नई दिल्ली प्रकाश पर्व समारोह के लिए लाल किले की सुरक्षा में करीब एक हजार सुरक्षा कर्मियों की तैनाती

प्रकाश पर्व समारोह के लिए लाल किले की सुरक्षा में करीब एक हजार सुरक्षा कर्मियों की तैनाती

प्रकाश पर्व समारोह के लिए लाल किले की सुरक्षा में करीब एक हजार सुरक्षा कर्मियों की तैनाती

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को लाल किले से सिख गुरु, गुरु तेगबहादुर के 400वें प्रकाश पर्व पर राष्ट्र को संबोधित करेंगे और इसके लिए आयोजन स्थल पर दिल्ली पुलिस सहित विभिन्न एजेंसियों के करीब एक हजार जवानों को बहुस्तरीय सुरक्षा में तैनात किया गया है. अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि करीब 100 सीसीटीवी कैमरे लाल किला परिसर में लगाए गए हैं. उल्लेखनीय है कि मोदी इस अवसर पर स्मारक सिक्का और डाक टिकट जारी करेंगे. 

अधिकारियों ने बताया कि एनएसजी निशानेबजों, स्वाट कमांडो, काइट हंटर, श्वान दस्तों और ऊंची इमारतों पर शार्प शूटरों का सुरक्षा घेरा बनाया गया है. उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर सामाजिक दूरी के नियमों का अनुपालन कराया जाएगा. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘‘हमने पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की है और विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों से समन्वय कर रहे हैं ताकि आयोजन स्थल की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके जिनमें विध्वंस रोधी मंच की व्यवस्था शामिल हैं. उन्होंने बताया कि ऐतिहासिक स्मारक की कई चरणों में सुरक्षा की व्यवस्था की गई है जैसा कि स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर होता है. अधिकारी ने बताया कि जहांगीरपुरी में हिंसा की घटना के बाद तनाव की स्थिति को देखते हुए हम अधिक सतर्क हैं. उन्होंने बताया कि सीसीटीवी कैमरों से पुलिस नियंत्रण कक्ष में पूरे दिन इलाके की निगरानी की जाएगी.  अधिकारियों ने बताया के केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की तैनाती पहले ही उत्तरी दिल्ली के संवेदनशील इलाकों चांदनी महल, हौज काजी और बाजार में एहतियातन कर दी गई है ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि कोई अवांछित गतिविधि न हो. 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि बल की महिला स्वाट टीम हमेशा पीसीआर के साथ सुरक्षा टीम का हिस्सा होती है.’’उन्होंने बताया कि निर्धारित कार्यक्रम के तहत इनाके की गहन तलाशी के लिए प्रखर वैन की भी तैनाती की गई है.’’ केंद्रीय संस्कृति और पर्यटन मंत्रालय के मुताबिक इस अवसर पर 400 रागी ‘‘ शब्द कीर्तन’’ करेंगे. यह कार्यक्रम मंत्रालय, दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमिटी के समन्वय से कर रहा है. इस आयोजन में कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों, देश और दुनिया से कई गण मान्य लोग शामिल होंगे. उल्लेखनीय है कि गुरु तेग बहादुर के 400वें प्रकाश पर्व कार्यक्रम का आयोजन आजादी का अमृत महोत्सव समारोह के तहत आयोजित किया जा रहा है. सोर्स- भाषा

और पढ़ें