प्रॉपर्टी डीलर पर हमला कर लूट का प्रकरण, इलाज के दौरान नरेश ने तोड़ा दम, पुलिस कर रही बदमाशों की तलाश

प्रॉपर्टी डीलर पर हमला कर लूट का प्रकरण, इलाज के दौरान नरेश ने तोड़ा दम, पुलिस कर रही बदमाशों की तलाश

जयपुर: राजधानी जयपुर में प्रोपर्टी व्यवसायी नरेश कर्षनिया ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है. आपको बता दें कि करणी विहार इलाके में प्रोपर्टी व्यवसायी नरेश कर्षनिया पर रविवार देर रात तीन बदमाशों ने हमला कर दिया था. नरेश दिल्ली से जयपुर आ रहे थे.इस दौरान करनी विहार इलाके में कार सवार बदमाशों ने उन्हें पता पूछने के लिए रुकवाया ओर उन पर मिर्च पाउडर फेंक कर चाकू से हमला कर दिया.जांच में सामने आया कि बदमाशों ने उन्हें विषाक्त भी पिलाया था. जिसके बाद गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया. सोमवार शाम नरेश की इलाज के दौरान मौत हो गई. पुलिस और व्यवसायी के परिजनों को अभी तक लूट की राशि के बारे में पता नहीं चल पाया है.

अभी तक नहीं लगा बदमाशों का सुराग:
बदमाशों की तलाश के लिए करणी विहार, चित्रकूट, वैशाली नगर व भांकरोटा थाने के साथ कमिश्नरेट व वेस्ट जिले की स्पेशल टीमें घटनास्थल से लेकर हाइवे के दोनों तरफ सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है और लोगों से पूछताछ कर रही है. लेकिन अभी तक बदमाशों के बारे में कोई सुराग नही लगा. पीड़ित के रिश्तेदार सुरेश और सांवर मल ने बताया कि नरेश 5 जून को दिल्ली गए थे. जहां से रविवार रात को वापस लौटने वाले थे. इसलिए वह और करीब 7-8 पारिवारिक लोग उनके घर फार्म हाउस पर इंतजार कर रहे थे. घटना से कुछ देर पहले उनके भाई से बात हुई थी कि वह वीकेआई तक आ गए है और कुछ देर में घर पहुंचने वाले है.  इस बीच करीब 10-15 बाद ही वापस फोन आया और बोले की मुझे बचा लो चाकू मार रहे है.

पर्यटन विभाग ने तैयार किया राहत पैकेज, 3 महिने के लिए भत्ता देने का प्रस्ताव

सेलबी हॉस्पिटल के पास बताई लोकेशन:
फोन उन्होंने सेलबी हॉस्पिटल के पास लोकेशन बताई. तब फार्म हाउस पर मौजूद सभी लोग गाडिया लेकर तुरंत मौके पर पहुंचे जहां पर देखा कि नरेश शीट बेल्ट लगाए ड्राइवर शीट लहुलुहान हालत में पड़े थे. उनकी कार के ड्राइवर साइड का गेट और डिग्गी खुली पड़ी थी. कार में आगे की दोनों शीटों पर मिर्च पाउडर फैला हुआ था. मौके पर पहुंचे परिजनों ने पुलिस को सूचना देकर उसी कार से घायल को एसएमएस हॉस्पिटल पहुंचाया. जहां पर चिकित्सकों ने विषाक्त पिलाने के बात बताई है. उसके बाद सोमवार को मौके पर पहुंची एफएसएल टीम ने कार से साक्ष्य जुटाकर जांच शुरु की.

काले रंग की लग्जरी कार में सवार थे तीन बदमाश:
- हॉस्पिटल जाते समय पीड़ित ने साथियों की बताया कि काले रंग की लग्जरी कार में तीन बदमाश सवार थे. जिन्होंने बराबर में आने के बाद इशारा करके कार रुकवाई और अजमेर जाने का रास्ता पूछा. रास्ता बताने के दौरान एक बदमाश ने उनके ऊपर मिर्च पाउडर फेंक दिया. उसके बाद मारपीट करने लग गए और जबरदस्ती कुछ पिला दिया.

- तलाशी के दौरान पुलिस को नरेश की कार में कपड़ों के सूटकेस में रखे करीब दो लाख रुपए मिले है. जो नरेश ट्रेवलिंग के दौरान अपनी कार में पर्सनल खर्चे के लिए रखते है.

- नरेश कृष्णिया प्रॉपर्टी व्यवसायी के साथ-साथ बजरी रॉयल्टी, माइन्स, टोल प्लाजा के कॉन्ट्रेक्टर थे. उनका बेटा अभिमन्यु उदयपुर में रहकर माइन्स का कारोबार संभालते है.

- पुलिस जांच में सामने आया कि नरेश दिल्ली से करीब 3-4 बजे रवाना हुए थे. पुलिस टीमें रूट के कैमरे खंगाल रही है. इसके अलावा इस रूट पर जगह-जगह से मोबाइल टावर के डाटा खंगाल रही है.

फिर सुर्खियों में अगस्ता हेलीकॉप्टर, गहलोत सरकार कराएगी ग्लोबल बिडिंग

और पढ़ें