close ads


6,7,8 नवंबर को होगी कांस्टेबल भर्ती परीक्षा, 5438 पदों पर 17 लाख से अधिक अभ्यर्थी देंगे परीक्षा

6,7,8 नवंबर को होगी कांस्टेबल भर्ती परीक्षा, 5438 पदों पर 17 लाख से अधिक अभ्यर्थी देंगे परीक्षा

जयपुर: इस साल की सबसे बड़ी भर्ती परीक्षा की तैयारियां पूरी हो गई है. 6,7 और आठ नवंबर को होने वाली कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में 17 लाख से अधिक अभ्यर्थी शामिल होंगे, जिसे लेकर पुलिस मुख्यालय द्वारा विशेष इंतजाम किए गए हैं. एक ओर जहां परीक्षा सेन्टर्स पर कोरोना गाइडलाइन को पालन किया जाएगा तो नकल रोकने के लिए भी विशेष तैयारी की गई है. कांस्टेबल भर्ती के तहत पांच हजार 438 पदों के लिए 17 लाख से अधिक अभ्यर्थियों की 6 से लेकर आठ नवंबर तक परीक्षा होने जाने जा रही है. इसके लिए प्रदेशभर में 600 से अधिक सेन्टर्स बनाए गए हैं. सभी सेन्टर्स पर एक दिन में दो पारियों में सुबह नौ से ग्यारह और दोपहर तीन बजे से लेकर पांच बजे तक एग्जाम लिए जाएंगे. 

परीक्षा केन्द्रों पर CCTV कैमरों से रखी जाएगी नजर:
अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्रों पर दो घंटे पहले प्रवेश करने दिया जाएगा. जबकी परीक्षा के आधे घंटे पहले एंट्री बंद कर दी जाएगी. पुलिस मुख्यालय में परीक्षा को लेकर पांच नवंबर को कंट्रोल रुम  बनाया जाएगा. जबकी परीक्षा सेन्टर्स पर स्ट्रांग रुम बनाने के साथ ही सीसीटीवी कैमरों से नजर रखी जाएगी. पुलिस मुख्यालय के सूत्रों के अनुसार परीक्षा के तीनों दिन इन्टनेट बंद रखने की संभावना है. इसके साथ ही परीक्षा केन्द्रों पर जैमर भी लगाए जा सकते हैं. नकल रोकने के मद्देनजर हर पेपर के प्रश्नों का सिक्वेंस अलग होगा. इसके अलावा हर परीक्षार्थी  के दोनों हाथों के थंब इंप्रेशन लिए जाएंगे.

महंदी लगाने से हो सकती है महिला अभ्यर्थियों को परेशानी:
परीक्षार्थी के बाएं हाथ के अंगुठे का मशीन के जरिए तो दाएं हाथ के अंगुठे का फिजीकल इंप्रेशन लिया जाएगा. ऐसे महिला अभ्यर्थियों को करवा चौथ के दौरान मेहंदी लगाने में विशेष ध्यान रखना होगा. पुलिस मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना काल के अनुसार अभ्य़र्थियों को परीक्षा के लिए गृह जिले के समीप का जिला ही अलॉट किया गया है. हालांकि अभ्यर्थियों का दावा है कि उनको 400 किलोमीटर तक दूर सेंटर दिए गए हैं. परीक्षा केन्द्र पर अभ्यर्थी सिर्फ पेन ले जा सकेंगे, पेन के अलावा परीक्षार्थियों को कुछ भी साथ ले जाने की अनुमति नहीं होगी.

परीक्षार्थियों को मास्क पहन कर आना होगा अनिवार्य:
परीक्षा केन्द्रों पर कोरोना गाइडलाइन का भी पालन किया जाएगा. परीक्षार्थियों को मास्क पहन कर आना होगा तो सेन्टर्स पर थर्मल स्क्रिनिंग के अलावा सेनेटाईजर की भी व्यवस्था होगी. अगर परीक्षार्थी कोरोना पॉजिटीव है तो उसको बिठाने की अलग से व्यवस्था होगी, लेकिन इसके लिए अभ्यथी को इसके लिए कोरोना की रिपोर्ट साथ लानी होगी. पुलिस मुख्यालय द्वारा सभी एसपी,आईजी को नकल गिरोह पर नजर रखने के निर्देश दे दिए गए हैं इसके अलावा एटीएस और एसओजी पर निगरानी करेगी, इंटेलिजेंस के अधिकारी भी संभावित नकल  रोकने के लिए सतर्क रहेंगे. इस साल की सबसे बड़ी परीक्षा होने के कारण संबंधित सभी विभागों को आवश्यक तैयारियों को लेकर निर्देशित किया जा चुका है. पुलिस मुख्यालय ने राजस्थान रोडवेज  और परिवहन विभाग को पत्र लिखकर परीक्षाओं के दिन अतिरिक्त बसें चलाने का अनुरोध किया है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए शिवेंद्र परमार की रिपोर्ट  

और पढ़ें