WorldNOTobaccoDay: CM ने रघु शर्मा को दी 'हुक्का बार' के 'इलाज' की जिम्मेदारी

Vikas Sharma Published Date 2019/05/31 12:51

जयपुर: देश में आज विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जा रहा है. इस मौके पर राजधानी के बिड़ला सभागार में राज्य स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा चिकित्सा राज्यमंत्री डॉ.सुभाष गर्ग सहित चिकित्सा विभाग के आलाधिकारी मौजूद हैं. 

चिकित्सा मंत्री ने दिया संबोधन 
कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलित कर की गई. इस अवसर पर चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि 'आज राजस्थान के लिए गौरव का दिन है कि प्रदेश को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तंबाकू निषेध के लिए पुरस्कार मिला है. उन्होंने 'WHO की तरफ से मिले पुरस्कार को बड़ी उपलब्धि बताया इसके अलावा उन्होंने मुख्यमंत्री गहलोत को लेकर भी बयान दिया. चिकित्सा मंत्री ने कहा कि गहलोत गांधी तो नहीं, पर उनके अंदर गांधी के गुण बसते हैं. 'खुद को उनके साथ पाकर मुझे होता है गर्व, CM की प्रेरणा से दवा और जांच योजना का दायरा बढ़ा रहे हैं, कहा- 'कैंसर,किडनी समेत अन्य कई गंभीर बीमारियों की मुफ्त दवाई मिलेगी.'' 

वहीं राज्य स्तरीय कार्यक्रम मिशन के निदेशक एनएचएम डॉ. समित शर्मा ने अपने संबोधन में तंबाकू उत्पाद कंपनी आईटीसी पर निशाना साधा और कहा कि यह कंपनी बच्चों को टारगेट कर रही है. 

गहलोत ने रघु शर्मा को दी हुक्का बार के इलाज की जिम्मेदारी

इसके अलावा कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी अपना संबोधन देते हुए कहा कि चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा को हुक्का बार का भी इलाज करना चाहिए. उन्होंने कहा कि प्रदेश को तंबाकू उत्पादों से 17 हजार करोड़ का राजस्व मिलता है जबकि कैंसर समेत अन्य रोगों के उपचार पर साल भर में 1 लाख करोड़ रुपए खर्च होते हैं. वहीं उन्होंने ई-सिगरेट को बंद करना राजस्थान सरकार का बड़ा कदम बताया. सीएम गहलोत ने कहा कि सिगरेट पर प्रतिबंध लगाना काफी मुश्किल है लेकिन भारत सरकार इस पर फैसला ले सकती है. अगर देश भर में प्रतिबंध लगता है तभी इस पर रोक लग सकती है. वहीं सीएम ने हुक्का बार के संचालन को प्रदेश में बड़ी बिमारी बताते हुए इसके इलाज की जिम्मेदारी चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा को सौंपी हैं. 

गुजरात में शराब के बैन के बाद भी सर्वाधिक सेवन 
इसके अलावा सीएम गहलोत ने शराब को लेकर गुजरात सरकार पर तंज कसा. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से ही गुजरात में शराब के सेवन पर प्रतिबंध है लेकिन अगर कहीं सर्वाधिक शराब का सेवन होता है तो वह गुजरात में. उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान करीब 1 महीने मैं प्रचार के लिए गुजरात में रुका तब पता चला की यहां शराब आराम से मिलती है और पी जाती है. 

नि:शुल्क दवा योजना से ही निकली आयुष्मान भारत
विश्व तंबाकू निषेध दिवस के मौके पर सीएम गहलोत ने कहा कि -'पहला सुख निरोगी काया है, 'हमने राज्य में निशुल्क दवा योजना शुरू की और पूरे देश में हमारी इस योजना की तारीफ हुई.आयुष्मान भारत राजस्थान के निशुल्क दवा के बाद ही उपजी सोच है.' वहीं इस कार्यक्रम में CM गहलोत ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मिले पुरस्कार के लिए चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा समेत पूरी टीम को बधाई दी. 

विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर प्रदेश को मिले दो पुरुस्कार
बतादें, चित्तौड़गढ़ जिले को तंबाकू निषेध को लेकर पहला पुरस्कार मिला है जबकि जयपुर को दूसरा और तीसरे नंबर पर झालावाड़ रहा है.इस मौके पर मुख्यमंत्री गहलोत ने CMHO नरोत्तम शर्मा को पुरस्कार दिया. इसके अलावा गहलोत ने वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए चिकित्सा मंत्री को बैच पहनाया. जयपुर शहर तंबाकू छोड़ने के लिए सर्वाधिक शपथ दिलाने में अव्वल रहा है. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in