close ads


बकरा मंडी में जैसे बकरा खरीदते हैं वैसे ये लोग विधायकों को खरीद रहे- सीएम गहलोत

बकरा मंडी में जैसे बकरा खरीदते हैं वैसे ये लोग विधायकों को खरीद रहे- सीएम गहलोत

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान सीएम गहलोत ने कहा कि मैं देश-प्रदेश की स्थिति की चर्चा के लिए आया हूं. इस दौरान सीएम ने कोरोना की स्थिति पर बात रखी. साथ ही कहा कि कोरोना महामारी मैं राजस्थान का लोहा पूरे देश ने माना है. 

विधायक खरीद-फरोख्त प्रकरण: मुझे धमकी दे रहे, मेरे खिलाफ विशेषाधिकार हनन लाएंगे- महेश जोशी 

हम सबको सरकार बचाने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा: 
वहीं सीएम गहलोत ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि हम कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे है तो दूसरी तरफ ये लोग सरकार गिराने में लगे हैं. हम सबको सरकार बचाने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है. सब कोरोना की तरफ ध्यान दे रहे हैं लेकिन ये लोग सरकार कैसे गिरे, कैसे तोड़फोड़ करें इसमें लगे हैं. बीजेपी के लोग धर्म, जाति के नाम पर लोकतंत्र की हत्या करने में जुटे हुए हैं. अरुणाचल प्रदेश में विधायकों को खरीद लिया. 

प्रदेश की राजनीति में बढ़ती हलचल ! 26 कांग्रेस विधायकों ने भाजपा पर लगाया सरकार को अस्थिर करने का आरोप 

बकरा मंडी में जैसे बकरा खरीदते हैं वैसे ये लोग विधायकों को खरीद रहे:  
उन्होंने कहा कि सतीश पूनिया और राजेंद्र राठौड़ सरकार गिराने के लिए खेल खेल रहे हैं. मध्य प्रदेश के अंदर जैसी घटना हुई उसी तरह राजस्थान में भी खेल करने की कोशिश है. बकरा मंडी में जैसे बकरा खरीदते हैं वैसे ये लोग विधायकों को खरीद रहे हैं. लेकिन राजस्थान में हमने इनकी चाल नहीं चलने दी. सबक सिखाने के बाद ये लोग नहीं मान रहे हैं. 70 साल में कांग्रेस ने लोकतंत्र बचाने का काम किया है. लेकिन आज-कल भाजपा के लोग लोकतंत्र की हत्या कर रहे हैं. देश में कभी भी इस तरह के हालात नहीं बने हैं. CBI, ED का मिस यूज किया जा रहा है.  

राजस्थान में 5 साल सरकार चलेगी: 
सीएम गहलोत ने कहा कि राजस्थान में सरकार स्थिर है और 5 साल चलेगी. हम अगला चुनाव जीतने में लग गए हैं. उसी के अनुसार बजट दिया है. आलाकममना के इशारे पर प्रदेश भाजपा खेल कर रही है. राजेन्द्र राठौड़, सतीश पूनिया व गुलाब चंद कटारिया का नाम लेते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि इनके आका दिल्ली में बैठे हुए है. अब उनके टारगेट पूरा करने के लिए इन तीनों में होड़ मची हुई है. 'हकीकत के आधार पर जांच होनी चाहिए. हम कोई मीडिया ट्रायल नहीं कराना चाहते. मैं SOG का डीजी नहीं हूं. नए-नए नेता बने हैं इसलिए मैं कुछ नहीं कहता, मेरे पास सूचना के सोर्स है. 

और पढ़ें