नई दिल्ली राज्यसभा से कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद की विदाई, एक फोन कॉल का जिक्र कर भावुक हुए PM मोदी

राज्यसभा से कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद की विदाई, एक फोन कॉल का जिक्र कर भावुक हुए PM मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को एक बार फिर राज्यसभा को संबोधित किया. आज कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद समेत चार सांसदों की विदाई हो रही है. इसी दौरान पीएम नरेंद्र मोदी गुलाम नबी आजाद की तारीफ करते हुए भावुक हो गए. इतना ही नहीं इस दौरान पीएम मोदी अपने आंसू भी नहीं रोक पाएं.

गुलाब नबी आजाद से मेरे रिश्ते दोस्ताना रहे: 
राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले की घटना का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि गुलाम नबी आजाद ने उस दिन उनको फोन किया और वह फोन पर ही बहुत रो रहे थे. गुलाब नबी आजाद से मेरे रिश्ते दोस्ताना रहे हैं. राजनीति में बहस वार पलटवार चलता रहता है. लेकिन एक मित्र होने के नाते मैं उनका बहुत आदर करता हूं.

फोन पर गुलाम नबी आजाद के आंसू रुक नहीं रहे थे:
पीएम मोदी ने गुलाम नबी आजाद की तारीफ करते हुए कहा कि वो यहां के घर में बगीचे को संभालते हैं, जो कश्मीर की याद दिलाता है. गुजरात के यात्रियों पर जब आतंकवादियों ने हमला किया, सबसे पहले गुलाम नबी आजाद जी का उनके पास फोन आया. वो फोन सिर्फ सूचना देने का नहीं था, फोन पर गुलाम नबी आजाद के आंसू रुक नहीं रहे थे. 

गुलाम नबी आजाद जी देश और सदन की भी उतनी ही चिंता करते थे: 
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मुझे चिंता इस बात की है कि गुलाम नबी आजाद जी के बाद इस पद को जो संभालेंगे उनको गुलाम नबी जी से मैच करने में बहुत दिक्कते होंगी, क्योंकि गुमाब नबी जी अपने दल की चिंता करते थे. साथ ही देश और सदन की भी उतनी ही चिंता करते थे. ये छोटी बात नहीं है. वरना विपक्ष के नेता के रूप में हर कोई अपना दबदबा कायम करना चाहता है. 

मैं शरद पवार जी को भी इसी कैटेगरी में रखता हूं:
पीएम ने कहा कि मैं अपने अनुभवों और स्थितियों के आधार पर गुलाम नबी आजाद जी का सम्मान करता हूं. मुझे यकीन है कि उनकी दया, शांति और राष्ट्र के लिए प्रदर्शन करने का अभियान उन्हें हमेशा चलता रहेगा. मैं शरद पवार जी को भी इसी कैटेगरी में रखता हूं. उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान मुझे गुलाम नबी जी का फोन आया और उन्होंने मुझसे कहा कि सभी पार्टी अध्यक्षों की मीटिंग जरूर बुलाइए. इसके बाद मैंने गुमाब नबी जी के सुझाव पर मीटिंग बुलाई.


 

और पढ़ें