भारत-अमेरिका सहयोग का प्रमुख स्तंभ होगी जलवायु भागीदारी : बाइडेन

भारत-अमेरिका सहयोग का प्रमुख स्तंभ होगी जलवायु भागीदारी : बाइडेन

भारत-अमेरिका सहयोग का प्रमुख स्तंभ होगी जलवायु भागीदारी : बाइडेन

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति जो. बाइडेन (US President Joe. Biden) ने कहा है कि वह जलवायु एवं ऊर्जा उद्देश्यों की प्राप्ति को भारत के साथ द्विपक्षीय सहयोग (Bilateral Cooperation) का एक प्रमुख स्तंभ बनाना चाहते हैं और मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ काम करने को लेकर आशान्वित हैं.

द्विपक्षीय सहयोग को गहरा करने के लिए भागीदारी की घोषणा की: 
बाइडन की टिप्पणी दोनों देशों द्वारा भारत-अमेरिका जलवायु एवं स्वच्छ ऊर्जा एजेंडा 2030 भागीदारी की घोषणा किए जाने के एक दिन बाद आई. भारत और अमेरिका ने पेरिस समझौते (Paris Agreement) के लक्ष्यों को प्राप्त करने के वास्ते मौजूदा दशक में संबंधित क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग को गहरा करने के लिए इस भागीदारी की घोषणा की है. बाइडन ने जलवायु परिवर्तन (Climate Changes) पर आयोजित दो दिवसीय वर्चुअल शिखर सम्मेलन (Virtual Summit) में शुक्रवार को अपने संबोधन में कहा कि जलवायु एवं ऊर्जा संबंधी हमारे उद्देश्यों को प्राप्त करने, इसे हमारे द्विपक्षीय सहयोग का प्रमुख स्तंभ बनाने के लिए मैं भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के साथ मिलकर काम करने को लेकर आशान्वित हूं.

भागीदारी में जलवायु कार्रवाई और स्वच्छ ऊर्जा की दिशा में 2030 के महत्वाकांक्षी लक्ष्य को हासिल करने के लिए 450 गीगावाट नवीकरणीय ऊर्जा (450 GW Renewable Energy) स्थापित करना शामिल है.

और पढ़ें