नई दिल्ली दिल्ली पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस ने की उपराष्ट्रपति और लोकसभा अध्यक्ष से शिकायत

दिल्ली पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस ने की उपराष्ट्रपति और लोकसभा अध्यक्ष से शिकायत

दिल्ली पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस ने की उपराष्ट्रपति और लोकसभा अध्यक्ष से शिकायत

नई दिल्ली: कांग्रेस ने राहुल गांधी से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की पूछताछ के दौरान विरोध जताने वाले पार्टी के सांसदों के साथ दिल्ली पुलिस द्वारा कथित तौर पर किए गए ‘र्दुव्यवहार’ को लेकर बृहस्पतिवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू से शिकायत की. कांग्रेस ने राज्यसभा के सभापति नायडू से आग्रह किया कि वे इस मामले का संज्ञान लेकर उचित कदम उठाएं, क्योंकि सदस्यों के विशेषाधिकार का हनन हुआ है.

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी की अगुवाई में पार्टी सांसदों के एक प्रतिनिधिमंडल ने बिरला से मुलाकात की और उच्च सदन में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के नेतृत्व में कांग्रेस के राज्यसभा सदस्यों के एक प्रतिनिधिमंडल ने उपराष्ट्रपति नायडू से मुलाकात कर अपनी बात रखी.

बिरला से मुलाकात के बाद चौधरी ने संवाददाताओं से कहा कि हमारे ऊपर अत्याचार हुआ, इस बारे में हमने लोकसभा अध्यक्ष को बताया. पुलिसकर्मियों ने हमारे सांसदों पर हमला किया. कई सांसदों को चोट आई. थानों में भी पुलिस ने ऐसा बर्ताव किया जैसे कि हम सांसद और कांग्रेस कार्यकर्ता आतंकवादी बन चुके हैं.

सारे सांसदों और सभी कार्यकर्ताओं पर हमला बोला गया:
उन्होंने कहा कि राहुल गांधी से पूछताछ करने से कांग्रेस को दिक्कत नहीं है, लेकिन बदले की राजनीति नहीं होनी चाहिए. चौधरी ने कहा कि हमने कभी नहीं कहा कि राहुल गांधी जी ईडी दफ्तर नहीं जाएंगे. हमने सिर्फ यह कहा कि हमारे नेता ईडी दफ्तर जाएंगे, तो हम उनके साथ पैदल चलकर जाएंगे. लेकिन इस तानाशाह सरकार ने पूरे दिल्ली को किले में तब्दील कर दिया. सारे सांसदों और सभी कार्यकर्ताओं पर हमला बोला गया.

कुछ दिनों के घटनाक्रमों का उल्लेख किया गया: 
उन्होंने दावा किया कि पुलिस ने कांग्रेस की कई महिला सांसदों के साथ बदसलूकी की. खड़गे की अगुवाई में कांग्रेस के राज्यसभा सदस्यों के प्रतिनिधिमंडल ने नायडू से मुलाकात कर उन्हें पत्र सौंपा जिसमें पिछले कुछ दिनों के घटनाक्रमों का उल्लेख किया गया.

इन सांसदों ने आरोप लगाया कि गत 13,14 और 15 जून को दिल्ली पुलिस ने कई सांसदों के साथ ‘दुर्व्यवहार’ किया. उन्होंने दावा किया कि राज्यसभा सदस्यों केसी वेणुगोपाल, पी चिदंबरम, शक्ति सिंह गोहिल, प्रमोद तिवारी (नवनिर्वाचित) और जेबी मैथर के साथ धक्कामुक्की की गई जिस कारण उनको चिकत्सीय उपचार कराना पड़ा.

इस मामले में उचित कदम उठाएं: 
कांग्रेस के राज्यसभा सदस्यों ने कहा कि यह सांसदों के विशेषाधिकार का स्पष्ट उल्लंघन है इसलिए उपराष्ट्रपति से आग्रह है कि इन घटनाओं का संज्ञान लें और इस मामले में उचित कदम उठाएं. बिरला से मुलाकात करने वाले कांग्रेस सांसदों के प्रतिनिधिमंडल में मुख्य सचेतक कोडिकुनिल सुरेश, सांसद सप्तगिरि उल्का और कुछ अन्य सांसद शामिल थे. नायडू से मुलाकात करने वाले पार्टी सांसदों के प्रतिनिधिमंडल में खड़गे के अलावा चिदंबरम, वेणुगोपाल, जयराम रमेश और कुछ अन्य सांसद शामिल थे. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें