मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बोले, राज्य सरकार ने विशेष योग्यजनों के कल्याण में कोई कमी नहीं रखी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बोले, राज्य सरकार ने विशेष योग्यजनों के कल्याण में कोई कमी नहीं रखी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बोले, राज्य सरकार ने विशेष योग्यजनों के कल्याण में कोई कमी नहीं रखी

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को कहा कि राज्य सरकार ने विशेष योग्यजनों के कल्याण में कोई कमी नहीं रखी है. गहलोत जोधपुर स्थित गांधी बधिर महाविद्यालय के उद्घाटन समारोह को ऑनलाइन तरीके से संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि दुनिया के कुल विशेष योग्यजनों में से 80 प्रतिशत भारत में हैं, ऐसे में हम सभी का दायित्व है कि दिव्यांगों को सही जीवन जीने एवं उनकी क्षमताओं का पूर्ण उपयोग करने में सहयोग करें.

इसी दायित्व को पूरा करते हुए राज्य सरकार ने विशेष योग्यजनों एवं दिव्यांगों के कल्याण से जुड़ी योजनाएं बनाने में कोई कमी नहीं रखी है. प्रदेश के सभी सरकारी कार्यालयों में विशेष योग्यजन अनुकूल सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं. मुख्यमंत्री ने इस वर्ष बजट में इसे महाविद्यालय में क्रमोन्नत करने की घोषणा की थी.

 

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली ने कहा कि बजट में मुख्यमंत्री द्वारा जयपुर एवं जोधपुर में मूक बधिर महाविद्यालय खोलने की घोषणा से मूक बधिर बच्चों को 12वीं से आगे की पढ़ाई में आसानी होगी. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पिछले तीन साल में विशेष योग्यजनों के कल्याण के लिए विभिन्न योजनाएं एवं कार्यक्रम लागू किए हैं. उन्होंने कहा कि भर्तियों में विशेष योग्यजनों का आरक्षण बढ़ाकर पांच प्रतिशत किया गया है. इसके अलावा विशेष योग्यजनों को स्कूटी वितरण भी शुरू किया गया है.

और पढ़ें