जयपुर VIDEO: 27 जून को कांग्रेस कार्यकर्ताओं का राजस्थान में प्रदर्शन, अग्निपथ के खिलाफ जताएंगे विरोध

VIDEO: 27 जून को कांग्रेस कार्यकर्ताओं का राजस्थान में प्रदर्शन, अग्निपथ के खिलाफ जताएंगे विरोध

जयपुर: इस बार दिल्ली में राजस्थान की कांग्रेस ने कमाल कर दिया. राहुल गांधी के समर्थन में राजस्थान के प्रमुख कांग्रेस नेता-कार्यकर्ता दिल्ली में जुटे और विरोध प्रदर्शनों में भागीदारी की. दिल्ली में राजस्थान की कांग्रेस एक दिखी, बल्कि दिल्ली की सड़कों पर ईडी और अग्निपथ के विरोध में राजस्थान के कोने कोने से आया कांग्रेस का कार्यकर्ता नजर आया. प्रदेश कांग्रेस यही नहीं रुकेगी 27 जून को राज्य भर के हर विधानसभा क्षेत्रों में केंद्र की अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रदर्शन होंगे. दिल्ली में पांच दिनों तक चले घटनाक्रम में सीएम अशोक गहलोत विराट शख्सियत के तौर पर दिखे. 

आमतौर पर दिल्ली में राजस्थान के कांग्रेस सर्वाधिक तौर पर तब जाते है जब मौसम चुनाव का आता है. विधानसभा चुनाव के वक्त टिकट चाहने वाला कांग्रेस का नेता अपने कार्यकर्ताओं के साथ दिल्ली में टिकट प्राप्ति के लिए डेरा डाले रखता है. बहरहाल यह शायद सालों बाद ऐसा कोई अवसर होगा जब 5 दिनों तक राजस्थान के नेता कार्यकर्ता अपने नेता राहुल गांधी के लिए दिल्ली में डटे रहें, प्रदर्शन किए और गिरफ्तारियां दी. राजस्थान के कांग्रेसी दस जनपथ से मिले आदेश की पूरी पालना करते नजर. 

इस पूरे घटनाक्रम को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विराट शख्सियत के तौर पर सामने आए. पूरा मोर्चा उन्होंने संभाला चाहे मीडिया के बीच हो या फिर चाहे कांग्रेस के प्रदर्शनकारियों के बीच, गहलोत ने दिल्ली की सड़क पर आंदोलन का नेतृत्व किया. कार्यकर्ता का हौसला बढ़ाया और गिरफ्तारी दी. राजस्थान के पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने प्रदर्शन के दौरान अपने प्रदेश से आए विधायक,कार्यकर्ता,बोर्ड निगम चेयरमैन और कार्यकर्ताओं को दिशा निर्देश देने का काम किया.

दिल्ली में हुए प्रदर्शनों में पूरी भागीदारी के बाद राजस्थान की कांग्रेस फिलहाल थमने वाली नहीं है. अब केंद्र की अग्निपथ स्कीम के खिलाफ बड़े प्रदर्शनों की तैयारी है 27 जून को राज्यव्यापी प्रदर्शन और धरने दिए जाएंगे.अग्निपथ को लेकर डोटासरा ने कहा कि देश का युवा आक्रोशित है युवाओं के भविष्य को संविदा आधार पर संवारने की जगह उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ है,मोदी सरकार युवा और किसान विरोधी है. अग्निपथ के खिलाफ कांग्रेस खड़ी है.

अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रदर्शनों को सफल बनाने के लिए हर विधानसभा क्षेत्र में पीसीसी की आब्जर्वर नियुक्त किए गए हैं. प्रदर्शनों में कार्यकर्ता की भागीदारी सुनिश्चित करने और स्थानीय विधायक को मदद करने का काम आब्जर्वर करेंगे. राज्य की कांग्रेस का लक्ष्य है अग्निपथ में संविदा को खत्म करवाना. कांग्रेस विधायकों और नेताओं की पार्टी के कार्यक्रमों में भागीदारी को लेकर भी PCC रेगुलर रिपोर्ट तैयार कर रही है.
 

और पढ़ें