close ads


गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटाने के बाद कांग्रेस और भाजपा आमने सामने 

गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटाने के बाद कांग्रेस और भाजपा आमने सामने 

जैसलमेर: केंद्र सरकार ने गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा वापस लेने के बाद अब उन्हें सीआरपीएफ के कमांडो जेड प्लस सुरक्षा दी गई है. कांग्रेस इसकी जमकर निंदा कर रही है, तो भाजपा इस फैसले को सही बता रही है. इस फैसले के बाद कांग्रेस और भाजपा में टकराव की स्थिति बनी हुई है. इस मामले में कैबिनेट मंत्री बी डी कल्ला ने कहा कि गांधी परिवार से इंदिरा गांधी व राजीव गांधी ने बलिदान दिया है. 

उन्होंने कहा कि एसपीजी की सुरक्षा हटाना सरकार की नीयत को दर्शाता है. बलिदानी परिवारों से एसपीजी की सुरक्षा हटाई गई है कि मैं कड़े शब्दों में निंदा करता हूं. इसके साथ ही पूरे देश में इसका विरोध किया जाएगा. वहीं भाजपा के केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने इस फैसले को सही बताया इसकी तारीफ़ की. कैलाश चौधरी ने कहा कि जिसको जितनी सुरक्षा की आवश्यकता हो, उसको उतनी सुरक्षा मिल रही है. यह सब उस एजेंसी को पता है, किसको कितनी सुरक्षा की आवश्यकता है. उसी के आधार पर सुरक्षा व्यवस्था मिलती है. वहां पर यह व्यवस्था कानून व सुरक्षा व्यवस्था के अनुसार काम होता है. वही मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि कई ऐसे मंत्री थे, जिनको सुरक्षा की आवश्यकता ही नहीं थी, फिर भी उनको सुरक्षा मिल रही थी. जो एक राष्ट्र की संपत्ति के लिए बहुत बड़ा नुकसान था. यह निर्णय हुआ है बिल्कुल सही हुआ है. 

और पढ़ें