VIDEO: गहलोत के गढ़ में गरजे पीएम, बोले-कांग्रेस ने आतंकवाद को चर्चा से ही गायब कर दिया

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/04/22 09:10

जोधपुर। राजस्थान की 25 सीटों में सबसे हॉट समझे जाने वाली जोधपुर की लोकसभा सीट पर दूसरी बार भाग्य आजमा रहे भाजपा प्रत्याशी गजेंद्र सिंह शेखावत के समर्थन मे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विजय संकल्प रैली को संबोधित करते हुए एक बार फिर शेखावत को भारी मतों से जिताने की अपील की। पीएम नरेंद्र मोदी को सुनने और देखने के लिए लाखों की संख्या में लोग पहुंचे। शेखावत का मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत से है।

राजस्थान की राजनीति के गढ़ माने जाने वाले मारवाड़ की जोधपुर की धरती पर 4 माह बाद आये देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जोधपुर के रावण के चबूतरा मैदान में विजय संकल्प रैली में शिरकत कर न केवल जोधपुर सीट, बल्कि पूरे मारवाड़ के लिए जोश और उत्साह से इस तरह की हुँकार भरी की भाजपा पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से लेकर चुनावी सभा में आए लोगों के चेहरे पर मुस्कुराहट देखी गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुनने और देखने के लिए जोधपुर ही नहीं बल्कि जोधपुर संभाग के अलग-अलग जिलो, गांवों, कस्बो और ढाणियों से लोग पहुंचे। 

पूरा माहौल बना मोदीमय: 

नरेंद्र मोदी की सभा में भाजपाइयों ने तो पूरा माहौल मोदीमय बना दिया। किसी ने मोदी के फोटो वाली टी-शर्ट पहनी तो किसी ने मोदी वाली फोटो की टोपी पहन कर आये, तो वहीं कई लोग ऐसे भी थे जो मोदी के मुखोटे में नजर आए। हर तरफ मोदी मोदी नारों की आवाज आ रही थी और उसके साथ ही युवाओं में मोदी को लेकर खासा क्रेज देखा गया। रावण का चबूतरा मैदान में कुछ लोग नरेंद्र मोदी की फोटो तक लेकर आये तो वहीं भारतीय जनता पार्टी की महिलाओं नेताओं ने भाजपा के रंग के साफे  धारण करने के अलावा भाजपा की साड़ियां पहन रखी थी। जो आकर्षक का केंद्र बनी हुई नजर आई। 

फर्स्ट टाइम वोटर्स के किया आह्वान:

भाजपा की विजय संकल्प रैली को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने भारत माता की जय और जोधपुर वासियों को राम-राम और खम्मा घणी के साथ अपने भाषण की शुरूआत करते हुए कहा कि बीते पांच वर्ष में आपके इसी मजबूत समर्थन से एक निर्णायक और इमानदारी सरकार दिल्ली में चलाने में सफलता मिली है। अब समय आया है, आपसे फिर आर्शीवाद मांगने का और अपने काम का हिसाब देना चाहता हूं। मेरे हिसाब को जो फर्स्ट टाइम वोटर है जिनका जन्म 21वीं सदी में हुआ है और जो जीवन में पहली बार लोकसभा के लिए मतदान करने वाले है, जीवन में पहली बार देश का प्रधानमंत्री चुनने वाले हैं। मैं ऐसे 21वीं सदी में पैदा हुए पहली बार के मतदाताओं से आग्रह करूंगा कि मेरी बात ध्यान से सुने, क्योंकि सत्ता की राजनीति करने वाले कांग्रेस जैसे राजनीतिक दलों के लिए उनका 'आज' बड़ा महत्वपूर्ण होता है। वे अपने आज की चिंता करते है। जोधपुर के नौजवान बहुत समझदार है।

'पहले थी भ्रष्ट सरकार':

उन्होंने कहा कि दुनिया किसी देश को तब ही समर्थन देती है जब आपका सामर्थ्य सामने आता है। आपकी क्षमता उनको दिखती है। हमारे पास करोड़ों लोगों की शक्ति पहले भी थी। मगर उसमें आत्मविश्वास भरने वाली सरकार नहीं थी। हमारे पास संसाधन पहले भी थे मगर लेकिन पहले देश के संसाधनों का शोषण करने वाली भ्रष्ट सरकार थी। संसाधनों का विकास करने वाली सरकार नहीं थी। हमारी सैना का शौर्य, जवानों की बहादूरी हमेशा ही शीर्श पर रही है। मगर फैसला लेने और उनको खुली छूट देने वाली मजबूत सरकार नहीं थी। आतंक को काबू में करने की क्षमता हममे पहले भी थी मगर वोट बैंक को ध्यान में रखते हुए देश पर राज कर रही सरकार में वो इच्छा शक्ति नहीं थी। आज ये कांग्रेस वाले दुनिया जहां की बाते करने में लगे है, मगर इनकी सच्चाई जाननी भी जरूरी है। आज हमारे आस-पास आतंकी फैक्ट्रियां चल रही है। जो लोगों को पूजा पाठ और घूमने फिरने गए लोगों को मार रहे हैं। 

आतंकवाद को कांग्रेस ने चर्चा से ही गायब कर दिया: मोदी 

पीएम मोदी ने कहा कि श्रीलंका में क्या हुआ वह पूरी दुनिया ने देखा है, लेकिन कांग्रेस और उसके राजदरबारी कहते है कि आतंकवाद कोई मुद्दा ही नहीं है। कांग्रेस के लिए जो दस साल पहले सबसे बड़ा मुद्दा था, वह आज कैसे कांग्रेस ने अपने वोट बैंक के लिए चर्चा से ही गायब कर दिया। कांग्रेस ने 2009 में उनका जो ढखोसला पत्र लाई थी, वह पत्र यानि की झूठे वादों का पुलिंदा, देश की जनता को घुमराह करने वाला कांग्रेसी दस्तावेज, मुम्बई में हुए आतंकी हमले के बाद 2009 में कांग्रेस ने वादा किया था कि आतंकवाद पर जीरो टोलरेंस की नीति अपनाएंगे। यह 2009 के उनके घोषणा पत्र में लिखा हुआ है। 

इसके बाद के अपने पांच साल के शासन में कांग्रेस ने कैसे जीरो टोलरेंस आतंकवाद की बात कही। मगर उसके बाद पूणे में धमाका हुआ, कांग्रेस ने उसके बाद चुप्पी साध ली थी जैसे कुछ हुआ ही नही है। दिल्ली, मुम्बई और पटना में हमला हुआ, मगर कांग्रेस ने चुप्पी साधे रखी। पाकिस्तान भारत के खिलाफ बोलता रहा, दुनिया को पाकिस्तान सच लगने लगा और भारत झूठ लगने लगा, फिर भी कांग्रेस सरकार उनके महामिलावटी साथी सोते रहे। धमाके होते गए और निर्दोष लोगों की जाने जाती रही। कांग्रेस वोट बैंक की चिंता करती रही, बर्दाश्त करती रही और अपने ढखोसला पत्र को सामने रखकर सोती रही। इसी परिस्थिति में आपने इस चौकिदार को 2014 में अवसर दिया और आज परिणाम आपके सामने है। पीएम ने कहा कि अब कहां गई वो पाकिस्तान की हैकडी, आज भारत आतंकियों को उनके घर में घुसकर मारता है। 

सीएम गहलोत पर साधा निशाना:

राष्ट्रवाद पर बात करने से कांग्रेस को डर लगता है और यहां के मुख्यमंत्री ने तो बाकी सीटे गई मान लिया है। अब इज्जत बचाने के लिए जोधपुर में गली गली में घूम रहे हैं। वो भी कांग्रेस को बचाने के लिए नहीं बल्कि अपने बेटे को बचाने के लिए घूम रहे हैं। उनके लिए कांग्रेस के बाकी उम्मीदवारों से ज्यादा बेटे का महत्व है। बाकी कांग्रेस का जो होगा सो होगा। सपूतों की सराहना के बजाय पाकिस्तान के सबूतों को लेकर देश में भ्रम फैलाते है। कांग्रेस का ढखोसला पत्र एक प्रकार से पाकिस्तान का भोपू ज्यादा लगता है। 

कांग्रेस को बताया बेशर्म:

पीएम ने कहा कि यह कश्मीर से सेना हटाना चाहते है, सेना के अधिकार को हटाने की बात कर रहे है। यह मैजर शैतानसिंह जैसे शहीदों का अपमान है। शहीदों का अपमान करने वालों को हम नहीं सह सकते, चाहे वह कितना ही क्यों ना बढा हो, इस मिट्टी पर नहीं चल सकता है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री जो कि कांग्रेस के है, उनका कहना है कि जो गरीब है जिनको भूखे मरना पडता है। जिनके पास खाने के लिए पैसे नहीं है, यह गरीबी के मारे सेना में जाते है। क्या दो रोटी खाने के लिए एक जवान गोली खाने जाता है, कांग्रेस के नेताओं को यह समझ नहीं है कि वह रोटी खाने के लिए नहीं वह सीने पर गोलियां खाने के लिए जाता है। कांग्रेस को बेशर्म बताते हुए कहा कि क्या ऐसे लोगो को माफ किया जाना चाहिए। यह शहीदों और वीरों की धरती है। ऐसे में ऐसी पार्टी को एक पल के लिए राजस्थान में नहीं टिकने देगी। 

पीएम ने कहा कि अपनी इसी सोच की वजह से कांग्रेस ने अपने देश को रक्षा मामलो में आत्मनिर्भर नहीं बनने दिया। बीते पांच वर्षो में भाजपा सरकार ने इस स्थिति को बदलने का प्रयास किया और रक्षा उत्पादन में 80 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई है। रक्षा क्षेत्र के निर्यात में भी 100 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई है। जो भारत के अहित की बात करेगा, उसके साथ हम सख्ती से निपटेंगे। भारत में आस्था के नाम पर पाकिस्तान में प्रताडित हो रहे है, जो कांग्रेस की गलती से परेशान है। उनकी नागरिकता का प्रावधान भी हम करने वाले है। जो अवैध तरीके से भारत में आए है जो अपना देश छोड़कर भारत के संसाधनों पर कब्जा करने आए उनके साथ भी सख्ती से निपटा जाएगा। नरेन्द्र मोदी अकेला नहीं है, 130 करोड हिंदुस्तानियों के दिलों में बसता है। 

प्रधानमंत्री मोदी का राजस्थानी साफा पहनाकर स्वागत:

रावण का चबूतरा मैदान में आयोजित इस विजय संकल्प रैली में मंच पर पहुंचने के बाद प्रधानमंत्री मोदी का राजस्थानी साफा पहनाकर स्वागत किया गया, तो वहीं भारतीय जनता पार्टी के सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत ने नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में अपना उद्बोधन दिया और 5 साल के कार्यकाल में कराए गए कार्यों का उल्लेख किया। वहीं दूसरी और भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र गहलोत, जसवंत सिंह विश्नोई, राज्यसभा सदस्य नारायण पंचारिया, रामनारायण डूडी, भाजपा शहर जिलाध्यक्ष जगत नारायण जोशी, सूरसागर विधायक सूर्यकांता व्यास, फलोदी विधायक पब्बाराम विश्नोई और देहात भाजपा अध्यक्ष जगराम बिश्नोई ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अगवानी करने के साथ स्वागत किया। गौरतलब है कि गजेंद्र सिंह शेखावत पिछला चुनाव 4 लाख से अधिक वोटों से जीते थे और ऐसे में इस बार के चुनाव में उनको खुद का रिकॉर्ड कायम करने के अलावा जीत का नया रिकॉर्ड बनाना भी उनके सामने बड़ी चुनौती है।

... जोधपुर से राजस्थान ब्यूरो चीफ़ योगेश शर्मा, सवांददाता शिव प्रकाश पुरोहित, आयुषी शेखावत, वैशाली राजावत और राजीव गौड़ की खास रिपोर्ट

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in