Live News »

प्रदेश में सड़कों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए डिप्टी सीएम पायलट ने ली अहम बैठक 
प्रदेश में सड़कों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए डिप्टी सीएम पायलट ने ली अहम बैठक 

जयपुर: उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने प्रदेश में सड़कों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को बहुस्तरीय उपाय अपनाने के निर्देश दिए हैं. पायलट ने गुणवत्ता मापदण्डों में लापरवाही बरतने वाली फर्मों को चिन्हित करने और गुणवत्ता के लिए उपलब्ध फण्ड का समुचित उपयोग करने के निर्देश दिए हैं. 

विषेष निगरानी के निर्देश:
सड़कों की गुणवत्ता के सम्बंध में पायलट ने एक बैठक भी ली, जिसमें विभागीय अधिकारियों से सड़क निर्माण में गुणवत्ता को बेहतर करने पर चर्चा की. उप मुख्यमंत्री ने कहा है कि मानसून के बाद राज्यभर में क्षतिग्रस्त सड़कों के जो मरम्मत कार्य किए जाने हैं, उनमें मरम्मत की गुणवत्ता पर पूरा ध्यान दिया जाए. उन्होंने कहा कि दूर-दराज स्थित सड़कों की मरम्मत की विषेष निगरानी की जाए ताकि गुणवत्ता को लेकर किसी भी स्तर पर लापरवाही ना हो. 

लापरवाही करने वाली फर्मों को लेकर निर्देश:
उप मुख्यमंत्री ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के कार्यों में गुणवत्ता संबंधी लापरवाही करने वाली फर्मों को लेकर निर्देश दिए कि जो एजेंसियां विभाग के कार्यों में गुणवत्ता सम्बन्धी लापरवाही बरतती हैं उन्हें चिन्हित किया जाए. जरूरत होने पर ऐसी एजेंसियों को अयोग्यता सूची में डालने से लेकर उन्हें प्रतिबंधित करने तक की कार्रवाई की जाए. उन्होंने कहा कि इसके लिए दिषा-निर्देषों की समीक्षा करते हुए यह सुनिष्चित किया जाए कि ऐसी एजेंसियां टेंडर प्रक्रिया में ही भाग नहीं ले सकें. पायलट ने कहा कि गुणवत्ता जांच के लिए विभाग के पास जो भी संसाधन, लैब, उपकरण और फण्ड उपलब्ध हैं, उनका समुचित उपयोग हो. 

कुल राशि का एक प्रतिशत गुणवत्ता जांच के लिए निर्धारित:
उन्होंने कहा कि सड़क विकास की सभी बड़ी परियोजनाओं में कुल राशि का एक प्रतिशत हिस्सा गुणवत्ता जांच के लिए निर्धारित है, जिसका पूरा उपयोग किया जा रहा है. वहीं गुणवत्ता जांच के लिए विभाग की सभी गुण नियंत्रण शालाओं में आधुनिक उपकरणों की समुचित व्यवस्था हो. साथ ही तकनीकी मानव संसाधन पर्याप्त संख्या में उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में इंजीनियरिंग ग्रेजुएट आउटसोर्स किए जाएं. इस अवसर पर सार्वजनिक निर्माण विभाग के सचिव, मुख्य अभियंता एवं अतिरिक्त सचिव, मुख्य अभियंता (गुण नियंत्रण) एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे. 

... संवाददाता निर्मल तिवारी की रिपोर्ट  

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in