डेविड वार्नर ने किया स्टीव स्मिथ का बचाव, कहा- सभी की फॉर्म में थोड़ी गिरावट स्वीकार की जानी चाहिए

डेविड वार्नर ने किया स्टीव स्मिथ का बचाव, कहा- सभी की फॉर्म में थोड़ी गिरावट स्वीकार की जानी चाहिए

डेविड वार्नर ने किया स्टीव स्मिथ का बचाव, कहा- सभी की फॉर्म में थोड़ी गिरावट स्वीकार की जानी चाहिए

मेलबर्न: डेविड वार्नर का मानना है कि कभी-कभी सभी की फॉर्म में गिरावट को स्वीकार किया जाना चाहिए और स्टीव स्मिथ भी इससे अलग नहीं हैं. वार्नर ने पूर्व कप्तान स्मिथ की भारत के खिलाफ मौजूदा टेस्ट श्रृंखला में फॉर्म में गिरावट को एशेज 2019 में अपनी खराब फॉर्म से जोड़ा.

स्मिथ मौजूदा श्रृंखला में खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं और रविचंद्रन अश्विन ने उन्हें दो जबकि जसप्रीत बुमराह ने एक बार आउट किया है. लेकिन वार्नर का मानना है कि यह स्मिथ के रवैये से अधिक भारत की अच्छी गेंदबाजी से जुड़ा है क्योंकि इस बल्लेबाज ने तैयारी में कोई कमी नहीं छोड़ी है.

सभी की फॉर्म में थोड़ी गिरावट स्वीकार की जानी चाहिए:
वार्नर ने शनिवार को ऑनलाइन प्रेस कांफ्रेंस के दौरान, ‘‘केन विलियमसन ने हाल में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज की रैंकिंग (आईसीसी रैंकिंग) में स्टीव स्मिथ को पछाड़ दिया लेकिन अगर अब भी आप उसका औसत देखो को यह 60 से अधिक है. सभी की फॉर्म में थोड़ी गिरावट स्वीकार की जानी चाहिए और मैंने भी इंग्लैंड (एशेज 2019) में अपने साथ ऐसा देखा.’’

अच्छी गेंद पर कोई भी आउट हो सकता है:
वार्नर का मानना है कि अगर गेंदबाज ने अच्छी गेंद फेंकी है तो उस पर कोई भी आउट हो सकता है. उन्होंने कहा कि किसी दिन अगर किसी गेंद पर आपका नाम लिखा है तो आप कुछ नहीं कर सकते. बायें हाथ के इस सलामी बल्लेबाज ने कहा कि आप देख सकते हैं कि उसकी (स्मिथ) तैयारी में कोई कमी नहीं है क्योंकि वह नेट पर आउट नहीं हो रहा. वह हमेशा कड़ी मेहनत करता है.

विरोधी गेंदबाजों को दबदबा बनाने का मौका दिया:
वार्नर ने महसूस किया है कि भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों टीमों के बल्लेबाजों ने अधिकांश समय विरोधी गेंदबाजों को दबदबा बनाने का मौका दिया. उन्होंने कहा कि अगार आप काफी अच्छे गेंदबाजी आक्रमण को, जो दोनों टीमों के पास है, बिना उन पर दबाव बनाए दबदबा बनाने का मौका दोगे तो फिर रन बनाना मुश्किल हो जाएगा. दोनों टेस्ट में दोनों टीमों के शीर्ष क्रम ने स्वच्छंद होकर नहीं खेला.

आपको जज्बा दिखाना होगा: 
इस बल्लेबाज ने कहा कि आपको जज्बा दिखाना होगा कि आप गेंदबाजों का सामना करने को तैयार हो, उनकी लाइन और लेंथ बिगाड़ो और मैं अपने अनुभव के आधार पर यह कह रहा हूं. वार्नर ने कहा कि पहले दो टेस्ट (जिसमें से आस्ट्रेलिया ने एक जीता) में ऑस्ट्रेलिया ने ‘गेंद को खेलकर तेजी से रन लेना’ जैसी कुछ सामान्य चीजें नहीं की जिससे विरोधी टीम पर दबाव बनाया जा सकता था.

परिवार के साथ समय बिताने का मौका मिला: 
वार्नर ने कई बार जैविक रूप से सुरक्षित माहौल के थकान की बात की है और गलत समय में ग्रोइन की चोट के बावजूद वार्नर इससे अधिक निराश नहीं है क्योंकि उन्हें अपने परिवार के साथ समय बिताने का मौका मिला जिसमें उनके छोटे बच्चे भी शामिल हैं.

यह दुर्भाग्यशाली था कि मैं चोटिल हो गया:
उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यशाली था कि मैं चोटिल हो गया लेकिन मैं हमेशा खाली समय चाहता था. मेरी स्थिति की बात करूं तो तीन बच्चे और पत्नी को काफी समय तक नहीं देखने के कारण इसमें दिमाग लगाने की जरूरत नहीं है कि ब्रेक की जरूरत थी. वार्नर ने कहा कि अगर हम बिग बैश लीग में नहीं खेलेंगे तो हमें श्रृंखला के अंत में कुछ हफ्तों का ब्रेक मिलेगा और फिर जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में जाना होगा.’’ सोर्स- भाषा

और पढ़ें