चोरी-छूपे Military Technology चीन को पहुंचा रहा था इंजीनियर, कोर्ट ने दी 38 महीने कैद की सजा

चोरी-छूपे Military Technology चीन को पहुंचा रहा था इंजीनियर, कोर्ट ने दी 38 महीने कैद की सजा

चोरी-छूपे  Military Technology चीन को पहुंचा रहा था इंजीनियर, कोर्ट ने दी 38 महीने कैद की सजा

वाशिंगटनः  हाल ही में चीनी-अमेरिकी व्यक्ति को सेना की संवदेनशील तकनीक चीन को देने के आरोप में 38 महीने के कैद की सजा सुनाई गई है.  इस बात की जानकारी न्याय विभाग ने दी है. न्याय विभाग ने बताया कि वाई सुन (49) टक्सन में बतौर इलेक्ट्रिकल इंजीनियर पिछले 10 साल से रेथियॉन मिसाइल एंड डिफेंस के साथ काम कर रहा था. इस मामले में उसने पहले ही अपना दोष स्वीकार कर लिया था. 

आपको बता दे कि रेथियॉन मिसाइल एंड डिफेंस’ अमेरिकी सेना के इस्तेमाल के लिए मिसाइल प्रणाली को विकसित करती है और उसका निर्माण करती है. संघीय अभियोजकों के अनुसार सुन ने दिसम्बर 2018 से दिसम्बर 2019 के बीच चीन की निजी यात्रा की और इस दौरान उन्होंने यह संवेदनशील जानकारी वहां पहुंचाई है. इतना ही नहीं उसने अपना आरोप स्वीकार भी कर लिया है. 

मामले की जानकारी देते हुए सहायक अटॉर्नी जनरल जॉन सी. डेमर्स ने कहा कि सुन एक कुशल इंजीनियर है और भरोसे के साथ उसे संवेदनशील मिसाइल तकनीक से जुड़ी जानकारी सौंपी गई थी और उसे अच्छे से पता था कि वह उसे कानूनी तौर पर दुश्मन को नहीं सौंप सकता है. उन्होंने कहा कि  मगर  फिर भी उसने ये जानकारी चीन को दी है. (सोर्स-भाषा)

और पढ़ें