नई दिल्ली Rajya Sabha में स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने कहा- छत्तीसगढ़ में बाल, मातृ मृत्यु दर में कमी नहीं

Rajya Sabha में स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने कहा- छत्तीसगढ़ में बाल, मातृ मृत्यु दर में कमी नहीं

Rajya Sabha में स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने कहा- छत्तीसगढ़ में बाल, मातृ मृत्यु दर में कमी नहीं

नई दिल्ली: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने मंगलवार को राज्यसभा में कहा कि छत्तीसगढ़ में बाल मृत्यु दर और मातृ मृत्यु दर में कमी नहीं आई है, हालांकि अखिल भारतीय स्तर पर इसमें औसत कमी आई है. पवार उच्च सदन में प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवालों का जवाब दे रही थीं. उन्होंने बाल मृत्यु दर और मातृ मृत्यु दर के संबंध में कहा कि हालांकि अखिल भारतीय स्तर पर औसत कमी हुई है, लेकिन छत्तीसगढ़ में नहीं.

जननी और शिशु सुरक्षा योजना एवं टीकाकरण कार्यक्रम जैसी कई केंद्रीय योजनाएं विभिन्न राज्यों में लागू की जा रही हैं:

पवार ने कहा कि सभी राज्यों को बाल और मातृ मृत्यु दर में कमी के लिए निर्देश जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि जननी और शिशु सुरक्षा योजना एवं टीकाकरण कार्यक्रम जैसी कई केंद्रीय योजनाएं विभिन्न राज्यों में लागू की जा रही हैं. मंत्री ने कहा कि कुपोषण मातृ मृत्यु का सीधा कारण नहीं है. लेकिन गर्भावस्था में जोखिम बढ़ जाता है, और छत्तीसगढ़ में संक्रमण दर सात प्रतिशत है. उन्होंने राज्य सरकार से इन मुद्दों के हल के लिए पर्याप्त कदम उठाने के लिए कहा.

आदिवासी इलाकों में इस तरह की मौतों की जांच के लिए केंद्रीय टीम भेजने के संबंध में पवार ने कहा कि स्थिति की नियमित निगरानी की जा रही  हैं: 

छत्तीसगढ़ के आदिवासी इलाकों में इस तरह की मौतों की जांच के लिए केंद्रीय टीम भेजने के संबंध में पवार ने कहा कि स्थिति की नियमित निगरानी की जा रही है. हालांकि उन क्षेत्रों में जहां कम प्रयास किए जाते हैं, केंद्र जमीनी आकलन के लिए टीम भेजने पर विचार कर सकता है. सोर्स-भाषा

और पढ़ें