नई दिल्ली स्नैचिंग मामले में पांच सितारा होटल का शेफ गिरफ्तार, कर्ज चुकाने के लिए करता था अपराध

स्नैचिंग मामले में पांच सितारा होटल का शेफ गिरफ्तार, कर्ज चुकाने के लिए करता था अपराध

स्नैचिंग मामले में पांच  सितारा होटल का शेफ गिरफ्तार, कर्ज चुकाने के लिए करता था अपराध

नई दिल्ली: दक्षिणी दिल्ली में सोने की चेन और मोबाइल समेत अन्य कीमती सामान छीनने के मामले में एक पांच सितारा होटल के शेफ को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि एक गुप्त सूचना के आधार पर हरीश (35) को मंगलवार शाम नेब सराय इलाके से गिरफ्तार किया गया, जहां वह छिनने की वारदात अंजाम देने गया था.

कर्ज चुकाने के लिए करता था अपराध
पुलिस ने बताया कि आरोपी के पास बीए और होटल प्रबंधन की डिग्रियां हैं और वह आईजीआई हवाईअड्डे के निकट एक पांच सितारा होटल में काम करता था और उसकी तनख्वाह भी अच्छी थी लेकिन जुआ खेलने की वजह से उस पर कर्ज चढ़ गया और उसे चुकाने के लिए वह ये अपराध करता था. पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि संगम विहार का निवासी हरीश खास तौर पर उन महिलाओं को निशाना बनाता था जो सैर करने या कार्यालय जाने के लिए साकेत मेट्रो स्टेशन के निकट से गुजरती थीं. इसके अलावा वह मेट्रो स्टेशन से लगे उद्यान क्षेत्र या मेहरौली-बदरपुर (एमबी) रोड पर आंबेडकर नगर बस स्टैंड पर पीड़ितों को निशाना बनाता था. उन्होंने बताया कि पीड़ितों से कीमती सामान लूटने के बाद वह सामान्य तौर पर ‘पकड़ो-पकड़ो’ या फिर ‘चोर-चोर’ चिल्लाने लगता था ताकि लोगों को लगे कि वह चोर को पकड़ने की कोशिश कर रहा है. इसी बीच वह भाग जाता था.

आभूषण विक्रेता को बेचता था चोरी का सामान 
ठाकुर ने बताया कि एक महीने पहले उनकी टीम ने संदिग्ध को पकड़ने के लिए इलाके के सीसीटीवी फुटेज को खंगालना शुरू किया. इसके बाद नेब सराय इलाके में एमबी रोड पर जाल बिछाकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया. आरोपी ने खुद को घिरा पाकर पहले तो देसी पिस्तौल निकाली लेकिन पुलिसकर्मियों ने उससे पिस्तौल छीन ली. गिरफ्तारी के बाद हरीश ने बताया कि उसने सोने की तीन चेन उसने संगम विहार इलाके के आभूषण विक्रेता को बेची है. बयान के आधार पर पुलिस ने चोरी का सामान खरीदने के आरोप में राजेंद्र अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ के दौरान हरीश ने बताया कि करीब दो साल पहले वह ऑनलाइन ऐप ‘सट्टा किंग’ पर जुआ खेलने लगा. शुरुआत में तो उसे लाभ हुआ लेकिन बाद में वह कर्ज में डूब गया. इसके बाद उसने इस तरह के अपराध करने शुरू किए. सोर्स- भाषा

और पढ़ें