जयपुर VIDEO: मुख्यमंत्री गहलोत का बयान, कहा-रीट रद्द करने के फैसले से हम खुश नहीं है, लेकिन BJP के हथकण्डे के कारण फैसला करना पड़ रहा है

VIDEO: मुख्यमंत्री गहलोत का बयान, कहा-रीट रद्द करने के फैसले से हम खुश नहीं है, लेकिन BJP के हथकण्डे के कारण फैसला करना पड़ रहा है

VIDEO:  मुख्यमंत्री गहलोत का बयान, कहा-रीट रद्द करने के फैसले से हम खुश नहीं है, लेकिन BJP के हथकण्डे के कारण फैसला करना पड़ रहा है

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि रीट रद्द करने के फैसले से हम खुश नहीं है. लेकिन BJP के हथकण्डे के कारण फैसला करना पड़ रहा है. सरकार को बदनाम करने की साजिश रची गई है. दिल्ली के इशारे पर सब कुछ किया जा रहा है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि रीट मामले की SOG ही जांच करेगी. मुख्यमंत्री गहलोत ने किरोड़ी मीणा पर प्रहार करते हुए कहा कि उनको हर कड़ी की जानकारी है, तो जांच इस बात की भी होनी चाहिए कि कहां से जानकारी मिल रही है. क्या विपक्ष के नेताओं के तो गैंग से तार नहीं जुड़े है.

आपको बता दें कि रीट मामले को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रेसवार्ता में ये बात कहीं. मुख्यमंत्री गहलोत ने रीट परीक्षा लेवल 2 रद्द करने का फैसला लिया. अब 62 हजार पदों पर भर्ती होगी. अब 2 स्तर पर परीक्षा होगी. मई में होने वाली परीक्षा एक महीने लेट हो सकती है. अब 20 हजार की जगह 30 हजार पदों पर भर्ती होगी. विधानसभा में कड़ा कानून लेकर आएंगे.

 

मुख्यमंत्री गहलोत ने तीन साल के कार्यकाल को बेमिसाल बताया. आम जनता हमारे कार्यों से खुश है. कोरोना में सरकार ने बेहतर काम किया. जनता का आशीर्वाद हमारे साथ है. मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि रीट में 25 लाख अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी. हमने परीक्षा को लेकर व्यापक इंतजाम किए.

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि पेपर लीक की खबर पर SOG तुरंत एक्शन में आई. पूरे देशभर में पेपर लीक गिरोह का सक्रिय है. केंद्र और राज्य सरकार को मिलकर इस पर अंकुश लगाना चाहिए. महंगाई के बाद बेरोजगारी बड़ी समस्या है. पेपर लीक होना गंभीर और चिंता का विषय है. सरकार को बदनाम करने की साजिश हो रही. खुद गुलाबचंद कटारिया भी SOG की तारीफ कर चुके हैं. 

और पढ़ें