चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की निगाहें लय हासिल करने पर

चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की निगाहें लय हासिल करने पर

चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की निगाहें लय हासिल करने पर

मुंबई: तीन बार की चैम्पियन चेन्नई सुपर किंग्स (Champion Chennai Super Kings) और राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) अपनी पहली जीत दर्ज करने के बाद सोमवार को जब यहां इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) मुकाबले में एक दूसरे से भिड़ेंगी तो उनकी कोशिश इसी लय को जारी रखने की होगी. 

दोनों टीमों का प्रतिद्वंद्वियों को हराने का तरीका अलग अलग:
दोनों टीमों ने टूर्नामेंट के शुरूआती मुकाबले गंवाने के बाद वापसी करते हुए जीत हासिल की, हालांकि दोनों टीमों का प्रतिद्वंद्वियों को हराने का तरीका अलग अलग रहा. महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) की अगुआई वाली चेन्नई सुपर किंग्स ने जहां पंजाब किंग्स (Punjab Kings) के खिलाफ आसान जीत दर्ज की तो वहीं राजस्थान रॉयल्स ने अंतिम ओवर में जीत से दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के खिलाफ दो अंक जुटाये. दोनों टीमें अपने अभियान को आगे बढ़ाने के लिये दूसरी जीत दर्ज करना चाहेंगी.

कप्तान धोनी अपने गेंदबाजों के प्रदर्शन से खुश:
दिल्ली कैपिटल्स से शुरूआती मैच (Opening match) में सात विकेट की शिकस्त के बाद चेन्नई सुपर किंग्स ने दीपक चाहर के प्रदर्शन की बदौलत वापसी की है. चाहर ने चार विकेट झटककर पंजाब किंग्स के बल्लेबाजी लाइन अप को झकझोर दिया जिससे टीम ने छह विकेट की जीत से खाता खोला. कप्तान धोनी अपने गेंदबाजों के प्रदर्शन से खुश होंगे क्योंकि पहले मुकाबले में पृथ्वी साव और शिखर धवन (Prithvi Sau and Shikhar Dhawan) ने उनके गेंदबाजों को धो दिया था.

तेज गेंदबाज लुंगी एनगिडी पूरा कर चुके हैं पृथकवास:
विशेषकर चाहर ने शानदार स्पैल डाला जिससे चेन्नई सुपर किंग्स अपनी प्रतिद्वंद्वी टीम को 106 रन के कम स्कोर पर रोकने में सफल रही जिसके बाद उसके बल्लेबाजों (Batsmen) ने आसानी से यह लक्ष्य हासिल कर लिया. अब टीम चाहेगी कि चाहर अपने अच्छे प्रदर्शन को जारी रखें और साथ ही उम्मीद करेगी कि सैम करन, शारदुल ठाकुर (M Karan, Shardul Thakur) और अन्य भी महत्वपूर्ण योगदान दें. वहीं दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के तेज गेंदबाज लुंगी एनगिडी (Fast bowler Lungi Ngidi) पृथकवास पूरा कर चुके हैं और उन्हें अंतिम एकादश में शामिल किया जा सकता है जिससे चेन्नई सुपर किंग्स का तेज गेंदबाजी आक्रमण और पैना हो जायेगा.

इंग्लैंड के आल राउंडर मोईन अली जीत में अच्छी फार्म में थे:
इंग्लैंड के आल राउंडर मोईन अली (Allrounder Moin Ali) पंजाब के खिलाफ जीत में अच्छी फार्म में थे और यह चेन्नई सुपर किंग्स के थिंक टैंक (Think Tank) के लिये खुशी की बात होगी. उन्होंने अपनी ऑफ स्पिन से एक विकेट झटका और फिर अच्छी बल्लेबाजी की. फाफ डु प्लेसिस हालांकि अपना सर्वश्रेष्ठ नहीं कर सके लेकिन उन्होंने नाबाद 36 रन की पारी खेली और वह इससे बेहतर पारी खेलना चाहेंगे जबकि रूतुराज गायकवाड़ और अम्बाती रायुडू (Ruturaj Gaikwad and Ambati Rayudu) को आत्मविश्वास हासिल करने के लिये रन बनाने होंगे.

धोनी पंजाब के खिलाफ बल्लेबाजी के लिये नहीं उतर सके:
सुरेश रैना की मौजूदगी से निश्चित रूप से चेन्नई की बल्लेबाजी इकाई मजबूत होगी और आने वाले समय में उनकी फार्म अहम रहेगी. आईपीएल में वापसी में अर्धशतक लगाने के बाद वह भी बड़ा स्कोर खेलना (Play big score) चाहेंगे. धोनी पंजाब के खिलाफ बल्लेबाजी के लिये नहीं उतर सके थे जबकि पहले मैच में वह शून्य पर आउट हो गये थे. देखना होगा कि कप्तान खुद को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर उतारकर फार्म हासिल करने का मौका देना पसंद करता है या नहीं. इस बीच राजस्थान रॉयल्स पहले मैच में चार रन की नाटकीय हार (Dramatic Defeat) के बाद दिल्ली कैपिटल्स की जीत से मिली लय को बढ़ाना चाहेगा.

बल्लेबाज मिलकर प्रदर्शन करें: राजस्थान टीम
कप्तान संजू सैमसन (Captain Sanju Samson) ने शुरूआती मैच में शानदार शतक जड़ने के बाद अकेले दम पर लगभग मैच जीता ही दिया था. उनके अलावा जोस बटलर (Jose Butler) और डेविड मिलर की फार्म टूर्नामेंट में उनकी लय के लिये काफी अहम होगी. राजस्थान की टीम चाहेगी कि उनके बल्लेबाज मिलकर प्रदर्शन करें क्योंकि दिल्ली के खिलाफ उनका शीर्ष क्रम चरमरा गया था जिसके बाद मिलर और क्रिस मौरिस ने उन्हें जीत दिलायी.

मौरिस और मुस्तफिजुर रहमान कठिन परिस्थितियों में अहम साबित हो सकते हैं:
अनुभवी तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट (Fast bowler Jaydev Unadkat) ने दिल्ली के खिलाफ शानदार स्पैल फेंका जबकि युवा चेतन सकारिया (Young Chetan Sakariya) ने भी उम्मीद जगायी हैं. अनुभवी मौरिस और मुस्तफिजुर रहमान (Maurice and Mustafizur Rahman) कठिन परिस्थितियों में अहम साबित हो सकते हैं. राजस्थान रॉयल्स के गेंदबाजों का लक्ष्य शुरूआती झटके देकर चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाजों को रन बनाने से रोकने का होगा जो इतने आक्रामक नहीं रहे हैं.

जबकि उसके बल्लेबाजों को भी अच्छा प्रदर्शन करना होगा. तभी विकेटकीपरों की अगुआई वाली दोनों टीमों के बीच दिलचस्प मुकाबला देखने को मिलेगा. मैच भारतीय समयानुसार शाम साढ़े सात बजे से शुरू होगा-
 

और पढ़ें