Jaipur: हवाई यात्रा को कोरोना संक्रमण ! आज 8 फ्लाइट्स का नहीं हो रहा संचालन

Jaipur: हवाई यात्रा को कोरोना संक्रमण ! आज 8 फ्लाइट्स का नहीं हो रहा संचालन

Jaipur: हवाई यात्रा को कोरोना संक्रमण ! आज 8 फ्लाइट्स का नहीं हो रहा संचालन

जयपुर: राजधानी के सांगानेर एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स के संचालन को जैसे कोरोना संक्रमण हो गया है. आज जयपुर एयरपोर्ट से कुल 8 फ्लाइट रद्द कर दी गई हैं. जयपुर एयरपोर्ट के फ्लाइट शेड्यूल के मुताबिक रोजाना 41 फ्लाइट्स का संचालन होता है, लेकिन आज इनमें से 8 फ्लाइट रद्द कर दी गई हैं. इस कारण हवाई यात्रियों को परेशानी झेलनी पड़ रही है. 

जयपुर एयरपोर्ट पर पिछले दो सप्ताह से फ्लाइट्स के रद्द होने का सिलसिला बढ़ा है. पहले इक्का-दुक्का फ्लाइट रद्द हो रही थीं, लेकिन अब रोज करीब आधा दर्जन फ्लाइट्स रद्द की जा रही हैं. एयरपोर्ट से जुड़े सूत्रों के मुताबिक कोरोना के केसेज बढ़ने पर हवाई यात्रा पर नकारात्मक असर हुआ है. इसके अलावा अलग-अलग राज्यों ने निगेटिव आरटी-पीसीआर टैस्ट की अनिवार्यता कर दी है. इस वजह से कम संख्या में यात्री सफर कर रहे हैं. चूंकि सबसे ज्यादा संक्रमण महाराष्ट्र में देखा जा रहा है, ऐसे में मुम्बई और पुणे की फ्लाइट्स अधिक रद्द हो रही हैं. जयपुर से मुम्बई के बीच रोजाना 9 फ्लाइट और पुणे के लिए रोज 1 फ्लाइट संचालित होती है. आज मुम्बई के लिए 9 में से 5 फ्लाइट रद्द कर दी गई हैं. इसके अलावा हैदराबाद की 2 फ्लाट और एक फ्लाइट अहमदाबाद की भी रद्द की गई है. आज शेड्यूल के मुताबिक 39 फ्लाइट्स का संचालन होना था. इनमें से आज इंडिगो की 18 में से 17 संचालित हो रही हैं. स्पाइसजेट की 7 में से 6, गो एयर की 6 में से मात्र 2 फ्लाइट, एयर एशिया की 4 में से 2 और एयर इंडिया की सभी 4 फ्लाइट आज संचालित हो रही हैं. 

हवाई यात्रा पर कोरोना का ग्रहण:
- आज सुबह 8 बजे मुंबई की स्पाइसजेट की फ्लाइट SG-279 रद्द
- सुबह 8:10 बजे गो एयर की मुंबई की फ्लाइट G8-389 रद्द
- सुबह 8:25 बजे इंडिगो की मुंबई की फ्लाइट 6E-5343 रद्द
- सुबह 8:50 बजे अहमदाबाद की गो एयर की फ्लाइट G8-701 रद्द
- सुबह 9:40 बजे एयर एशिया की मुम्बई जाने वाली फ्लाइट I5-942 रद्द
- शाम 5:05 बजे गो एयर की हैदराबाद जाने वाली फ्लाइट G8-506 रद्द
- शाम 6:45 बजे गो एयर की मुम्बई की फ्लाइट G8-2608 रद्द
- रात 9:10 बजे एयर एशिया की हैदराबाद की फ्लाइट I5-974 रद्द

फ्लाइट रद्द करने के पीछे बड़ा कारण कम यात्रीभार है. 180 सीट क्षमता के विमानों में इन दिनों 50 से 100 के बीच ही यात्री चल रहे हैं. कई फ्लाइट्स में 50 से भी कम यात्री होते हैं. कई बार एयरलाइंस ऐसी स्थिति में फ्लाइट रद्द कर देती हैं. फ्लाइट रद्द करने के मामले में बड़ी मानी जाने वाली एयरलाइंस जैसे कि इंडिगो और स्पाइसजेट भी पीछे नहीं हैं. इंडिगो और स्पाइसजेट भी पिछले कुछ दिनों से लगातार इक्का-दुक्का फ्लाइट्स को रद्द कर रही हैं. यात्रियों के पास अचानक रद्द का मैसेज पहुंचने पर उनके लिए स्थिति विकट हो जाती है. क्योंकि कम फ्लाइट संख्या के चलते ऐनवक्त पर या तो उस शहर के लिए दूसरी फ्लाइट उपलब्ध नहीं होती है. यदि फ्लाइट होती भी है तो ऐनवक्त के लिहाज से यात्रियों से काफी अधिक रुपए लिए जाते हैं. कल भी जयपुर एयरपोर्ट से 6 फ्लाइट संचालित नहीं हुई थीं. कुलमिलाकर यदि आने वाले दिनों में कोरोना के केसेज में गिरावट नहीं आई और आरटी-पीसीआर टैस्ट की निगेटिव रिपोर्ट की अनिवार्यता लागू रही, तो यात्रीभार में और गिरावट आ सकती है.

...काशीराम चौधरी, फर्स्ट इंडिया न्यूज, जयपुर

और पढ़ें