरार आरोपी पार्षद ने किया पुलिस के सामने सरेंडर

सूरजगढ़(झुंझुनूं): युवती के देह शोषण व ज्यादती के मामले में फरार चल रहे झुंझुनूं जिले की सूरजगढ़  नगरपालिका के पार्षद रणधीर सिंह को आखिरकार पुलिस के दबाव के आगे घुटने टेकने पड़े और पार्षद ने खुद थाने पहुंच सरेंडर कर दिया. इस प्रकार लॉकडाऊन में ही दर्ज मामले में पुलिस ने पार्षद को लॉकडाऊन में ही गिरफ्तार कर लिया. 

राजस्थान के 323 औद्योगिक क्षेत्रों में औद्योगिक गतिविधियों के संचालन की राह प्रशस्त- एसीएस उद्योग डॉ. अग्रवाल 

कई महीनों तक डरा धमाकर देह शोषण करने का आरोप:
बता दें कि करीब 19 दिन पूर्व सूरजगढ़ थाने में एक युवती ने नगरपालिका के वार्ड पांच से निर्दलीय पार्षद रणधीर सिंह पर संगीन आरोप लगाते हुए उसके खिलाफ ज्यादती का मामला दर्ज कराया था जिसमे युवती ने पार्षद पर कई महीनों तक डरा धमका कर देह शोषण का आरोप लगाया था. पुलिस ने युवती की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर उसका मेडिकल करवा पार्षद की गिरफ्तारी के लिए दबिश डालनी शुरू कर दी थी. 

. 468 का हुआ उदयपुर, महाराणा प्रताप की वीरता, मीरा की भक्ति और पन्नाधाय के बलिदान का रहा साक्षी 

पार्षद को कोर्ट में किया जाएगा पेश:
पुलिस द्वारा पार्षद की गिरफ्तारी के लिए लगातार दी जा रही दबिश से रिश्तेदारों के पास छुपा पार्षद काफी दबाव में आ गया और रविवार को पार्षद ने थाने पहुंचकर सरेंडर कर दिया. जिसके बाद पुलिस ने पार्षद को गिरफ्तार कर लिया. पार्षद की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली है. थाना अधिकारी सुरेंद्र मालिक ने बताया की पार्षद को कल कोर्ट में पेश किया. 

Open Covid-19