Chandra Grahan 2019: चंद्र ग्रहण से बनेगा भारत-पाकिस्तान की मित्रता का योग

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/07/16 09:02

नई दिल्ली: इस साल का दूसरा चंद्रग्रहण आज रात को लगने जा रहा है. यह चंद्र ग्रहण कई मायनों में खास कहा जा सकता है. पहला ये कि इस बार यह चंद्र ग्रहण भारत में भी देखा जाएगा और यह पूरे तीन घंटे लंबा होगा. इसके अलावा यह ग्रहण आषाढ़ मास की पूर्णिमा यानी गुरु पूर्णिमा के दिन पड़ रहा है, जिसके चलते यह ग्रहण कई शुभ संकेत भी लेकर आया है. 

सुधरेंगे भारत-पाक संबंध:
दरअसल ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यह ग्रहण उत्तराषाढ़ा नक्षत्र, धनु राशि और माहेन्द्र मण्डल में लगेगा. जिसके फलस्वरूप राष्ट्र और सरकार परस्पर मतभेदों को हल करने की दिशा में अग्रसर होंगे. कई राष्ट्रों के विवादों का हल निकालने की चेष्टा सकारात्मक रूप लेगी. यानि इस ग्रहण के बाद भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान से साथ आपसी संबंध सुधरेंगे. जिसका एक संकेत करतारपुर कॉरिडोर को लेकर दोनों देशों के बीच हुई वार्ता को माना जा सकता है. इस वार्ता में दोनों देशों के बीच 80 फीसदी बातों पर सहमति बनी है.

विश्व में आर्थिक स्थिति:
वहीं इस ग्रहण के फलस्वरूप कुछ माह बाद विश्व में आर्थिक स्थिति विचित्र रूप अख्तियार करेगी. अचानक धन की कमी महसूस हो सकती है. पश्चिम के शेयर बाजार कमजोर नजर आएंगे और इस संवत्सर में हलचल हो सकती है. रीयल स्टेट अपने रीयल वैल्यू की तरफ घूमता हुआ दिखाई देगा. चांदी में कुछ तेजी दृष्टिगोचर होगी. इस संवत्सर में किसी बड़े व्यक्ति को लेकर बुरी खबर आ सकती है. प्राकृतिक आपदा से जन और धन की हानि हो सकती है. 

जानें कब और कहां दिखेगा:
शास्त्रों के अनुसार चंद्रग्रहण का सूतक शुरू हो जाने के साथ ही कोई भी शुभ काम करने के अलावा मंदिरों की पूजा होना बंद हो जाती है. ग्रहण का सूतक मंगलवार को तीसरे पहर 4 बजकर 31 मिनट पर लग जाएगा. वहीं 1:32 बजे पर शुरु होकर ग्रहण का समापन बुधवार की तड़के 4:30 बजे होगा. सरकार की ओर से जारी बयान के अनुसार अरुणाचल प्रदेश के दुर्गम उत्तर पूर्वी हिस्सों को छोड़कर देश भर में देखा जा सकेगा. इसके अलावा चंद्र ग्रहण ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, एशिया, यूरोप और दक्षिण अमेरिका में दिखाई देगा.

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in