जयपुर बच्चों ने जानी अंतराष्ट्रीय योग दिवस की अहमियत, डिजिटल बाल मेला की टीम संग मनाया योग दिवस

बच्चों ने जानी अंतराष्ट्रीय योग दिवस की अहमियत, डिजिटल बाल मेला की टीम संग मनाया योग दिवस

बच्चों ने जानी अंतराष्ट्रीय योग दिवस की अहमियत, डिजिटल बाल मेला की टीम संग मनाया योग दिवस

जयपुर: दुनिया भर में हर साल 21 जून का दिन अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के तौर पर मनाया जाता है. माना गया है कि मानव सभ्यता की शुरूआत से ही योग का विशेष महत्व है. ऐसे में 11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने हर साल 21 जून का दिन अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के तौर पर मनाए जाने की घोषणा की थी. हालांकि कोरोना महामारी के चलते इस साल योग दिवस पर देशभर में कोई बड़ा कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया लेकिन ऐसे में लोगों ने वर्चुएल जुड़ कर योग दिवस मनाया. इसी तरह बच्चों के लिए आयोजित फ्यूचर सोसाइटी और एलआईसी द्वारा प्रायोजित रचनात्मक मंच 'डिजिटल बाल मेला 2021' सीजन-2 के मंच पर भी योग दिवस मनाया गया. इस मंच पर बच्चों की प्रतिभा में चार चांद लगाने और उन्हें योगा का महत्व समझाने के लिए योगा ट्रेनर दिव्या शेखावत आई जिसने डिजिटल बाल मेला में ना सिर्फ बच्चों को योग से जुड़ने के लिए ना सिर्फ सीख दी बल्कि उन्होंने इस दौरान बच्चों से व्यायाम के कुछ आसान भी साझा किेये. जिसे रोजमर्रा की जिंदगी में करने से बच्चे निरोग होंगे.

बच्चों ने जानें योगा करने के क्या है फायदे:
खास तौर पर योगा के लिए आयोजित किए गए इस सेशन में बच्चों ने योगा क्यों किया जाता है और इसे करने के ​क्या फायदे है इन सभी सवालों के जवाब जानें. वही बच्चों को दिव्या ने कई आसन भी करके बताये जिसे देखकर बच्चें खुद भी योगा करने लगे. आपका बता दें कि इस सेशन में बच्चों के साथ ही उनके माता—पिता भी जुड़े जिन्होंने बच्चों को योगा कें प्रति रूचि जगाने की ओर बढ़ावा दिया.योगा ट्रेनर दिव्या ने बच्चो को सबसे पहले योग के बारे में बताया उन्होंने बताया कि योगा का मतलब जोड़ना होता है जो हमारे शरीर, मन, भावनाओं को संतुलित करने और तालमेल बनाने का एक साधन है. दिव्या से मिलकर इस सेशन में बच्चे बहुत खुश हुए.

इस सेशन में दिव्या ने बच्चों को सूर्यास्त जैसे कई आसन करके इनका महत्व भी बताया. दिव्या के साथ ही बच्चे ऑनलाइन सेशन में योगा करने लगे और इसकी महत्वता को समझाते हुए दिव्या से वादा किया कि वो हर रोज सुबह जल्दी उठ कर योगा करेंगे. योगा के लिए आयोजित किए गए इस सेशन में बच्चों को दिव्या ने हेल्थ टिप्स भी दिये. उन्होंने बच्चों को कोरोना में बाहर की चीजों से बचने का सुझाव दिया तो वही हेल्थी रहने के लिए हर रोज योगा, और हेल्थी फ्रूट खाने की सलाह दी.

आज डिजिटल बाल मेला के बच्चों से रूबरू होगी श्वेता बैद:
डिजिटल बाल मेला में आयोजित हुए इस स्पेशल सेशन के बाद आज बच्चे भारतीय मूल की विदेशी हस्ती श्वेता बैद से संवाद करेंगे. जी हां आपको बता दें कि ये बच्चों का पहला ऐसा सेशन होगा जिसमें वो ना सिर्फ अपने देश के बारे में बल्कि विदेशों के तौर—तरीकों को भी जानेंगे. आज डिजिटल बाल मेला के मंच पर भारतीय मूल की अमेरिकन निवासी श्वेता बैद भी बच्चों के मनोबल को बढ़ाने आ रही है. जो बच्चों के साथ शहरों की साफ सफाई में उनके योगदान पर बात​ करेंगी और वही उन्हें स्वच्छ अभियान के प्रति जागरूक करेंगी. आपको बता दें कि कुछ समय पहले ही भारत आई श्वेता बैद ने अपने एक इंटरव्यू में जयपुर नगर निगम की सराहना की थी.उनका मानना है कि शहरी सरकार का सबसे बड़ा काम साफ-सफाई और सिटी के लोगों की हेल्प करना होता है. जिसके तहत वो हर कदम पर प्रयास करती रहेगी और लोगों का जागरूक करेंगी. यही कारण है कि श्वेता बाल मेला के मंच पर नन्हे बच्चों को शहर को स्वच्छ रखने का महत्व बताएंगी.

श्वेता से आज शाम 5:30 बजे सीधा संवाद:
श्वेता बैद के साथ बच्चों का संवाद आज शाम 5:30 बजे डिजिटल बाल मेला द्वारा आयोजित गूगल मीट पर होगा जिसमें श्वेता बच्चों संग शहरों की साफ सफाई में बच्चों के योगदान पर संवाद करेगी. बाल मेला के प्लेटफॉर्म पर श्वेता डोर टू डोर गारबेज कलेक्शन के साथ दूषित वातावरण से एन्वायरमेंट पर पड़ रहे प्रभाव से भी बच्चों को अवगत कराएगी. 

डिजिटल बाल मेला 2021 से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां:
देश के किसी भी हिस्से से'डिजिटल बाल मेला सीजन2' से जुड़ने के लिए बच्चें इस   https://meet.google.com/ysn-pfjh-shh.  गूगल लिंक पर क्लिक करें. इस लिंक के जरिए बच्चे हर दिन होने वाले सेशन में शामिल हो सकते है और मंत्रियों से अपने मन की बात कर सकते है. तो वही डिजिटल बाल मेला सीजन-2 में 'बच्चों की सरकार कैसी हो' की किसी भी प्रतियोगिता-रजिस्ट्रेशन, अवार्ड या मेले से संबंधित अन्य जानकारी के लिए आप मेले की आधिकारिक वेबसाइट, व्हाट्सऐप, फेसबुक पेज, इंस्टाग्राम पर संपर्क कर सकते हैं. 


 

और पढ़ें