जयपुर राजस्थान के चार जिलों के पंचायत चुनाव में कांग्रेस का दबदबा, पीसीसी चीफ डोटासरा का दावा, 30 में से 20 कांग्रेस पार्टी के बनेंगे प्रधान

राजस्थान के चार जिलों के पंचायत चुनाव में कांग्रेस का दबदबा, पीसीसी चीफ डोटासरा का दावा, 30 में से 20 कांग्रेस पार्टी के बनेंगे प्रधान

राजस्थान के चार जिलों के पंचायत चुनाव में कांग्रेस का दबदबा, पीसीसी चीफ डोटासरा का दावा, 30 में से 20 कांग्रेस पार्टी के बनेंगे प्रधान

जयपुर: राजस्थान के चार जिलों के पंचायत चुनावों में सत्तारूढ़ कांग्रेस का दबदबा रहा जहां उसके 278 उम्मीदवार पंचायत समिति सदस्य चुने गए. वहीं 165 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार जीते हैं. कांग्रेस की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने चुनावी नतीजों को उत्साहजनक बताते हुए दावा किया है कि 30 में से 20 पंचायत समिति में पार्टी के प्रधान बनेंगे.

राज्य निर्वाचन आयोग से मिली जानकारी के अनुसार चार जिलों की 30 पंचायत समिति के 568 सदस्यों के लिए हुए चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार 278 सीटों, भाजपा 165 सीटों, निर्दलीय 97 सीटों, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) 14 सीटों और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) 13 सीटों पर जीती है. वहीं इन जिलों में जिला परिषद सदस्यों के चुनाव भी हुए हैं जिनकी गिनती मंगलवार को सम्बद्ध जिला मुख्यालयों पर हुई. आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार चार जिला परिषद में 106 सदस्यों के लिए मतदान हुआ. इनमें से कांग्रेस 17 और भाजपा भी 17 सीटों पर जीती है. पूरे परिणाम अभी आने हैं.

वहीं डोटासरा ने पंचायत समिति चुनावों को लेकर ट्वीट किया, चार जिलों के पंचायती राज चुनावों के नतीजे हमारे लिए उत्साहजनक हैं. तीस में से 20 से अधिक पंचायत समितियों में कांग्रेस अपना प्रधान बनाने जा रही है. उन्होंने लिखा,यह जीत जनता के कांग्रेस पार्टी और सरकार के सुशासन में विश्वास की जीत है. इसके लिए सभी मतदाताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं को बहुत धन्यवाद और बधाई.

उल्लेखनीय है कि राजस्थान के चार जिलों बारां, कोटा, गंगानगर और करौली में जिला परिषद और पंचायत समिति सदस्यों के लिए मतदान तीन चरणों में हुआ था. जिसमें कुल 2251 उम्मीदवारों ने अपना चुनावी भाग्य आजमाया. इनमें से 1946 उम्मीदवार पंचायत समिति सदस्यों के लिए जबकि 305 उम्मीदवार जिला परिषद सदस्यों के लिए चुनाव मैदान में थे. इनमें से 106 जिला परिषद सदस्यों में तीन और 568 पंचायत समिति सदस्यों में से छह सदस्यों को निर्विरोध चुन लिया गया.

मतदान के पहले चरण में 64.35 फीसदी, दूसरे चरण में 68.57 फीसदी और तीसरे और अंतिम चरण में 68.99 फीसदी मतदाताओं ने वोट डाले और इस तरह चारों जिलों के तीन चरणों में कुल 67.25 प्रतिशत मतदान हुआ. इन जिला पंचायत समिति प्रधान और जिला परिषद प्रमुख का चुनाव 23 दिसंबर तथा उप प्रधान और उप प्रमुख का चुनाव 24 दिसंबर को होगा.

और पढ़ें