बांदीकुई बांदीकुई में लगाया सम्पूर्ण लॉकडाउन, आगामी आदेश तक इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर सब बंद  

बांदीकुई में लगाया सम्पूर्ण लॉकडाउन, आगामी आदेश तक इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर सब बंद  

बांदीकुई में लगाया सम्पूर्ण लॉकडाउन, आगामी आदेश तक इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर सब बंद  

बांदीकुई (दौसा): कोरोना का संक्रमण लगातार फैलता जा रहा है और इस संक्रमण को रोकना प्रशासन के लिए एक चुनौती बनता जा रहा है. बांदीकुई शहर में प्रतिदिन आ रहे कोरोनावायरस के संक्रमण को देखते हुए जिला मजिस्ट्रेट पीयूष समारिया ने बांदीकुई शहर में संपूर्ण लॉक डाउन करने का निर्णय लिया है. जिसका आज व्यापक असर देखने को मिला.

इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर सब बंद:
बांदीकुई नगर पालिका क्षेत्र में एक भी दुकान नहीं खोली, वहीं बांदीकुई में सिर्फ मेडिकल स्टोर और अस्पताल ही संचालित किए जा रहे हैं. बांदीकुई शहर में बिना कारण जाने वाले लोगों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है. सिर्फ चिकित्सा कारणों से जाने वाले लोगों को ही बांदीकुई में प्रवेश दिया जा रहा है. इसके अलावा सरकारी कर्मचारी अधिकारियों के वाहन अनुमति से चलाए जा रहे हैं और पुलिस, दमकल और रसद वाहन प्रतिबंध से मुक्त रखे गए हैं. इसी तरह बांदीकुई नगर पालिका क्षेत्र में आने वाले सभी मंदिर बंद हैं और वहां दर्शनों की व्यवस्था भी बंद कर रखी है.

संस्कृत शिक्षा विभाग का ऑनलाइन पढ़ाई के लिए एप लॉन्च, संस्कृत शिक्षा मंत्री डॉ.सुभाष गर्ग ने की एप लॉन्च

आमजन को लॉकडाउन का पालन करने के निर्देश:
मंदिर की देखरेख के लिए निर्धारित समय के लिए दो व्यक्तियों को जाने की अनुमति दी गई है, इधर कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए किए गए इस संपूर्ण लॉक डाउन का बांदीकुई शहरवासी भी सराहना कर रहे हैं और लॉक डाउन का पालन करने की बात कहते हुए अन्य लोगों से भी लॉक डाउन का पालन करने की अपील कर रहे हैं. दौसा कलेक्टर ने भी लोगों से बिना वजह से बाहर नहीं निकलने की अपील की है. इधर लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए बांदीकुई एसडीएम पिंकी मीणा भी अधिकारियों की बैठक लेती हुई नजर आई और बाजार में अनावश्यक लोगों की आवाजाही प्रतिबंधित करने के लिए पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए. 

जयपुर के सुभाष चौक इलाके में पटाखा कारखाने में आग, लापरवाही की वजह से चली गई एक व्यक्ति की जान

और पढ़ें