हवाना क्यूबाः बाहर से आने वालों को अपने खर्चे पर होना पड़ेगा आइसोलेट, कोरोना वायरस के मद्देनजर लिया बड़ा फैसला

क्यूबाः बाहर से आने वालों को अपने खर्चे पर होना पड़ेगा आइसोलेट, कोरोना वायरस के मद्देनजर लिया बड़ा फैसला

क्यूबाः बाहर से आने वालों को अपने खर्चे पर होना पड़ेगा आइसोलेट, कोरोना वायरस के मद्देनजर लिया बड़ा फैसला

हवानाः क्यूबा के अधिकारियों ने शनिवार को कहा है कि कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए वे सख्त कदम उठाएंगे तथा यहां आने वाले पर्यटकों और अन्य लोगों को तब तक अपने खर्चे पर पृथक-वास में रहना होगा जब तक कि जांच में यह पुष्टि नहीं हो जाती कि वे कोरोना वायरस के नए स्वरूप से संक्रमित नहीं हैं. ये निर्णय कोरोना वायरस के मद्देनजर लिया गया है. 

इस बात की घोषणा क्यूबा में महामारी विज्ञान विभाग के निदेशक डॉ. फ्रांसिस्को दुरान ने की है. शुक्रवार को देश में कोरोना वायरस के नए स्वरूप के 910 मामले सामने आए तथा संक्रमण से तीन लोगों की मौत हुई है. दुरान ने कहा है कि छह फरवरी तक, पर्यटकों और विदेशों में रह रहे क्यूबा के लोगों को यहां आने पर उनके ही खर्चे पर होटलों में भेजा जाएगा.

उन्हें तब तक वहीं पर रहना होगा जब तक कि कोरोना वायरस के नए स्वरूप की पहचान के लिए की जाने वाली पीसीआर जांच का परिणाम नहीं आ जाता है. आमतौर पर इस जांच का परिणाम पांचवे दिन आता है. हालांकि उन्होंने बताया कि विदेशों से लौटने वाले क्यूबा के लोगों को सरकारी खर्चे पर अन्य केंद्रों में पृथक-वास में भेजा जाएगा. राजनयिकों एवं विदेशी कारोबारियों जैसे अन्य श्रेणियों के लोगों को उनके घर पर पृथक-वास में जाने दिया जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए क्यूबा में कोरोना वायरस के नए स्वरूप से संक्रमण के 25,674 मामले सामने आ चुके हैं. जिसके चलते नागर विमानन अधिकारियों ने शनिवार को कहा था कि अमेरिका, मेक्सिको, पनामा तथा बहामास से उड़ानें घटाई जाएंगी. इतना ही नहीं निकारागुआ, गुयाना, त्रिनिदाद और टोबैगो तथा सूरिनाम से उड़ानें निलंबित रहेंगी. (सोर्स-भाषा)

 

और पढ़ें