अब भी जारी है पुराने नोट बदलने का सिलसिला  

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में अभी भी कमीशन लेकर पुराने नोटों को बदलने का काला कारोबार जारी है। लखनऊ की क्राइम ब्रांच ने हजरतगंज इलाके से 4 लोगों को 50 लाख के पुराने नोटों के साथ गिरफ्तार किया है। पकड़े गये लोग बैंक अधिकारी की साठगांठ से नेपाल ले जाकर कमीशन पर नोट बदलने का काम किया जा रहा था।

भले ही पुराने 500 और हजार के नोट चलन में न सही मगर आज भी पुराने नोट बदलने का काला कारोबार किया जा रहा है। लखनऊ की क्राइम ब्रांच की टीम ने 4 लोगों को 50 लाख के पुराने नोटों के साथ पकड़ा तो जाँच के दौरान ये खुलासा हुआ है। लखनऊ के हजरतगंज और क्राइम ब्रांच की टीम ने शनिवार देर शाम स्विफ्ट कार में सवार अमर नाथ यादव, राजेश कुमार गौतम, कृष्ण कुमार वर्मा और सुमित वर्मा नाम के चार लोगों को मुखबिर की सूचना पर पकड़ा तो कमीशन पर पुराने बन्द हो चुके नोट बदलने के कारोबार होने का खुलासा हुआ। 

पुलिस के मुताबिक इस काले कारोबार के पीछे सतीश वर्मा नाम का व्यक्ति मास्टरमाइंड है, जो यूपी को-आपरेटिव मुख्यालय शाखा में असिस्टेंट मैनेजर है। सतीश वर्मा पुराने नोट नेपाल भेजकर एक करोड़ के बदले 14 लाख रुपये लाता हैं। जिसमे 6 लाख कमीशन लेकर सतीश वर्मा नोट बदलने का काम कर रहा था। जबकि बदलवाने आय लोगो को एक करोड़ के बदले 8 लाख रुपये दिए जाते थे। फिलहाल पुलिस गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ कर रही है और इस मामले जाँच कर रही है। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in