जयपुर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बयान, कहा-उपचुनाव में भाजपा चौथे स्थान पर, कांग्रेस जीतेगी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बयान, कहा-उपचुनाव में भाजपा चौथे स्थान पर, कांग्रेस जीतेगी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बयान, कहा-उपचुनाव में भाजपा चौथे स्थान पर, कांग्रेस जीतेगी

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को दावा किया कि राज्य की दो विधानसभा सीटों पर होने जा रहे उपचुनाव में भाजपा चौथे स्थान पर चल रही है, इसलिए उसके नेता राज्य सरकार के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं. उन्होंने विश्वास जताया कि इन दोनों सीटों पर कांग्रेस जीत दर्ज करेगी. राज्य की धरियावद व वल्लभनगर सीट पर उपचुनाव के लिए हो प्रचार के दौरान भाजपा नेताओं द्वारा कानून व्यवस्था व अन्य मुद्दों को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साधे जाने पर गहलोत ने यहां संवाददाताओं से कहा कि  भाजपा तो वल्लभनगर में चौथे स्थान पर चल रही है, ऐसा मैंने सुना है. इसलिए वे थोड़ा बौखलाए हुए हैं और बयानबाजी करते रहते हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम तो अपना काम करते हैं. हमने जो काम ढाई साल में किए हैं, उन उपलब्धियों के आधार पर बात कर रहे हैं. वही एजेंडा हमारा आगे भी काम करने का है. जनता से वादा कर रहे हैं कि आप हमें एक मौका और दो ताकि सरकार मजबूत हो और मजबूती से काम करे. आपके विकास के काम हो. यही हमारी थीम है वल्लभनगर और धरियावाद में. वहां अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है. उम्मीद है कि दोनों सीट हम जीत जाएंगे.

इन दोनों सीटों पर 30 अक्टूबर को मतदान होगा जबकि मतगणना दो नवंबर को होनी है.आगरा में पुलिस हिरासत में मारे गए अरुण वाल्मीकि के राजस्थान के भरतपुर में रहने वाले रिश्तेदारों को उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा कथित तौर पर परेशान किए जाने के सवाल पर गहलोत ने कहा कि घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. उत्तर प्रदेश में आप जानते हैं कि इस तरह की घटनाएं होती रहती हैं. जिस तरह से आगरा के पुलिस कर्मी भरतपुर से लोगों को उठाकर ले गए. मुल्जिम को पकड़ने के लिए उसके ससुराल में आकर सबको पकड़कर ले गए, यह तरीका गलत है, दुर्भाग्यपूर्ण है.

गहलोत ने कहा कि समझता हूं कि मुझे इस बारे में उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखना चाहिए. मैंने सम्बद्ध पुलिस महानिरीक्षक से पूरी जानकारी मांगी है. उल्लेखनीय है कि अरुण के ससुराल पक्ष के लोग शुक्रवार को यहां मुख्यमंत्री गहलोत से मिले थे.राज्य सरकार के प्रशासन गांवों/शहरों के संग अभियान के बारे में गहलोत ने कहा कि अच्छा काम हुआ है लेकिन कमियां भी हैं, जो धीरे धीरे दूर होंगी.

कोयला आपूर्ति के कारण उपजे बिजली संकट के बारे में गहलोत ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कोयला ब्लाक से खनन को लेकर शनिवार को ही वहां के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बात की है. राजस्थान सरकार के प्रयासों से हालात काफी काबू में रहे हैं और ज्यादा कटौती नहीं हो रही. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी द्वारा राजस्थान के मंत्री हरीश चौधरी को पार्टी का पंजाब प्रदेश प्रभारी बनाए जाने पर गहलोत ने कहा कहा कि यह तो राजस्थान का सौभाग्य है और हमारे कार्यकर्ता व नेताओं की पार्टी के प्रति कर्मठता, निष्ठा व प्रतिबद्धता का प्रतीक है.

उन्होंने कहा कि राजस्थान के काफी लोग केंद्रीय संगठन में काम कर रहे हैं. राजस्थान को लेकर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी में यह धारणा बनी है कि राजस्थान के लोगों को जिम्मेदारी दी जाती है तो वे पूरी निष्ठा, ईमानदारी से प्रतिबद्ध होकर निभाते हैं, इसलिए राहुल गांधी ने जिम्मेदारी दी है.

उल्लेखनीय है कि इससे पहले राजस्थान के ही मंत्री रघु शर्मा को गुजरात में पार्टी प्रभारी बनाया गया है. इसके साथ ही गहलोत ने कहा कि 16 अक्टूबर को नयी दिल्ली में उनकी राहुल गांधी से कोई बैठक नहीं हुई जैसा कि कुछ खबरों में बताया जा रहा है. इससे पहले गहलोत यहां एसएमएस अस्पताल में भर्ती वयोवृद्ध गांधीवादी, भाईजी डॉ एस.एन. सुब्बाराव जी से मिलकर उनकी कुशलक्षेम जानी एवं डॉक्टरों से बात कर स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली.(भाषा) 

और पढ़ें