जयपुर VIDEO: कांग्रेस नेता डोटासरा ने दलित छात्र के परिजनों के लिए 20 लाख रुपये की आर्थिक सहायता की घोषणा की

VIDEO: कांग्रेस नेता डोटासरा ने दलित छात्र के परिजनों के लिए 20 लाख रुपये की आर्थिक सहायता की घोषणा की

जयपुर: कांग्रेस की राजस्थान इकाई के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने जालौर जिले में दल‍ित छात्र की मौत के मामले में पीड़ित परिवार को पार्टी की ओर से 20 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की मंगलवार को घोषणा की और कहा कि यह आर्थिक सहायता आज ही दी जाएगी. डोटासरा ने जालौर में संवाददाताओं से कहा कि मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा मुख्यमंत्री राहत कोष से पीड़ित परिवार के लिए घोषित पांच लाख रुपये के अलावा पार्टी की प्रदेश इकाई उसे 20 लाख रुपये की आर्थिक मदद देगी. उन्होंने कहा कि परिवार को कानूनी मदद भी म‍िलेगी.

उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी और नेता राहुल गांधी ने नेताओं और विधायकों को परिवार से मुलाकात करने और उसकी हर संभव मदद करने का निर्देश दिया है. डोटासरा ने कहा कि मामले की जल्‍द जांच होगी, दूध का दूध पानी का पानी होगा, आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. और शीघ्र ही आरोपी अध्‍यापक के खिलाफ चालान पेश किया जाएगा और उसे कड़ी से कड़ी सजा दिलवाई जाएगी. उन्‍होंने कहा कि  पीड़ित परिवार ज‍िस अधिकारी से चाहे, सरकार उससे जांच करवाने को तैयार है.

उन्होंने कहा कि जिस निजी स्‍कूल में यह घटना हुई है उसे शिक्षा विभाग पहले ही नोटिस जारी कर चुका है. उनके अनुसार स्‍कूल से पूछा गया है कि क्‍यों न उसकी मान्‍यता रद्द कर दी जाए.प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि इस मामले में विभागीय कार्रवाई होगी तथा पीड़ित परिवार के बाकी बच्‍चों की शिक्षा की व्‍यवस्‍था सरकार करेगी.उन्‍होंने कहा कि सरकार संवेदनशील है और पीड़ित परिवार के किसी एक सदस्य को नौकरी द‍िए जाने के बारे में भी वह सकारात्‍मक ढंग से विचार करेगी.

डोटासरा ने कहा कि पीड़ित परिवार के सदस्यों में स्थानीय पुलिस के खिलाफ नाराजगी थी, ऐसे उन्हें आश्वासन दिया गया है कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने बताया कि मंगलवार को एक पुलिस कांस्टेबल को निलंबित कर दिया गया है. इससे पहले डोटासरा, महिला एवं बाल कल्याण मंत्री ममता भूपेश, लोक निर्माण मंत्री भजनलाल जाटव, आपदा प्रबंधन एवं राहत मंत्री गोविंद राम मेघवाल और अन्य के साथ जालौर के सुराणा गांव में पीड़िता के घर गए. उन्होंने घटना पर दुख जताया और परिवार को पार्टी की ओर से हरसंभव सहयोग का आश्वासन दिया.

उल्‍लेखनीय है कि नौ वर्षीय दलित छात्र इंद्र कुमार को 20 जुलाई को स्कूल में मटके को छूने के आरोप में एक शिक्षक ने पीटा था. उसकी शनिवार को अहमदाबाद के एक अस्पताल में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई थी. आरोपी शिक्षक छैल सिंह (40) को गिरफ्तार कर लिया गया है और राज्य सरकार ने पीड़ित परिवार के सदस्यों के लिये पांच लाख रुपये की राहत की घोषणा की है.(भाषा)

और पढ़ें