नई दिल्ली केंद्रीय गृह सचिव ने सभी राज्यों को दिए निर्देश, मेडिकल स्टाफ के साथ निजी क्लीनिकों को खोलने की दें अनुमति 

केंद्रीय गृह सचिव ने सभी राज्यों को दिए निर्देश, मेडिकल स्टाफ के साथ निजी क्लीनिकों को खोलने की दें अनुमति 

नई दिल्ली: कोरोना संकट को लेकर केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखा है. अजय भल्ला ने सभी से चिकित्सा कर्मियों, पैरामेडिक्स, स्वच्छता कर्मियों और एम्बुलेंसों को सुचारू रूप से चलाने की अनुमति देने के निर्देश दिए गए है. इसके साथ ही उन्होंने सभी मेडिकल स्टाफ के साथ सभी निजी क्लीनिकों को खोलना सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए है. इसके अलावा केंद्रीय गृह सचिव ने राज्यों को रेलवे के संपर्क में बने रहने को कहा है और कहा है कि राज्य सरकारें श्रमिक ट्रेन की सुविधा को देखती रहें.

COVID-19: महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 22 हजार के पार, 901 पुलिसकर्मी हुए संक्रमित

निजी क्लीनिक और नर्सिंग होम भी खोलना करें सुनिश्चित:
गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों को लिखे पत्र में निर्देश दिए है कि COVID-19 की चुनौती में चिकित्सा कर्मियों की सेवाओं की तत्काल आवश्यकता है. COVID-19 बीमारी के अलावा सामान्य जिम्मेदारियों की भी आवश्यकता है. टीकाकरण और मौसमी बीमारियों से भी निपटने की आवश्यकता है. चिकित्सा कर्मियों के आंदोलन अवरोध पैदा कर सकते है. ऐसे आंदोलनों को पहले से ही राज्य सरकारें रोकना सुनिश्चित करें. राज्य सरकारें निजी क्लीनिक और नर्सिंग होम भी खोलना सुनिश्चित करें. चिकित्सा कर्मियों और एंबुलेंस के आवागमन में कोई दिक्कत नहीं आए. गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों को पत्र भेजा है है.

COVID-19: देश में कुल 67 हजार 152 कोरोना संक्रमित, अब तक 2206 लोगों की हुई मौत, अकेले महाराष्ट्र में मरीजों का एक तिहाई हिस्सा !

और पढ़ें