Live News »

कोरोना की वजह से भीलवाड़ा में रात 8 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू, रविवार को रहेगा पूरी तरह लॉकडाउन

 कोरोना की वजह से भीलवाड़ा में रात 8 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू, रविवार को रहेगा पूरी तरह लॉकडाउन

भीलवाड़ा: कपड़ा नगरी भीलवाड़ा में कोरोना के बढ़ते कहर के बीच करीब 1 महीने बाद फिर कर्फ्यू बीती रात से लागू हो गया. कर्फ्यू की शक्ति से पालना के लिए शहर के पांच थाना क्षेत्रों में सभी प्रभारी को पाबंद किया गया है. गुरुवार रात 8 बजे से सभी थाना क्षेत्रों में गस्त बढ़ाने के निर्देश भी दिए गए हैं.

लॉकडाउन को लेकर प्रशासन ने शुरू की तैयारियां:
उधर भीलवाड़ा में रविवार को लगने वाले लॉकडाउन को लेकर प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी है. शहर के मुख्य बाजारों में सार्वजनिक निर्माण विभाग के माध्यम से बैरिकेटिंग लगवाने का काम किया गया. भीलवाड़ा शहर में बीते 1 सप्ताह से कोरोना संक्रमित लोगों की बढ़ती तादाद को देखते हुए एक बार फिर शक्ति शुरू की गई है.

Rajasthan Political Crisis: राजस्थान हाईकोर्ट के 11 अगस्त के फैसले से तय होगा सरकार का भविष्य 

फिर से सक्रिय हुई मेडिकल और प्रशासनिक टीम:
कलेक्टर शिव प्रकाश नेकाते ने कहा कि संक्रमण रोकने के लिए शहर में एक बार फिर मेडिकल व प्रशासनिक टीमों को सक्रिय किया गया है. उन्होंने कहा कि हर रविवार को भीलवाड़ा शहर में पूरी तरह लोक डाउन रहेगा. यह जनता की तरफ से स्वघोषित है. रविवार को बाजार पूरी तरह बंद रहेंगे. जबकि हर रोज रात 8 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा भीलवाड़ा नगर परिषद सीमा क्षेत्र में लगने वाले को लेकर आज रात 8 बजे से शक्ति बढ़ाई जाएगी.

सुषमा स्वराज की पहली पुण्यतिथि आज, बीजेपी नेताओं ने किया याद

और पढ़ें

Most Related Stories

भीलवाड़ा: बागोर सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र में नहीं थम रहा प्रसूताओं की मौत का सिलसिला, बीते 1 माह में 4 की मौत

भीलवाड़ा: बागोर सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र में नहीं थम रहा प्रसूताओं की मौत का सिलसिला, बीते 1 माह में 4 की मौत

भीलवाड़ा: प्रदेश में चिकित्‍सा मह‍कमें की लापरवाही से प्रसूताओं की होने वाली मौतों का सिलसिले थमने के नाम नहीं ले रहे है. ऐसी ही घटना भीलवाड़ा जिले के बागोर स्थित सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र में हुई है. जहां चिकित्‍सक और कर्मचारियों की लापरवाही के चलते प्रसुता और नवजात शिशु की मौत हो गयी. इस घटना को लेकर बागोर व आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों में आक्रोश व्‍याप्‍त है. 

बीते 1 माह में 4 प्रस्‍तुओं की मौत:  
गौरतलब है कि बागोर कस्‍बे के इस स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र में बीते 1 माह में 4 प्रस्‍तुओं की मौत हो गयी. इन मौतों को लेकर पूर्व में भी ग्रामीणों ने चिकित्‍सा महकमें मे शिकायत की मगर उच्‍चाधिकारियों ने लिपापोती के अलावा कुछ नहीं किया. इसके चलते नाराज लोगों ने आज कलेक्‍ट्रेट पर प्रदर्शन कर ज्ञापन भी सौंपा. जिसमें चिकित्‍सक व कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की गयी.

{related}

बच्‍चा 4 मिनट से ज्‍यादा जिंदा नहीं रहा:
बागोर निवासी विजय सिंह भाटी ने कहा कि मेरी पत्नि रेखा कंवर की डिलिवरी की तारीख से 3 दिन आगे बीत गये. इस पर हमारे पास ही रहने वाली दाई ने हमें भीलवाड़ा जाने से रोकते हुए उपस्‍वास्‍थ्‍य कैन्‍द्र में डिलवरी के लिए कहा. जिस पर उसने हमसे रुपये लेकर वहां ले गयी और चिकित्‍सकों ने मेरी पत्नी का प्रसव करवाया लेकिन बच्‍चा 4 मिनट से ज्‍यादा जिंदा नहीं रहा और मेरी पत्नि का रक्‍त नहीं रूका. काफी देर बाद चिकित्‍सकों ने जब खून नहीं रूका तो उन्‍होने हमें भीलवाड़ा ले जाने के लिए कहा. हम जब उसे भीलवाड़ा लेकर आये तो चिकित्‍सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. हमारी मांग है कि चिकित्‍सकों और नर्सों के खिलाफ कार्यवाही की जाये. 

सहाड़ा विधायक कैलाश त्रिवेदी का निधन, गुरुग्राम मेदांता अस्पताल में ली अंतिम सांस

सहाड़ा(भीलवाड़ा): भीलवाड़ा की सहाड़ा सीट से कांग्रेस विधायक कैलाश त्रिवेदी का मंगलवार तड़के निधन हो गया. त्रिवेदी का गुड़गांव के एक निजी अस्पताल में उपचार चल रहा था. त्रिवेदी सहाड़ा विधानसभा क्षेत्र से 3 बार विधायक चुने गए थे . विधायक त्रिवेदी पिछले एक माह पहले कोरोना संक्रमित होने के बाद भीलवाड़ा, जयपुर में उपचाररत थे, लेकिन हालात गम्भीर होने पर 5 दिन पूर्व ही एयर एम्बुलेंस से उन्हें गुरुग्राम मेदांता अस्पताल में शिफ्ट करवाया था, लेकिन वहां हालात में किसी तरह का सुधार नही होने पर आज सुबह आठ बजकर 17 मिनिट पर उनके निधन की आधिकारिक घोषणा की गई.

{related}

विधायक त्रिवेदी को राजनीति विरासत में मिली थी. उनका पूरा परिवार पंचायत राज में प्रधान पद पर रह चुका है. पिता के बाद राजनीति की विरासत कैलाश त्रिवेदी ने संभाली और प्रधान बने इसके बाद पहली बार 2003 में विधायक चुनकर विधानसभा पहुंचे. इसके बाद एक बार हारने के अलावा लगातार सहाड़ा की जनता ने उनका समर्थन किया और उनको जिताकर विधानसभा भेजा.  

विधायक त्रिवेदी ने इलाके में विकास कार्यो को नई ऊंचाइयां दी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा सहित अन्य नेताओं ने उनके निधन पर शोक जताया है. मुख्यमंत्री गहलोत ने त्रिवेदी के निधन पर शोक जताते हुए उनके परिवार के प्रति संवेदनाएं जताई हैं. कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा, पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट सहित अन्य नेताओं ने भी त्रिवेदी के निधन पर शोक जताया है.

युवती ने मनचले की बीच सड़क की जमकर पिटाई, VIDEO वायरल

भीलवाड़ा: वस्त्र नगरी भीलवाड़ा में रविवार को सोशल मीडिया पर एक मनचले को सबक सिखाती युवती का वीडियो खूब वायरल हो रहा है. इस वीडियो में युवती के आवेश का आलम यह था कि डेढ़ मिनिट तक मनचले युवक पर लाते व घूंसे चलाती रही. इस दौरान मौके पर जमा तमाशबीन मात्र तमाशा देखते रहे. किसी की भी जरूरत नहीं हुई की घटना का माजरा युवक व युवती समझक बीच-बचाव का प्रयास करें.

{related}

इस मामले में किसी भी पक्ष ने कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई: 
यह वीडियो देखने वाले प्रत्येक व्यक्ति के मन में यही विचार तैर रहा है कि अबला समझी जाने वाली नारी यदि ठीक इसी प्रकार से दुर्गा का रूप धारण करके अपने स्तर पर ही छेड़छाड़ करने वालों का ऐसा ही शानदार इलाज कर दे तो देश के किसी कोने से दुष्कर्म की घटनाएं सुनने को ही नहीं मिलेगी. इस वायरल वीडियो के बारे में जब प्रतापनगर थानाधिकारी भजनलाल से बात की गई तो उन्होंने बताया कि इस मामले में किसी भी पक्ष ने कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई. 

भीलवाड़ा में अंधविश्‍वास के चलते मासूम से अमानवीयता, 2 आरोपी गिरफ्तार

भीलवाड़ा में अंधविश्‍वास के चलते मासूम से अमानवीयता, 2 आरोपी गिरफ्तार

भीलवाड़ा: अंधविश्‍वास में मासूम के साथ अमानवीयता करने वाले दो आरोपियों को भीलवाडा की सिटी कोतवाली थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. पुलिस आरोपियों से पुछताछ कर रही है, जिसमें अन्‍य कई घटनाओं का खुलासा भी हो सकता है. इसके साथ ही पुलिस इनके अन्‍य साथियों की भी तलाश कर रही है.

वीडियो हुआ वायरल, जांच जारी:
सिटी कोतवाली थाना प्रभारी नेमीचन्‍द ने कहा कि शनिवार को एक वीडियो वायरल हुआ था. जिसमें एक बालिका के साथ मारपीट कर उसे प्रताड़ित किया जा रहा था. जिस पर हमने स्‍वयं अनुसंधान लेते हुए जांच शुरू की तो पता चला कि जहाजपुर निवासी मेहबूब कुरैशी व्‍यक्ति है जो यहां पर कच्‍ची बस्‍ती में किराया का घर लेकर रह रहा है.

{related}

मासूम ने लगाया मारपीट का भी आरोप:
यह बाबा अनपढ और भोले-भोले लोगों को झाड-फुंक करके उनसे रुपए ले लेता था. इसने भूत पिशाच निकालने को लेकर उस बालिका के साथ मारपीट की थी. इससे पुछताछ की जा रही है. वहीं पीड़िता ने कहा कि मैं स्‍कुल गई थी तभी से मुझे अजीब-अजीब दिख रहा था। इसके कारण मुझे बाबा के पास ले जाया गया मगर उन्‍होने मेरी गर्दन पर पैर रख, मेरे बाल पकडकर मुझे मारा भी.

VIDEO: मासूम का गला दबाते ढोंगी बाबा का वीडियो वायरल, तलवार लेकर कर रहा तांत्रिक क्रिया

VIDEO: मासूम का गला दबाते ढोंगी बाबा का वीडियो वायरल, तलवार लेकर कर रहा तांत्रिक क्रिया

भीलवाड़ा: जिले के जहाजपुर कस्बे में एक ढोंगी बाबा का वीडियो वायरल हुआ है. जिसमे ये मासूम बच्चों की जिंदगी से खिलवाड़ करता नजर आ रहा है. वीडियो में भूत-प्रेत उतारने के नाम पर बाबा लड़की के गले पर हाथ में तलवार लेकर पैर से दबा रहा है. इस दौरान लड़की दर्द के मारे चिल्ला रही है. साथ ही लड़की के बाल पकड़कर घसीटते हुए कमरे के अंदर ले जाता हुआ दिखाई दे रहा है. 

यह घटना जहाजपुर कस्बे में चमन चौराहे की बताई जा रही है. इसके साथ ही यह वीडियो भी 3 दिन पुराना बताया जा रहा है. वीडियो सामने आने के बाद से आरोपी फकीर महबूब कुरैशी फरार है. चिंताजनक है कि आजादी के सात दशक बाद भी हमारा समाज अंधविश्वास के गर्त से बाहर नहीं निकल पाए हैं. 

{related}

कहने को तो हमारे देश की साक्षरता 74 प्रतिशत है लेकिन इसके विपरीत आए दिन अंधविश्वास के नाम पर घटित होने वाली प्रताड़ना व मारपीट की घटनाएं हमारे देश के खोखले विकास की पोल खोलकर रख देती है. ये अजीब कशमकश है जिसमें हमारा समाज और देश पीसता जा रहा. देखिए पूरा वीडियो...


 

भीलवाड़ा के बिजौलियां में भीषण सड़क हादसा, ट्रेलर-वैन की भिड़ंत में 7 लोगों की मौत

भीलवाड़ा: राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में एक भीषण सड़क हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई है. इस हादसे से आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई है. सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. कहा जा रहा है कि सभी मृतक भीलवाड़ा जिले के ही रहने वाले थे.

मारुति वैन के उड़ गए परखच्चे:
जानकारी के अनुसार घटना भीलवाड़ा के बिजोलिया थाना इलाके की है. बिजोलिया थानाधिकारी विनोद मीणा ने बताया कि भीलवाड़ा- कोटा राजमार्ग पर नया नगर कट के पास एक मारुति वैन की ट्रेलर से टक्कर हो गई. टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि मारुति वैन के परखच्चे उड़ गए. वहीं, वैन में सवार 7 लोगों की मौत हो गई. सभी लोग भीलवाड़ा जिले के ही रहने वाले थे.

{related}

3 लोगों की इलाज के दौरान हुई मौत:
विनोद मीणा अनुसार मारुति वैन और ट्रेलर की टक्कर इतनी भीषण थी कि चार लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबिक 3 लोगों को गंभीर रूप से घायल अवस्था में बिजोलिया अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान सभी की मौत हो गई. 

भीलवाड़ा में टोंक ACB टीम की कार्रवाई, 7500 हजार रुपए की रिश्वत लेते दलाल गिरफ्तार

भीलवाड़ा: प्रदेश के भीलवाड़ा जिले के शाहपुरा तहसील में एक दलाल को टोंक की भ्रष्‍टाचार निरोधक टीम ने साढे 7 हजार रुपए की रिश्‍वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. दलाल ने यह रिश्‍वत परिवादी से प्‍लॉट की रजिस्‍ट्री करवाने के नाम पर ली थी. वहीं तहसीलदार ने रिश्‍वत लेने के आरोप से इनकार किया है.

7 हजार रुपए की रिश्वत की मांग की:
टोंक एसीबी के अतिरिक्‍त पुलिस अधीक्षक विजय सिंह ने कहा कि परिवादी ने कार्यालय में  रिपोर्ट दर्ज करवाई कि शाहपुरा तहसीलदार रामकुमार टाडा का दलाल राजेश शर्मा उससे प्‍लॉट की रजिस्‍ट्री करवाने के नाम पर साढे 7 हजार रुपए की रिश्‍वत मांग रहा है. इस पर शिकायत का सत्‍यापन करवाया गया.

उदयपुर ACB टीम की चित्तौड़गढ़ में बड़ी कार्रवाई, निम्बाहेड़ा में पटवारी विजय 8000 की घूस लेते ट्रैप 

रिश्‍वत लेते रंगे हाथों किया गिरफ्तार:
आज दलाल राजेश ने परिवादी को रिश्‍वत राशि लेकर तहसील कार्यालय में बुलाया. जहां उसके रिश्‍वत के रुपए लेने पर उसे रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया गया. शाहपुरा तहसीलदार रामकुमार टाडा ने कहा कि हमारे यहां सभी फाइलों का कार्य एक साथ किया जाता है और कोई भी काम अलग से नहीं किया जाता है. यह जो रिश्‍वत का आरोप लगाया गया है वह सरासर गलत है.

नहीं रहे प्रसिद्ध शास्त्रीय गायक पंडित जसराज, अमेरिका के न्यू जर्सी में ली 90 वर्ष की उम्र में अंतिम सांस

मोर का शिकार करने के लिए पैंथर ने खुद ही शिकार होकर मौत को लगाया गले

मोर का शिकार करने के लिए पैंथर ने खुद ही शिकार होकर मौत को लगाया गले

सहाड़ा(भीलवाड़ा): गंगापुर उपखंड क्षेत्र की लाखोला ग्राम पंचायत के बघेरा गांव में आज सुबह अजीबोगरीब हादसा देखने को मिला. जहां पर एक शिकारी ने खुद शिकार होकर मौत को गले लगा लिया. ग्रामीणों ने बताया कि बघेरा गांव में खेतों में विचरण कर रहे मोर का शिकार करने के लिए पैंथर ने पीछा किया. मोर उड़कर बिजली के ट्रांसफार्मर पर बैठ गया इसी दौरान पैंथर ने उस पर छलांग लगाई तो करंट से झुलस कर वहीं चिपक गए. बाद में दोनों की मौत हो गई.

VIDEO: आखिर कहां है इस वक्त पायलट कैंप के विधायक? जानकार सूत्रों ने दिए संकेत 

ग्रामीण बड़ी संख्या में मौके पर जुट गए: 
हादसे की जानकारी लगते ही आसपास के ग्रामीण बड़ी संख्या में मौके पर जुट गए. बाद में वन विभाग के रेंजर भगवत सिंह चूंडावत पूरी टीम को लेकर मौके पर पहुंचे और दोनों के शव नीचे उतरवाकर पोस्टमार्टम कराया. वन विभाग के अधिकारियों ने भी करंट से मौत होने की पुष्टि की है. मालूम हो कि गंगापुर उपखंड क्षेत्र के भरक ग्राम पंचायत इलाके में पूर्व में भी पैंथर सहित अन्य वन्य जीवों का मूवमेंट देखा जाता रहा है.