PM मोदी, शाह और नड्‌डा की मीटिंग के बाद Central Cabinet में फेरबदल की अटकलें तेज वजह- मंत्रियों के पास ज्यादा काम

 PM मोदी, शाह और नड्‌डा की मीटिंग के बाद Central Cabinet में फेरबदल की अटकलें तेज वजह- मंत्रियों के पास ज्यादा काम

 PM मोदी, शाह और नड्‌डा की मीटिंग के बाद Central Cabinet में फेरबदल की अटकलें तेज वजह- मंत्रियों के पास ज्यादा काम

नई दिल्ली: पिछले कई दिनों से प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) द्वारा मं​त्रियों से की जा रही बैठकों को लेकर मंत्रिमंडल विस्तार (Cabinet Expansion) की चर्चा जोरों पर है. अटकलें लगाई जा रही है कि मोदी अपनी टीम का विस्तार इसी महिने कर सकते है. केंद्रीय मंत्रिमंडल (Central Cabinet) में इसी महीने फेरबदल की अटकलें हैं. 

मोदी अलग अलग समूहों में अपने मंत्रियों से कर रहे है बैठकें:
खबर है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने शुक्रवार को गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) और BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (BJP National President JP Nadda) के साथ बैठक की है. इसके बाद इन अटकलों को बल मिला है. सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी पिछले कुछ दिनों से अलग-अलग समूहों में अपने मंत्रियों के साथ भी बैठकें कर चुके हैं. इनमें वे सभी मंत्रियों से उनके मंत्रालय द्वारा पिछले दो साल में किए कामकाज की जानकारी ले रहे हैं.

दोबारा पीएम बनने के बाद मंत्रिमंडल में कोई बदलाव नहीं किया:
बैठक में संगठन महामंत्री बीएल संतोष (Organization General Secretary BL Santosh) भी शामिल हुए हैं. इनमें कई मंत्रियों ने अपने काम का प्रजेंटेशन भी दिया है. एक और तथ्य ये भी है कि दोबारा प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने मंत्रिपरिषद में कोई बदलाव नहीं किया है.

अभी टीम में 59 मंत्री:
बीते एक साल से करोना की वजह से मंत्रिमंडल विस्तार की स्थितियां नहीं बन पाई थीं, लेकिन अब टीम में फेरबदल की तैयारी की जा रही है. फिलहाल PM मोदी की टीम में उनके अलावा 21 कैबिनेट और 9 राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार और 29 राज्य मंत्री हैं.

इनके नामों की चर्चा:
सूत्रों के मुताबिक, मंत्रिपरिषद के फेरबदल और विस्तार में असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल (Former Chief Minister Sarbananda Sonowal), बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी (Former Deputy Chief Minister Sushil Modi), सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (MP Jyotiraditya Scindia), बैजयंत पांडा (Baijayant Panda) के नामों की चर्चा हो रही है. इस बार के विस्तार में जदयू को भी शामिल करने की स्थितियां बन सकती हैं.

और पढ़ें