चित्तौड़गढ़ Chittorgarh: जिले का सबसे बड़ा गंभीरी बांध हुआ ओवरफ्लो, 3 छोटे गेट खोल की जा रही पानी निकासी

Chittorgarh: जिले का सबसे बड़ा गंभीरी बांध हुआ ओवरफ्लो, 3 छोटे गेट खोल की जा रही पानी निकासी

Chittorgarh: जिले का सबसे बड़ा गंभीरी बांध हुआ ओवरफ्लो, 3 छोटे गेट खोल की जा रही पानी निकासी

चित्तौड़गढ़: जिले का सबसे बड़ा गंभीरी बांध (Gambhiri Dam) अब 65 साल का हो गया है. वर्ष 1957 में गंभीरी बांध का निर्माण कार्य पूरा हुआ था. तब से अब तक यह बांध पेयजल स्त्रोत के साथ ही सिंचाई के लिए किसानों का साथी बना हुआ है. गंभीरी बांध से चित्तौड़गढ़ और निंबाहेड़ा तहसीलों के 62 गांवों में 7 हजार 575 हेक्टेयर कृषि भूमि की सिंचाई होती है.

इस बार इंद्रदेव की मेहरबानी से 23 फीट भराव क्षमता वाले गंभीरी बांध पर मंगलवार को 2 फीट का ओवरफ्लो होने से बांध के 8 छोटे गेट खोले गए थे. हालांकि आज अल सुबह 5 गेट बंद कर दिए है. फिलहाल बांध के 3 गेट खोलकर पानी की निकासी की जा रही है. बांध से पानी निकासी के चलते कई रास्ते अवरूद्ध हो गए हैं. वहीं चित्तौड़गढ़ शहर की लाइफ लाइन गंभीरी नदी का भी जल स्तर बढ़ा है. 
 

और पढ़ें