Live News »

INX घोटाला: चिदंबरम के वकील ने लिखा सीबीआई को पत्र, कहा- सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई तक न करें कार्रवाई

INX घोटाला: चिदंबरम के वकील ने लिखा सीबीआई को पत्र, कहा- सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई तक न करें कार्रवाई

नई दिल्ली: मनमोहन सरकार में वित्त मंत्री रहे पी चिदंबरम पर आईनेक्स घोटाले में गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है. मंगलवार को सीबीआई पी चिदंबरम के घर पहुंची, लेकिन चिदंबरम घर पर नहीं मिले. दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को उनकी अग्रिम जमानत याचिका ठुकरा दी थी. गिरफ्तारी के राहत के लिए चिदंबरम कोर्ट पहुंचे थे. आज सुप्रीम कोर्ट में उनकी याचिका पर सुनवाई होगी. 

चिदंबरम के घर नोटिस चिपकाया: 
दिल्ली हाईकोर्ट से जमानत याचिका खारिज होने के बाद ईडी और सीबीआई की टीम पी. चिदंबरम के जोर बाग स्थित निवास पर पहुंची, लेकिन वह वहां नहीं मिले. इसके बाद सीबीआई और ईडी की टीमें खाली हाथ वापस लौट आईं. मंगलवार रात करीब 11:30 बजे के आसपास दोबारा सीबीआई की टीम उनके घर पहुंची और नोटिस चिपका दिया. इसमें उन्हें 2 घंटे में सीबीआई के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया, लेकिन 2 घंटे बीत जाने के बाद भी वह सीबीआई के समक्ष पेश नहीं हुए. सीबीआई और ईडी की टीम लगातार उनकी तलाश में जुटी हुई है.

नोटिस कानून के प्रावधान का उल्लेख करने में विफल: 
पी. चिदंबरम के वकील अर्शदीप सिंह खुराना ने सीबीआई को पत्र लिखा. उन्होंने पत्र में लिखा कि मैं यह बताना चाहता हूं कि आपका नोटिस कानून के प्रावधान का उल्लेख करने में विफल रहा है. नोटिस में इस बात का कोई जिक्र नहीं है कि कानून के किस प्रावधान के तहत मेरे मुवक्किल को 2 घंटे में पेश होने के लिए कहा गया.

'सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई तक न करें कार्रवाई' : 
उन्होंने सीबीआई को अपने पत्र में लिखा, सुप्रीम कोर्ट ने चिदंबरम की याचिका पर सुनवाई के लिए 10:30 का समय तय किया है. इसलिए मैं आपसे (सीबीआई) अनुरोध करता हूं कि तबतक मेरे मुवक्किल के खिलाफ कोई कठोर कार्रवाई न करें और सुबह 10:30 बजे तक का इंतजार करें.

यह है मामला: 
दअसल, सीबीआई आईएनएक्स मीडिया मामले में चिदंबरम की भूमिका की जांच कर रही है. जांच एजेंसी ने यह मामला 15 मई, 2017 को दर्ज किया गया था. चिदंबरम पर आरोप है कि वित्तमंत्री रहने के दौरान उन्होंने 2007 में 305 करोड़ रुपये का विदेशी फंड प्राप्त करने के लिए आईएनएक्स मीडिया समूह को एफआईपीबी मंजूरी देने में अनियमितता बरती थी. ईडी ने काले धन को सफेद बनाने (मनी लॉन्डरिंग) को लेकर उनके ऊपर 2018 में मामला दर्ज किया था. उनके बेटे कार्ति चिदंबरम भी मामले में आरोपी हैं.

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in