सामुहिक दुष्कर्म पीड़िता ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में ठहराया तीनों आऱोपियों को मौत का जिम्मेदार

सामुहिक दुष्कर्म पीड़िता ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में ठहराया तीनों आऱोपियों को मौत का जिम्मेदार

सामुहिक दुष्कर्म पीड़िता ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में ठहराया तीनों आऱोपियों को मौत का जिम्मेदार

बुलंदशहर: उत्तर प्रदेश में बुलंदशहर जिले के अनूपशहर क्षेत्र से एक हैरत-अंगेज मामला सामने आया है जहां एक युवती ने आत्महत्या करली है औऱ सुसाइड नोट पर तीन लोगों का नाम लिखकर उन्हें उसकी मौत का जिम्मेदार ठहराया है. खबर है कि प्रदेश के एक गांव में 19 वर्षीय एक युवती ने  आत्महत्या कर ली है और एक सुसाइड नोट छोड़ा है जिसमें उसने तीन लोगों को अपनी मौत के लिए जिम्मेदार बताया है. फिलहाल तीनो आरोपी फरार हैं.

किशोरी के पिता की ओर से की गई लिखित शिकायत के आधार पर पुलिस ने आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया है. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह बताया कि युवती ने तीन अक्टूबर को गांव के कमरुद्दीन के खिलाफ अपहरण, छेड़छाड़ और जान से मारने की धमकी देने की शिकायत दर्ज कराई थी.उन्होंने बताया कि शिकायत दर्ज कराने के बाद युवती ने कहा कि उसने परिवार के दबाव में शिकायत दर्ज कराई और संकेत दिया कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई थी.

पुलिस के मुताबिक सीआरपीसी की धारा-164 के तहत दर्ज बयान में युवती ने घटना से पूरी तरह से इनकार किया है. उन्होंने बताया कि पीड़िता के बयान के आधार पर मामले में पुलिस ने अंतिम रिपोर्ट लगा दी है. पुलिस ने बताया कि 24 अक्टूबर को युवती ने दूसरी शिकायत कमरुद्दीन, उसके मामा मुबीन और दोस्त अबरार के खिलाफ दर्ज कराई है. शिकायत में पीड़िता ने बताया कि 16 अक्टूबर को तीनों आरोपी अलीगढ़ जिला स्थिति मुबीन के घर ने गए और उससे दुष्कर्म किया था. 

सिंह ने बताया कि मामले की जांच में प्रथमदृष्टया आरोपों की पुष्टि नहीं हुई लेकिन जांच अधिकारी को मामला सुलझाना चाहिए था लेकिन ऐसा नहीं हुआ जिसकी वजह से उसे निलंबित कर दिया गया है. मामले में लापरवाही के चलते अनूपशहर के क्षेत्राधिकारी और अनूपशहर थाने के प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है और पुलिस अधीक्षक (अपराध्) को मामले की जांच कर 24 घंटे में रिपोर्ट देने को कहा गया है. फिलहाल आगे क्या होगा ये तो इस पर अभी कुछ कहा नहीं जा सकता है. (सोर्स-भाषा)

और पढ़ें