अलवर में आग से मासूम की मौत मामले में निलंबित कर्मचारियों को बहाल करने की मांग

अलवर में आग से मासूम की मौत मामले में निलंबित कर्मचारियों को बहाल करने की मांग

अलवर में आग से मासूम की मौत मामले में निलंबित कर्मचारियों को बहाल करने की मांग

अलवर: अलवर में शिशु अस्पताल के एफबीएनसी वार्ड में आग लगने से झुलसी बच्ची और जयपुर में इलाज के दौरान हुई मौत के बाद सरकार ने कड़ा एक्शन लेते हुए 2 चिकित्सक और 3 स्टाफ को निलंबित किया और 2 संविदा कर्मियों को बर्खास्त कर दिया. जिसके बाद संगठन की राजनीति शुरू हो गई है. सेवारत चिकित्सक संघ ने विरोध प्रदर्शन की बात कही है. 

अलवर अस्पताल में आग से मासूम की मौत मामले में बड़ा एक्शन, दोषी छह कार्मिक निलंबित 

कर्मचारियों को बहाल करने की मांग:
सेवारत चिकित्सक संघ ने कल से अस्पताल में 2 घंटे का बंद रखने और काली पट्टी बांधकर इमरजेंसी सेवाएं देने की बात कहते हुए कार्यकारी पीएमओ को ज्ञापन सौंपा है. वहीं राजस्थान नर्सिंग एसोसिएशन की ओर से भी ज्ञापन सौंपकर कार्य बहिष्कार की चेतावनी दी गई है और आनन-फानन में लिया गया निर्णय बताते हुए निलंबित किए गए कर्मचारियों को बहाल करने की मांग की है. साथ ही कहा है कि सरकार ऐसा नहीं करती है तो प्रदेश स्तर पर आंदोलन किया जाएगा. निलंबित की गई नर्स ग्रेड प्रथम शारदा शर्मा ने तो स्टाफ को 26 जनवरी पर सम्मानित करने की मांग की है. 

... अलवर से अश्विनी यादव की रिपोर्ट 

और पढ़ें