पानीपत 11 दिन से लापता करनाल के युवक का शव बरामद, पत्नी और दोस्तों पर आरोप

11 दिन से लापता करनाल के युवक का शव बरामद, पत्नी और दोस्तों पर आरोप

11 दिन से लापता करनाल के युवक का शव बरामद, पत्नी और दोस्तों पर आरोप


पानीपत: करनाल के 42 वर्षीय युवक की हत्या करके शव को पानीपत की उरलाना कलां पुलिस चौकी क्षेत्र में फेंक दिया. पहचान मिटाने के लिए चेहरे को तेजाब से जलाया हुआ है. युवक के सिर और गर्दन पर चोट के निशान हैं. युवक 21 फरवरी से लापता था. युवक के चचेरे भाई ने पत्नी और उसके दोस्तों पर हत्या का आरोप लगाया है. करनाल के असंध निवासी राकेश शर्मा ने बताया कि उनका चचेरा भाई 42 वर्षीय सोमनाथ लुधियाना में होजरी के शोरूम पर काम करता था. वह 21 फरवरी की शाम को अचानक घर से लापता हो गया. सोमनाथ की पत्नी नेहा ने उन्हें फोन करके पति के गुम होने की जानकारी दी.

उरलाना कलां पुलिस चौकी के गुरुद्वारे के पास मिला शव:
दो दिन तक ढूंढने के बाद भी सोमनाथ के न मिलने पर उन्होंने असंध थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई. उन्होंने सोशल मीडिया पर सोमनाथ का फोटो डालकर लोगों ने मदद की अपील की. राकेश शर्मा ने बताया कि मंगलवार शाम को पानीपत से एक व्यक्ति की कॉल आई. व्यक्ति ने उरलाना कलां पुलिस चौकी क्षेत्र के गुरुद्वारे के पास शव होने की बात कही. राकेश ने कॉल करने वाले का नंबर असंध थाना पुलिस को दिया. पुलिस ने पानीपत में संपर्क कर शव की शिनाख्त कराई तो वह सोमनाथ का निकला. अब पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंपा है.

 

पत्नी व दोस्तों पर हत्या का आरोप:
राकेश शर्मा ने बताया कि सोमनाथ के 11 व 9 साल के दो बेटे हैं. सोमनाथ और उसकी पत्नी नेहा के बीच अक्सर अनबन रहती थी. पड़ोसी आटा चक्की संचालक तरुण की उसके साथ दोस्ती थी. आरोप है कि पत्नी ने तरुण व अन्यों के साथ मिलकर सोमनाथ की हत्या की है. हालांकि इस मामले में अभी तक किसी प्रकार की आधिकारिक तौर पर गिरफ्तारी नही हुई है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. (सोर्स भाषा)

और पढ़ें