भोपाल Covid In MP: महाकाल मंदिर के पुजारी की संक्रमण से मौत, उज्जैन के सभी मंदिर किए गए बंद

Covid In MP: महाकाल मंदिर के पुजारी की संक्रमण से मौत, उज्जैन के सभी मंदिर किए गए बंद

Covid In MP: महाकाल मंदिर के पुजारी की संक्रमण से मौत, उज्जैन के सभी मंदिर किए गए बंद

भोपाल: मध्यप्रदेश में कोरोना से स्थिति लगातार बिगड़ रही है. इसे देखते हुए इंदौर और उज्जैन में लॉकडाउन 19 अप्रैल तक बढ़ना तय है. बस कलेक्टर का आदेश आना बाकी है. उधर महाकाल मंदिर के एक पुजारी की कोरोना से मौत होने और दो दूसरे पुजारियों के भी संक्रमित होने के चलते उज्जैन के सभी मंदिर बंद कर दिए गए हैं.

क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में लॉकडाउन बढ़ाने का सुझाव:
उधर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक ली है. इसमें सभी ने कोरोना चेन को तोड़ने के लिए लॉकडाउन बढ़ाने का सुझाव दिया था. इसके बाद इंदौर कलेक्टर ने साफ कर दिया कि कमेटी ने जो सुझाव दिया है. उससे सरकार सहमत है. ऐसे में लॉकडाउन बढ़ेगा और जो भी गाइडलाइन रहेगी वह जल्दी जारी कर दी जाएगी. इसमें सब्जी, दूध और राशन के लिए कुछ रियायतें दी जाएंगी.

पिछले 24 घंटो में 24 लोगों की हुई मौत:
इस बीच राज्य में कोरोना संक्रमित लगातार बढ़ रहे हैं. बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड 4,986 केस मिले हैं. 24 लोगों की मौत हुई है. सबसे ज्यादा इंदौर में 912 और भोपाल में 736 संक्रमित आए हैं. प्रदेश में एक्टिव केस 32 हजार से ज्यादा हैं. 52 जिलों में से 47 जिले ऐसे हैं जहां 100 या उससे ज्यादा एक्टिव केस हैं. अप्रैल के पहले हफ्ते में ही 23 हजार संक्रमित बढ़े हैं. संक्रमण दर 13% से ज्यादा है. अगर संक्रमितों के बढ़ने की यही रफ्तार रही तो अप्रैल के अंत तक 90 हजार संक्रमित हो जाएंगे.

प्रदेश के सभी नगर निगमों में 60 घंटे का लॉकडाउन लगाया गया:
शुक्रवार शाम 6 बजे से प्रदेश के सभी नगर निगम, नगर पालिका और नगर परिषदों में 60 घंटे का लॉकडाउन लगाया गया है. जो सोमवार सुबह 6 बजे तक जारी रहेगा. रतलाम में 9 दिन का बंद है. कटनी, खरगोन और बैतलू 7 दिन तक लॉकडाउन है. छिंदवाड़ा में गुरुवार शाम से ही 7 दिन का लॉकडाउन जारी है.

केवल जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों का ही हो रहा आवगमन:
भोपाल के कोलार क्षेत्र में भी 9 दिन का लॉकडाउन लगाया गया है. सुबह से ही भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर में सख्ती शुरू कर दी गई है. बाजार पूरी तरह से बंद हैं. सड़कों पर पुलिस तैनात है. जगह-जगह सड़कों पर बैरिकेडिंग की गई है. बेवजह सड़कों पर निकले लोगों को लौटाया जा रहा है. सिर्फ जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को ही जाने दिया जा रहा है.

और पढ़ें