कांग्रेस के 2 दिवसीय शक्ति प्रशिक्षक प्रशिक्षण शिविर का समापन

Divya Gaur Published Date 2019/02/12 07:56

जयपुर। कांग्रेस की ओर से 2 दिवसीय शक्ति प्रशिक्षक प्रशिक्षण शिविर का आज समापन हो गया। दो दिन तक चले इस शिविर में कांग्रेस के संगठन को मज़बूत कर कांग्रेस की पहुंच घर-घर और हर व्यक्ति तक पहुंचने पर ज़ोर दिया गया। साथ ही आने वाले लोकसभा चुनावों में पार्टी को विधानसभा से भी उम्दा जीत दिलाकर केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनाने में पूरे जोश से उतरने के लिए आह्वान किया गया।

प्रशिक्षण शिविर में मुख्य सचेतक महेश जोशी, चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा, मीडिया चेयरपर्सन अर्चना शर्मा, महासचिव गिर्राज गर्ग, मुमताज मसीह, ज्योति खंडेलवाल, सुरेश चौधरी समेत कई पदाधिकारी मौजूद रहे। इस शिविर में लोकसभा चुनावों की तैयारियों में मद्देनज़र कार्यकर्ता को जानकारी दी गई, वहीं संगठन को लेकर भी चर्चा हुई। साथ ही प्रशिक्षकों की ओर से कांग्रेस को मजबूत बनाने की तैयारी के बारे में बताया गया।

AICC महासचिव और राजस्थान प्रभारी अविनाश पांडे आज बाड़ा पदमपुरा पहुंचे, जहां उन्होंने कांग्रेस पार्टी की ओर से आयोजित कांग्रेस के शक्ति प्रशिक्षक प्रशिक्षण शिविर के समापन शिविर में भाग लिया। इस शिविर का समापन राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे के भाषण के साथ हुआ। इस मौके पर AICC महासचिव अविनाश पांडे ने इस शिविर में भाग ले रहे पदाधिकारियों से कहा कि आने वाले लोकसभा चुनाव एक बड़ी चुनौती हैं और हमें मिलकर इस चुनौती से जीतना है।

शिविर में एक खास बात ये भी देखने को मिली कि छोटे बड़े का भेद भूलते हुए पूर्व सांसद से लेकर NSUI के पूर्व अध्यक्ष तक सभी इस शिविर का हिस्सा बनते दिखाई दिए। इसमे पूर्व सांसद ताराचंद भगोरा, शंकर पन्नू, पूर्व विधायक सुरेंद्र जाड़ावत, पूर्व मेयर ज्योति खंडेलवाल, NSUI के पूर्व अध्यक्ष राकेश मीणा समेत कई छोटे बड़े नेता इस ट्रेनिंग के पार्ट बने। साथ ही कई पीसीसी के वरिष्ठ पदाधिकारी, विधानसभा चुनाव प्रत्याशी और पूर्व जिलाध्यक्षों ने भी इस शिविर में संगठन को मज़बूत बनाने को लेकर संकल्प लिया। 

बाड़ा पदमपुरा में कांग्रेस के शक्ति प्रशिक्षक प्रशिक्षण शिविर में AICC महासचिव अविनाश पांडे ने कहा कि इस शिविर के लिए प्रदेश से सिर्फ 124 नेताओं को चुना गया। शिविर में अविनाश पांडे ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी देश में नए नेतृत्व पर काम कर रहे हैं। इस समय देश को नई ऊर्जा की जरूरत है। राजस्थान पहला प्रदेश हैं, जिसमें सबसे ज्यादा शक्ति केंद्र का काम हुआ है और इन्ही शक्ति केंद्र के माध्यम से ही आगे का नेतृत्व निर्धारित होगा।

पांडे ने कहा कि विधानसभा चुनाव के बाद अब लोकसभा चुनाव की बड़ी जिम्मेदारी है। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की योग्यता को निखार कर कांग्रेस के प्रति समर्पण भाव देना संगठन के प्रति सच्ची निष्ठा है। आज राजस्थान में 7.50 लाख शक्ति के कार्यकर्ताओं की टीम हमारे पास है, जो 73 हजार शक्ति के कार्यकर्ताओं ने 52 हजार बूथ पर मजबूती देने का काम कर रही है।

13-14 फरवरी को होने वाली अजमेर में सेवादल के कार्यकर्म के बारे में भी AICC महासचिव अविनाश पांडे ने कहा कि देश भर के सेवादल के कार्यकर्ता और पदाधिकारी कार्यकर्म में मौजूद रहेंगे। सेवा दाल का छठा राष्ट्रिय अधिवेशन में बौद्धिक स्तर पर पदाधिकारियों से चर्चा की जाएगी। 13 फरवरी को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत उपमुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ सचिन पायलेट समेत मंत्रिमंडल और पीसीसी के पदाधिकारी शामिल होंगे, वहीं 14 फरवरी को समापन कार्यक्रम में भाग लेंगे।

AICC महासचिव अविनाश पांडे ने कहा कि लोकसभा चुनाव में सेवादल विशेष भूमिका निभाएगा। देश में साम्प्रदायिक ताकतों से मुकाबला करने के लिए सेवादल के कार्यकर्ताओं को विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा। उसके अनुरूप सेवादल कार्यकर्ता देश में कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाएंगे। उन्होंने कहा कि देश में जिस तरह नफरत, साम्प्रदायिकता व स्वार्थ की राजनीति की जा रही है, उसका मुकाबला करने के लिए कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करेंगे। उन्होंने कहा कि स्वार्थ के लिए एक दूसरों को लड़ाने वाली ताकतों की देश में कोई जगह नहीं है। यह देश की एकता व अखंडता के लिए खतरा है।

कांग्रेस ने अब संगठनात्मक रणनीति बनाकर बीजेपी को पटकनी देने की तैयारी कर ली है। फिलहाल प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है और सिर पर लोकसभा चुनाव जीतने की अहम् जिम्मेदारी संगठन पर है। लिहाज़ा, पार्टी की ओर से जीत के जतन में हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। कांग्रेस भी युवाओं में जोश और उत्साह के साथ लोकसभा के इस चुनावी रण में पूरी तैयारी के साथ मुस्तैद नज़र आ रही है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in