Live News »

55 वर्षीय कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति की मौत, सम्पर्क में आये सभी निकले कोरोना संक्रमित, इलाके में लगाया कर्फ्यू

55 वर्षीय कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति की मौत, सम्पर्क में आये सभी निकले कोरोना संक्रमित, इलाके में लगाया कर्फ्यू

बीकानेर: राजस्थान के बीकानेर जिले के सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के सुनारों की गुवाड़ में रहने वाले 55 वर्षीय कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति की मौत के बाद उसके सम्पर्क में आने वाले पांच लोगों की देर रात्रि को आई रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है. मृतक के दो बेटे,दामाद,पुत्रवधु व एक भतीजा कोरोना पॉजिटिव आए है.

मुंबई से डूंगरपुर पहुंचा कोरोना संक्रमण, 18 नए प्रवासी पाये गए कोरोना संक्रमित, कुल मरीजों की संख्या पहुंची 60

सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के कई इलाकों में कर्फ्यू:
कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के कई इलाकों में कर्फ्यू लगाया गया है. जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग भी मुस्तेद है. कर्फ्यू क्षेत्र में पुलिस के जवान लगातार गश्त कर रहे है ओर लोगो को घरों में रहकर कर्फ्यू की सख्ती से पालना की अपील कर रहे है.

7 कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज जारी:
तो वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा भी लोगो की स्क्रीनिंग भी की जा रही है. जानकारी के अनुसार बीकानेर में अब तक 47 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके है. जिसमे से दो महिलाओं और एक पुरुष समेत तीन की मौत हो चुकी है. 37 मरीज ठीक हो चुके है ओर 7 कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है.

राजस्थान में बनेगा लेबर एम्पलॉयमेंट एक्सचेंज, उद्योगों को श्रमिक और श्रमिकों को मिलेगा रोजगार

और पढ़ें

Most Related Stories

राजस्थान के पूर्व वित्त मंत्री सुराणा का निधन, सीएम गहलोत ने जताया शोक

राजस्थान के पूर्व वित्त मंत्री सुराणा का निधन, सीएम गहलोत ने जताया शोक

बीकानेर: राजस्थान के पूर्व वित्त मंत्री माणिक चंद सुराणा का बुधवार सुबह जयपुर में निधन हो गया। वह 89 वर्ष के थे. उनका अंतिम संस्कार बृहस्पतिवार को बीकानेर में होगा. सुराणा के दो बेटे ओर एक बेटी हैं. उनके पुत्र जितेंद्र सुराणा ने बताया कि वह कुछ समय से बीमार चल रहे थे और बुधवार सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली.

सुराणा ने डूंगर कॉलेज के अध्यक्ष पद पर चुनाव जीतकर अपने राजनीति जीवन की शुरुआत की थी. वह राजस्थान के वित्त मंत्री और वित्त आयोग के अध्यक्ष भी रहे. . और पांच बार विधायक भी. 

{related}

सुराणा ने इसके बाद मूल जनता दल को छोड़ते हुए जनता दल प्रगतिशील का गठन किया. बाद में इस पार्टी का भाजपा में विलय कर दिया गया. उन्होंने बताया कि 1977 से 1980 तक भैरोंसिंह शेखावत के मुख्यमंत्री काल में सुराणा राजस्थान के वित्त मंत्री रहे थे.राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, विधानसभा अध्यक्ष सी पी जोशी, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित कई नेताओं ने सुराणा के निधन पर शोक जताते हुए शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है.

VIDEO: बीकानेर में ACB की बड़ी कार्रवाई, नोखा थाने का उप निरीक्षक 8 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार

बीकानेर: एक्शन में आयी एसीबी टीम ने आज बीकानेर में बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है. एसीबी की टीम ने जिले के नोखा थाने के उप निरीक्षक हनुमाना राम विश्नोई को रंगे हाथों रिश्वत लेते दबोचा है. टीम ने डीजी बी.एल. सोनी के निर्देशों पर कार्रवाई करते हुए एसआई हनुमाना राम विश्रोई को हजार की रिश्वत लेते हुए ट्रैप किया गया हैं. 

{related}

मिली जानकारी के अनुसार एसआई ने किसी मामले में परिवादी की मां व बहन का नाम हटवाने की एवज में एक लाख रूपए व सत्यापन के समय पन्द्रह हजार की मांग की थी. उसके बाद प्रार्थी के निवेदन पर 9 हजार की रिश्वत के लिए सहमत हुआ ओर आज 8 हजार की रिश्वत लेते समय ट्रैप किया गया. कार्रवाई के दौरान टीम के एडिशनल एसपी रजनीश पूनिया और डीएसपी शिवरतन मौके पर कार्रवाई में शामिल रहें. 
 

रुपयों के लेनदेन को लेकर बीकानेर में JCB से कुचलकर युवक की हत्या

रुपयों के लेनदेन को लेकर बीकानेर में JCB से कुचलकर युवक की हत्या

बीकानेर: जिले के गंगाशहर थाना क्षेत्र में रुपयों के लेनदेन को लेकर जेसीबी से कुचल कर युवक की हत्या का मामला सामने आया है. घटना देर रात को हुई. जानकारी के अनुसार उदयरामसर निवासी युवक नितिन यादव आरोपी सोनू यादव से शिव मंदिर की रोही में पैसे मांगने गया था. इसी दौरान आपसी कहासुनी के बाद आरोपी ने नितिन पर जेसीबी चढ़ा दी.

घटना के बाद आरोपी मौके से फरार: 
जेसीबी से हुए इस हमले में जेसीबी के आगे का लोडर नितिन के सिर के ऊपर से निकल गया और उसका सर पूरी तरह चकनाचूर हो गया. घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया. घायल नितिन को गंभीर हालत में PBM के ट्रोमा सेंटर में लाया गया जंहा पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. 

{related}

मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश जारी:
मामले की सूचना पर गंगाशहर थानाधिकारी महेंद्र दत्त मौके पर पहुंचे और मृतक के शव को मोर्चरी में रखवाया. फिलहाल पुलिस ने मृतक युवक का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया है ओर मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश की जा रही है. 

VIDEO: सावधान आप वर्षा ऋतु पर तो कुछ नहीं खा रहे है ना! CMHO की कार्रवाई में आया सच सामने

बीकानेर: शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत बीकानेर में मिलावटखोरों का सच सामने आ रहा है कल जहां एक नमकीन फैक्ट्री की हकीकत सामने आई थी वही आज बीकानेर के बड़े ब्रांड वर्षा ऋतु की हालत सामने आ गई है. 

केक की हालत भी ऐसी ही खराब:
सड़ी गली सब्जियों, पुराना पनीर और खराब केक देखकर ही मन उकता जाए. सीएमएचओ डॉ बीएल मीणा ने कार्रवाई के दौरान जमकर डांट लगाई मालिक से जवाब देते नहीं बन पा रहा था. ये सड़ी गली सब्जियां ही पैटीज में डालकर धड़ल्ले से बेची जा रही थी.

{related}

सड़ी गली सब्जियां, पुराना पनीर हो रहा था उपयोग
-आखिर क्यों चंद रुपयों के खातिर करते है ऐसा खिलवाड़
-कोरोना महामारी में ऐसा लालच फैलाता है बीमारी
-लेकिन क्या सैम्पलिंग के बाद ऐसे लोगो को मिलेगी सजा?
-या महज खानापूर्ति कर हो जाएगी इतिश्री

पोल खुलते वर्षा ऋतु का मालिक हाथ जोड़ने लगा. मीडिया की उपस्थिति में CMHO हालांकि कड़क दिखे. संवाददाता लक्ष्मण राघव ने लिया मौके का जायजा....

एक्शन में आई एसीबी, प्रदेश में ताबड़तोड़ कार्रवाईयां करते हुए छह लोगों को रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

जयपुर/चूरू/करौलीः गुरुवार को एक्शन में आई भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने प्रदेश में ताबड़तोड़ कार्रवाईयां करते हुए छह लोगों को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है. एसीबी डीजी बीएल सोनी और एडीजी एमएन दिनेश के निर्देशन में कार्रवाई करते हुए जयपुर, चूरू और करौली में छह लोगों को रिश्वत लेने के आरोप में  गिरफ्तार किया है.

50 हजार घूस लेते एनएचएआई के दो अधिकारियों को किया गिरफ्तारः
जानकारी के अनुसार जयपुर एसीबी की टीम ने गुरुवार को कार्रवाई करते हुए एनएचएआई के दो घूसखोरों अधिकारियों को 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है. एसीबी ने बताया कि रिश्वत लेते एनएचएआई के एईएन धानसिंह मीणा और टीओ एसआर वर्मा को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि बीकानेर निवासी परिवादी ने एसीबी में शिकायत दी कि उसके पत्नी के नाम पर पेट्रोल पम्प अलॉट हुआ था, जिसकी फाईल पिछले करीब दो हफ्ते से अटकाए हुए थे,  इसी पेट्रोल पम्प के लिए भूमि अलॉटमेंट के एवज में उन्होंने घूस की मांग की थी. एसीबी ने परिवादी की शिकायत के सत्यपान के बाद ट्रैप की कार्रवाई करते हुए  गुरुवार को रिश्वत के 50 हजार रुपए लेते हुए दोनों को धर-दबोचा. एसीबी आरोपियाें से पूछताछ में जुटी है.

सीजीएसटी के दो अधिकारियों को 40 हजार लेते दबोचाः
उधर जयपुर में ही एसीबी टीम ने गुरुवार दोपहर कार्रवाई करते हुए स्टेच्यू सर्किल स्थित केन्द्रीय कस्टम के ऑफिस में सीजीएसटी सुप्रिटेंडेंट और इंस्पेक्टर को  40 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है. परिवादी ने सीजीएसटी के नोटिस की कार्रवाई को फाईल करने की एवज में  रिश्वत मांगने की शिकायत की थी. शिकायत के सत्यापन के बाद एसीबी एएसपी नरोत्तम वर्मा ने कार्रवाई को अंजाम देते हुए सीजीएसटी सुप्रिटेंडेंट और इस्पेंक्टर को  40 हजार रुपए लेते की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया.

करौली में हैड कांस्टेबल 15 हजार की घूस लेते गिरफ्तारः
उधर करौली जिले के मंडरायल थाने में कार्रवाई करते हुए एसीबी ने हैड कांस्टेबल को 15 हजार की घूस लेते गिरफ्तार किया है.जानकारी के अनुसार आरोपी ने एक मुकदमे से जुड़े मामले में परिवादी से रिश्वत की मांग की थी. शिकायत के सत्यापन के बाद डीएसपी अमर सिंह ने कार्रवाई करते हुए हैड कांस्टेबल श्रीकिशन को 15 हजार रुपए की घूस लेते दबोचा है. एसीबी टीम आरोपी से पूछताछ में जुटी है.

चूरू और बीकानेर एसीबी ने संयुक्त कार्रवाई, पारिवारिक न्यायालय के जज के ड्राईवर को 40 हजार की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार
वहीं डीजी बीएल सोनी और एडीजी एमएन दिनेश के निर्देश पर चूरू-बीकानेर  एसीबी की टीमों ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए पारिवारिक न्यायालय के जज के ड्राईवर को गिरफ्तार किया है. चूरू और बीकानेर एसीबी ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए पारिवारिक न्यायालय के जज के ड्राईवर भगवती सैनी को 40 हजार की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार किया है.

हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा, एनसीसी, स्काउट-गाइड ने निकाली जागरूकता रैली

हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा, एनसीसी, स्काउट-गाइड ने निकाली जागरूकता रैली

बीकानेर: हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा अभियान के तहत सोमवार को एनसीसी, स्काउट एवं गाइड द्वारा जागरुकता रैली निकाली गई. खाजूवाला विधायक गोविंद राम मेघवाल एवं जिला कलक्टर नमित मेहता ने गांधी पार्क से हरी झंडी दिखाकर इसे रवाना किया. इस दौरान मेघवाल ने कहा कि कोरोना के विरूद्ध जागरुकता की दिशा में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रदेश भर में उल्लेखनीय कार्य हुए हैं.

मुख्यमंत्री द्वारा संकट के इस दौर में प्रत्येक वर्ग के लोगों से सतत संवाद और बैठकें करते हुए, राहत के महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं. ऐसे प्रयासों की बदौलत प्रदेश कोरोना पर जीत की ओर अग्रसर हुआ है. उन्होंने कहा कि हमें इस जज्बे को बनाए रखना है तथा यह सुनिश्चित करना है कि प्रत्येक व्यक्ति कोरोना एडवाइजरी की पालना करें. वहीं कलक्टर मेहता ने कहा कि हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा अभियान के माध्यम से अब तक लाखों लोगों तक कोरोना एडवाइजरी की पालना का संदेश पहुंचा दिया गया है.

{related}

अभियान के तहत गांव-गांव में कार्यक्रम हुए हैं. उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक जागरुक हो और  कोरोना योद्धा की भांति इन परिस्थितियों का पूरी सावधानी से मुकाबला करें. उन्होंने बताया कि अभियान से अब पचास से अधिक स्वयंसेवी संस्थाएं जुड़ चुकी हैं. जागरुकता की यह गतिविधियां सतत रूप से संचालित की जाती रहेंगी.

बीकानेर में अपराधों का ग्राफ निरंतर बढ़ रहा, पार्टियां अपनी फिक्र कर रही जनता की नहीं - देवी सिंह भाटी

बीकानेर में अपराधों का ग्राफ निरंतर बढ़ रहा, पार्टियां अपनी फिक्र कर रही जनता की नहीं - देवी सिंह भाटी

बीकानेर: जिले में बढ़ रहे अपराधों को लेकर पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बीकानेर में अपराधों का ग्राफ निरंतर बढ़ रहा है साथ ही सट्टे की प्रवृत्ति भी बढ़ी है ऐसे में जरूरी है कि समाज खुद चौकस रहे. पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े हो रहे है. अपराधी पुलिस अधिकारियों को धमका रहे हैं.

{related}

पार्टियां अपनी फिक्र कर रही है जनता की नहीं: 
भाटी ने कहा मोहल्ला समितियों के माध्यम से सुरक्षा व्यवस्था पर फोकस करने का प्रयास करेंगे. भाजपा में वापस जाने या कांग्रेस जॉइन करने के सवाल पर भाटी ने कहा कि पार्टियां अपनी फिक्र कर रही है जनता की नहीं. संवाददाता लक्ष्मण राघव ने की पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी ने की खास बातचीत...
 

बीकानेर का PBM अस्पताल बना 'हंगामा हॉस्पिटल', महिला की मौत पर परिजनों और डॉक्टर के बीच हुई हाथापाई

बीकानेर: जिले का PBM अस्पताल 'हंगामा हॉस्पिटल' बन गया है. अस्पताल के J वार्ड में मरीज के परिजनों और डॉक्टर के बीच हाथापाई होने का मामला सामने आया है. मरीज के परिजनों ने डॉक्टर पर उपचार में लापरवाही का आरोप लगाया है. वहीं हाथापाई से नाराज रेजिडेंट्स ने कार्य बहिष्कार किया है. डॉक्टर्स ने नाराजगी जताते हुए कहा कि हम पिटने के लिए नहीं है. इधर, परिजन भी महिला की मौत से आक्रोशित है. उन्होंने इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है. 

{related}

हंगामें की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची. बताया जा रहा है कि चिकित्सकों का आरोप है कि मरीज के परिजन ने ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को थपड़ मार दिया. जिसके बाद चिकित्सक इक्कठे होकर पीबीएम अधीक्षक के कार्यालय के सामने एकत्रित होकर घटना का विरोध कर रहे हैं. बता दें कि इससे पहले भी शुक्रवार को इस तरह का विवाद PBM अस्पताल में देखने को मिला था. जहां मरीज की मौत के बाद वहां के चिकित्सकों व मृतक के परिजनों में कहासुनी हुई हो गई थी.