देश में फिर छाया कोरोना का साया, कई राज्यों में फैली दूसरी लहर

देश में फिर छाया कोरोना का साया, कई राज्यों में फैली दूसरी लहर

देश में फिर छाया कोरोना का साया, कई राज्यों में फैली दूसरी लहर

मुंबई: रेटिंग एजेंसी क्रिसिल ने एक रिपोर्ट में सोमवार को बताया कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर कई राज्यों में फैल चुकी है, जबकि मध्य प्रदेश तथा पंजाब जैसे राज्य टीकाकरण में काफी पीछे हैं.

66 प्रतिशत शीर्ष  नए मामले छह राज्यों मेंः
क्रिसिल की शोध शाखा की एक रिपोर्ट में कहा गया कि 11 अप्रैल को समाप्त हुए सप्ताह में सामने आए नए मामलों में 66 प्रतिशत शीर्ष छह राज्यों- महाराष्ट्र, कर्नाटक, पंजाब, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और गुजरात, से हैं, जबकि इससे पिछले सप्ताह यह आंकड़ा 75 प्रतिशत था. यानी संक्रमण इन राज्यों के अलावा दूसरी जगह तेजी से फैल रहा है. रिपोर्ट के मुताबिक, फैलाव दर्शाता है कि अधिक से अधिक राज्य अब दूसरी लहर की चपेट में आने लगे हैं.

पंजाब और मध्य प्रदेश टीकाकरण में पिछड़ेः
क्रिसिल ने आगे कहा कि संक्रमण बढ़ने की एक वजग बढ़ी हुई जांच हो सकती है, लेकिन दूसरी वजह संक्रमण की उच्च दर भी है, जो अब 10.6 प्रतिशत है, जबकि सितंबर 2020 में यह आंकड़ा 6.4 प्रतिशत था. रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात और छत्तीसगढ़ ने 11 अप्रैल तक प्रति दस लाख लोगों के मुकाबले अपेक्षाकृत अधिक लोगों को टीका लगाया है, जबकि पंजाब और मध्य प्रदेश इसमें पिछड़ रहे हैं.

महाराष्ट्र में सप्ताहांत में लॉकडाउन से जीडीपी में 0.2 प्रतिशत तक कमीः
इस बीच, विदेशी ब्रोकरेज फर्म बार्कलेज ने कहा कि यदि महाराष्ट्र जैसे राज्यों में दो महीने तक आवाजाही संबंधी प्रतिबंध और सप्ताहांत में लॉकडाउन जारी रहा, तो इससे वास्तविक जीडीपी में 0.2 प्रतिशत तक कमी आ सकती है. हालांकि, ब्रोकरेज फर्म ने जीडीपी वृद्धि के अनुमान को 11 प्रतिशत पर बनाए रखना है.
सोर्स भाषा

और पढ़ें