बीकानेर VIDEO: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शुक्रवार को देंगे बीकानेर को कई सौगात, कई योजनाओं का करेंगे शिलान्यास, देखिए ये खास रिपोर्ट

VIDEO: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शुक्रवार को देंगे बीकानेर को कई सौगात, कई योजनाओं का करेंगे शिलान्यास, देखिए ये खास रिपोर्ट

बीकानेर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बीकानेर दौरे के दौरान इस बार 614 करोड़ की पेयजल योजना का शिलान्यास करने के साथ-साथ महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण और यूनिवर्सिटी में इंदौर स्टेडियम सहित कई भवनों का लोकार्पण करेंगे. सीएम के दौरे को लेकर कांग्रेसी सक्रिय है तो आम जनता कांग्रेस के नेताओं से आस लगा रही है कि मुखिया को सही फीडबैक देकर वर्षों से चली आ रही कुछ समस्याओं का हल निकलवाए.  राज्य की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कल 11:00 बजे हेलीकॉप्टर से बीकानेर पहुंचेंगे. यहां में 614 करोड़ की जलदाय योजना के शिलान्यास के साथ-साथ बीकानेर को और कई सौगात देंगे. राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल की मशाल को रवाना करेंगे. साथ ही खिलाड़ियों के सम्मान का कार्यक्रम भी रहेगा. 

बीकानेर को देंगे मुख्यमंत्री कई सौगात:
- 27 लाख 61 हजार की लाख की लागत से बने अहिंसा पार्क और  महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण 
- 614 करोड़ की शहरी वृहद पेयजल योजना का शिलान्यास
- 16 करोड़ 45 लाख की लागत से बने आडिटोरियम का लोकार्पण
-24 करोड़ 50 लाख की लागत से बने इंडोर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का लोकार्पण

निश्चित तौर पर विकास कार्यों को लेकर इस बार कांग्रेस सरकार ने और कसर नहीं छोड़ी है. शिक्षा मंत्री बीडी कला के जलदाय मंत्री रहने के दौरान 614 करोड़ के लिए पेयजल योजना बनी जिसका शिलान्यास CM करेंगे. खेल परिषद के अध्यक्ष कृष्णा पूनिया की अगुवाई में खिलाड़ियों का सम्मान भी होगा. खेल परिषद के अध्यक्ष कृष्णा पूनिया और मंत्री डॉक्टर बीडी कल्ला दोनों ही सक्रिय हैं. वही मंत्री डॉक्टर बीडी कल्ला कहते हैं कि इस परियोजना से 2052 तक की समस्या का समाधान होगा हालांकि रेल फाटकों की समस्या को वे स्वीकार करते हैं.

यह बात भी सही है कि तमाम दावों और विकास की घोषणाओं के बावजूद बीकानेर शहर की स्थिति आज भी ज्यादा नहीं बदली है. रेल फाटकों की समस्या मुंह बाए खड़ी है. कांग्रेस और भाजपा हर चुनाव में वादा करती हैं, लेकिन नतीजा वही ढाक के तीन पात. बीकानेर का सीवरेज सिस्टम चरमरा गया है. थोड़ी सी बारिश में व्यवस्थाएं पानी पानी हो जाती हैं. संभाग के सबसे बड़े अस्पताल पीबीएम में अव्यवस्थाओं का आलम है. यहां का आम आदमी इन समस्याओं के निस्तारण समाधान की ओर देख रहा है. सामाजिक कार्यकर्ता आदर्श शर्मा कहते हैं मुख्यमंत्री का स्वागत अभिनंदन है, लेकिन हमारी गुजारिश है कि वे रेल फाटक की समस्या का समाधान करेंगे.

निश्चित तौर पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के दौरे से आमजन को भी उम्मीद है कि कुछ कंक्रीट काम होंगे. खास तौर पर रेल की समस्या पर मुख्यमंत्री जब बीडी कल्ला तक कोई सलाह दे चुके हैं कि यह समस्या हल हो गई तो चुनाव जीत सकते हैं. मतलब साफ है कि सूबे  का मुखिया बीकानेर की गणित को समझ रहा है. 

और पढ़ें