भरतपुर में ओलावृष्टि से फसल नुकसान का मामला, फुलवारा गांव में किसान ने की आत्महत्या

भरतपुर: पिछले दिनों जिले के अधिकांश इलाकों में हुई भारी ओलावृष्टि और बारिश के बाद हुए फसल नुकसान के बाद भरतपुर विधानसभा क्षेत्र के पुलवारा गांव के एक किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. घटना की जानकारी मिलते ही भरतपुर एसडीएम संजय गोयल, सीओ सिटी हवासिंह सहित चिकसाना थाना पुलिस भी मौके पर पहुंचे और शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों के सुपुर्द किया.

किसान की फसल हो गई थी नष्ट: 
फुलवारा गांव का निवासी गुलाब रविवार से घर से गायब था और सोमवार को उसका शव गांव के बाहर मंदिर के एक पेड़ से लटका मिला.बताया गया कि मृतक किसान जिस खेत को आधा बटाई पर ले रखा था उसमें पैदा की गई फसल पूरी तरह ओलावृष्टि से चौपट हो गई. 

प्रभारी मंत्री डॉ सुभाष गर्ग पहुंचे रतनगढ़, फसल खराबे का लिया जायजा
घटना से पहुंचा है गहरा दुख:
वहीं चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्यमंत्री डॉ सुभाष गर्ग ने फर्स्ट इंडिया न्यूज़ को फोन पर बताया की घटना से उन्हें बेहद दुख पहुंचा है और उन्होंने सीएम को भी इस बारे में अवगत भी करा दिया है.उन्होंने कहा कि मृतक किसान के परिजनों को विशेष सहायता सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी. जानकारी मिल रही है कि जिला प्रभारी मंत्री अशोक चांदना भी सोमवार को मृतक किसान के घर जाकर परिजनों को सांत्वना देंगे.इस दौरान जिला कलेक्टर सहित कई अधिकारी मौजूद रहेंगे.

Holi festival 2020: हर्बल गुलाल और बिंदास होकर खेलिए होली, यहां पर महिलाओं ने बनाया प्राकृतिक गुलाल

और पढ़ें