चूरू: एक मां ने अपनी बेटियों के साथ मांगी इच्छा मृत्यु, दुष्कर्म के मामले में कार्रवाई नहीं होने से आहत होकर लगाई गुहार

चूरू: एक मां ने अपनी बेटियों के साथ मांगी इच्छा मृत्यु, दुष्कर्म के मामले में कार्रवाई नहीं होने से आहत होकर लगाई गुहार

चूरू: एक मां ने अपनी बेटियों के साथ मांगी इच्छा मृत्यु, दुष्कर्म के मामले में कार्रवाई नहीं होने से आहत होकर लगाई गुहार

सरदारशहर(चूरू): तहसील के ग्रामीण क्षेत्र की दुष्कर्म पीड़ित दो बेटियों व माँ सहित परिवार ने राष्ट्रपति के नाम उपखंड अधिकारी रीना छिंपा को ज्ञापन सौंपकर इच्छा मृत्यु की गुहार लगाई है. ज्ञापन में बताया गया कि हर इंसान जीवन जीना चाहता है चाहे वह अंधा हो लूला हो या विकलांग ही क्यों न हो, लेकिन हमारे पूरे परिवार के साथ एक आईपीएस ऑफिसर के सगे भांजे ने जबरदस्ती दुष्कर्म किया जिसमें न्यायालय सरदारशहर में 164 सीआरपीसी में बयान भी हो चुके हैं. लेकिन उस आईपीएस के दबाव में व राजनीतिक नेताओं के दबाव के चलते बाहुबली अपराधी हमारे घर के आगे से गाड़ियों में मोटरसाइकिल व बंदूके लहराते हुए घूम रहे हैं. इस जलालत भरी जिंदगी व हमें न्याय नहीं मिलने से पूरा परिवार आपसे इच्छा मृत्यु की मांग करता है. 

यह है पूरा मामला: 
8 जनवरी को सरदारशहर पुलिस थाने में दर्ज मामले में पीड़िता ने बताया कि गांव के नरेन्द्रसिंह व बजरंग सिंह के सगे मामा पुलिस अधीक्षक है जिस कारण पूरे गांव में इन लोगों का खौफ है. दिनांक 31 दिसंबर रात्रि को करीब 11:00 बजे नरेन्द्र सिंह पुत्र हनुमान सिंह पीड़िता के घर आकर उसकी पुत्री के साथ डरा धमकाकर परिवार को जान से मारने की धमकी देकर दुष्कर्म किया. इसी प्रकार बजरंग सिंह ने पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया और पीड़िता की नाबालिग पुत्री के साथ किशन सिंह पुत्र मूल सिंह और रामचन्द्र पुत्र कल्याण सिंह ने रात्रि को उनके घर में घुसकर शराब के नशे में दुष्कर्म करने की कोशिश की. 

और पढ़ें